बनारस पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ ने संकट मोचन मंदिर में टेका मत्था

बनारस पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ ने संकट मोचन मंदिर में टेका मत्था
CM Yogi Adityanath

Devesh Singh | Updated: 18 Apr 2019, 12:03:53 PM (IST) Varanasi, Varanasi, Uttar Pradesh, India

चुनाव आयोग से 72 घंटे का लगाया है प्रतिबंध, पीएम नरेन्द्र मोदी के लिए प्रस्तावक पर लगा सकते हैं अंतिम मुहर

वाराणसी. चुनाव आयोग द्वारा विवादित बयान देने पर लगाये गये प्रतिबंध के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ गुरुवार को बनारस पहुंचे हैं। बीएचयू में मुख्यमंत्री का हेलीकॉप्टर उतरा है और फिर सड़क मार्ग से संकट मोचन मंदिर जाकर दर्शन किया है। सीएम योगी का यह दौरा पीएम नरेन्द्र मोदी के नामांकन को लेकर बेहद खास माना जा रहा है।
यह भी पढ़े:-ओमप्रकाश राजभर ने सपा नेता को बना दिया लोकसभा चुनाव का उम्मीदवार, प्रत्याशी ने किया चुनाव लडऩे से इंकार

सीएम योगी आदित्यनाथ ने बजरंग बली और अली को लेकर विवादित बयान दिया था जिसके बाद से चुनाव आयोग ने मुख्यमंत्री के बयान देने, रैली करने पर 72 घंटे का बैन लगा दिया था इसके बाद से सीएम योगी लगातार मंदिरों में दर्शन कर रहे हैं। इसी क्रम में बनारस आने के बाद सीधे संकट मोचन मंदिर में जाकर दर्शन किया है। इसके बाद रामकृष्ण मिशन, गढ़वा घाट भी जाने की संभावना है। बीजेपी सूत्रों की माने तो सीएम योगी आदित्यनाथ इस दौरे में पीएम नरेन्द्र मोदी के 26 अप्रैल को होने वाले नामांकन के लिए प्रस्तावक तय कर सकते हैं। बीजेपी चाहती है कि पीएम मोदी के प्रस्ताव ऐसे लोगों को मनाया जाये। इससे सभी वर्ग में सकारात्मक संदेश जाये। प्रस्तावक को लेकर सीएम योगी खुद खास लोगों से वार्ता कर सकते हैं।
यह भी पढ़े:-सुभासपा के प्रत्याशी उतारने से बैकफुट पर बीजेपी, ओमप्रकाश राजभर के लिए किया बड़ा ऐलान

25 को रोड शो और 26 अप्रैल को पीएम नरेन्द्र मोदी का होगा नामांकन
बीजेपी ने पीएम नरेन्द्र मोदी को फिर से वाराणसी संसदीय सीट से लोकसभा चुनाव २०१९ के लिए प्रत्याशी बनाया है। बीजेपी चाहती है कि पीएम नरेन्द्र मोदी इस सीट से रिकॉर्ड मतों से जीते। इसके लिए पीएम नरेन्द्र मोदी के नामांकन को खास बनाने की तैयारी चल रही है। नामांकन में लघु भारत को दिखाने के लिए सभी धर्म व जाति के लोगों को शामिल करने की तैयारी है। बनारस में बीजेपी ने ही सबसे पहले प्रत्याशी के नाम का ऐलान किया था जबकि राहुल गांधी व प्रियंका गांधी की कांग्रेस के साथ अखिलेश यादव व मायावती के महागठबंधन इस सीट पर प्रत्याशी नहीं खोज पा रहे हैं।
यह भी पढ़े:-पीएम नरेन्द्र मोदी के खिलाफ चुनाव नहीं लड़ेंगे चन्द्रशेखर, इस दल के समर्थन का किया ऐलान

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned