script इज़रायल और हमास के बीच युद्ध विराम को 2 दिन के लिए बढ़ाया गया | Truce between Israel and Hamas has been extended for two more days | Patrika News

इज़रायल और हमास के बीच युद्ध विराम को 2 दिन के लिए बढ़ाया गया

locationनई दिल्लीPublished: Nov 28, 2023 09:31:08 am

Submitted by:

Tanay Mishra

Israel-Hamas War: गाज़ा में इज़रायल और हमास के बीच चल रहे 4 दिवसीय युद्ध विराम का कल आखिरी दिन था और उस लिहाज से युद्ध विराम आज खत्म हो जाने वाला था। पर अब ऐसा नहीं होगा। क्या है इसकी वजह? आइए जानते हैं।

gaza_people.jpg
Palestinians

इज़रायल (Israel) और फिलिस्तीनी आतंकी संगठन हमास (Hamas) के बीच 7 अक्टूबर को शुरू हुए युद्ध पर दोनों पक्षों ने आपसी समझौता करते हुए 24 नवंबर से 4 दिवसीय विराम लगा दिया। इज़रायली सरकार ने भी इस फैसले को ग्रीन सिग्नल दिया था। युद्ध विराम के बाद गाज़ा (Gaza) में पूरी तरह से सीज़फायर लग गया और इसका पालन दोनों पक्षों की तरफ से किया गया। साथ ही इस दौरान हमास की तरफ से बंधकों की रिहाई और इज़रायल की तरफ से फिलिस्तीनी कैदियों की रिहाई भी हुई। पर 4 दिवसीय इस युद्ध विराम का कल, सोमवार को आखिरी दिन था और आज, मंगलवार, 28 नवंबर से यह खत्म होने वाला था। पर फिलहाल यह युद्ध विराम खत्म नहीं होगा क्योंकि इसे बढ़ाने का फैसला लिया गया है।


2 दिन के लिए बढ़ाया गया युद्ध विराम

गाज़ा में चल रहे युद्ध विराम को 2 दिन के लिए बढ़ाने का फैसला लिया गया है। इज़रायल और हमास दोनों ही इसके लिए सहमत हो गए। कतर (Qatar) ने भी इसमें अहम भूमिका निभाई और युद्ध विराम को 2 दिन बढ़ाए जाने की जानकारी सबसे पहले कतर के विदेश मंत्रालय की तरफ से ही दी गई।


युद्ध विराम से गाज़ावासियों को मिली राहत

एक महीने से भी लंबे समय से चल रहे युद्ध की वजह से गाजवासियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। ऐसे में कुछ दिन के युद्ध विराम की वजह से गाज़ावासियों को कुछ समय के लिए ही सही, पर राहत मिली।

क्या हो सकती है युद्ध विराम को बढ़ाने की वजह?

हमास की तरफ से पहले ही युद्ध विराम को बढ़ाए जाने की इच्छा जताई गई थी। पर इज़रायल ने पहले ही साफ कर दिया था कि 4 दिवसीय युद्ध विराम के खत्म होने के बाद युद्ध फिर से शुरू होगा। पर अब इज़रायल ने भी युद्ध विराम को 2 और दिन बढ़ाने के लिए सहमति दे दी है। इसकी वजह बंधकों की रिहाई हो सकती है क्योंकि युद्ध विराम के दौरान इज़रायली बंधकों के साथ ही दूसरे देशों के भी कई बंधकों की रिहाई संभव हुई।

ट्रेंडिंग वीडियो