scriptPM Modi speaks at launch of Infrastructure for Resilient Island States | पीएम मोदी ने कहा जलवायु परिवर्तन से कोई देश अछूता नहीं, IRIS की लॉन्चिंग को बताया महत्वपूर्ण | Patrika News

पीएम मोदी ने कहा जलवायु परिवर्तन से कोई देश अछूता नहीं, IRIS की लॉन्चिंग को बताया महत्वपूर्ण

पीएम नरेंद्र मोदी ने 'इंफ्रास्ट्रक्चर फॉर रिसाइलेंट आईलैंड स्टेट्स' के लॉन्च के अवसर पर इसके महत्व के बारे में संबोधित करने के साथ ही यह भी बताया की जलवायु परिवर्तन से कोई भी देश अछूता नहीं रहा है। साथ ही उन्होंने इस मुद्दे पर ध्यान देने पर भी ज़ोर दिया।

नई दिल्ली

Published: November 02, 2021 05:11:41 pm

नई दिल्ली। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस समय स्कॉटलैंड के ग्लासगो में जलवायु परिवर्तन के विषय पर चल रहे COP26 सम्मेलन में शामिल होने गए है। आज इस सम्मेलन के दुसरे दिन पीएम मोदी ने जलवायु परिवर्तन के मुद्दे पर संबोधित करते हुए बताया कि दुनिया का कोई भी देश जलवायु परिवर्तन से अछूता नहीं रहा है। पीएम मोदी ने इस मुद्दे को छोटे देशों के साथ- विकसित देशों के लिए भी खतरनाक बताते हुए विकसित देशों को चेताते हुए इस मुद्दे पर ध्यान देने को कहा है। इस अवसर पर 'इंफ्रास्ट्रक्चर फॉर रिसाइलेंट आईलैंड स्टेट्स' भी लॉन्च किया गया'इंफ्रास्ट्रक्चर फॉर रिसाइलेंट आईलैंड स्टेट्स' पीएम मोदी का संबोधन उनके ओफ़फिशिअल ट्विटर अकाउंट पर भी स्ट्रीम किया गया।
screenshot_2021-11-02_imgonline-com-ua-resize-ud63ejjg.png
PM Modi speaks at launch of 'Infrastructure for Resilient Island States' initiative
जलवायु परिवर्तन से सब से ज़्यादा खतरा स्मॉल आईलैंड डेवलपिंग स्टेट्स को

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि जलवायु परिवर्तन से सबसे ज़्यादा खतरा स्मॉल आईलैंड डेवलपिंग स्टेट्स (SIDS) को है। पीएम मोदी ने कहा कि छोटे विकासशील आईलैंड देशों के लिए जलवायु परिवर्तन का मुद्दा जीवन और मृत्यु का मामला है। यह मुद्दा उनके अस्तित्व के लिए एक खतरा और चुनौती है। पीएम मोदी ने आगे कहा कि जलवायु परिवर्तन की वजह से घटित होने वाली आपदाएं छोटे विकासशील आईलैंड देशों में तबाही ला सकती है। ऐसे में यह मुद्दा इन देशों में जीवन के साथ-साथ अर्थव्यवस्था के लिए भी एक बड़ी चुनौती है।
यह भी पढ़ें

पीएम मोदी ने जी-20 सम्मेलन में दिए 3 मंत्र, भारत की ओर से योगदान का भी दिया आश्वासन

'इंफ्रास्ट्रक्चर फॉर रिसाइलेंट आईलैंड स्टेट्स' की लॉन्चिंग को बताया महत्वपूर्ण

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में 'इंफ्रास्ट्रक्चर फॉर रिसाइलेंट आईलैंड स्टेट्स' (IRIS) की लॉन्चिंग पर बधाई देते हुए इसे महत्वपूर्ण बताया। पीएम मोदी ने कहा कि कहा कि IRIS छोटे और कमज़ोर देशों की मदद करने का एक प्रयास है और यह संतोष प्रदान करता है। पीएम मोदी ने इसके लिए कोएलिशन फॉर डिजास्टर रेजिस्टेंस इंफ्रास्ट्रक्चर को बधाई दी। साथ ही उन्होंने ऑस्ट्रेलिया और यूके समेत सभी सहयोगी देशों और खास तौर पर मॉरीशस और जमैका समेत छोटे द्वीप समूहों के नेताओं का स्वागत उन्हें धन्यवाद दिया। पीएम मोदी ने बताया कि IRIS की मदद से स्मॉल आईलैंड डेवलपिंग स्टेट्स को प्रौद्योगिकी, वित्तिय मदद, जरूरी जानकारी तेजी से जुटाने में आसानी होगी। साथ ही इन देशों में बेहतरीन इंफ्रास्ट्रक्चर की सुविधा को प्रोत्साहन मिलने से वहां जीवन और आजीविका के स्तर में भी सुधार का फायदा मिलेगा।
screenshot_2021-11-02_imgonline-com-ua-resize-tv8ylzwk.png
यह भी पढ़ें

"पीएम नरेंद्र मोदी है 24 कैरेट खरा सोना" - राजनाथ सिंह

इसरो के नए प्रोजेक्ट की दी जानकारी

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में भारत की स्पेस एजेंसी इसरो (ISRO) के नए प्रोजेक्ट जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इसरो स्मॉल आईलैंड डेवलपिंग स्टेट्स (SIDS) के देशों के लिए एक स्पेशल डेटा विंडो का निर्माण करेगी। इस स्पेशल डेटा विंडो की मदद से स्मॉल आईलैंड डेवलपिंग स्टेट्स के देशों को सैटेलाइट सुविधा की मदद से सायक्लोन, कोरल-रीफ मॉनीटरिंग, कोस्ट-लाइन मॉनीटरिंग आदि खतरों और आपदाओं के बारे में समय रहते जानकारी मिलती रहेगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%घर खरीदारों को बड़ा झटका, साल 2022 में 30% बढ़ेंगे मकान-फ्लैट के दाम, जानिए क्या है वजहकर्नाटक में कोरोना की रफ्तार तेज, 47  हजार से अधिक नए मामलेरामगढ़ पचवारा में बरसे टिकैत, कहा किसानों की जमीन को छीनने नहीं दिया जाएगाप्रदेश के डेढ़ दर्जन जिलों में रेत का अवैध परिवहन जारी, सरकार को करोड़ों का नुकसान
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.