22 साल की नौकरी में प्रबंधक बना करोड़पति, आय से 100 गुना ज्यादा संपत्ति मिली

लोकायुक्त उज्जैन ने मारा छापा, 9 घंटे चली कार्रवाई, अल सुबह पहुंची लोकायुक्त की टीम ने परिवार को नींद से जगाया..

By: Shailendra Sharma

Published: 05 Mar 2021, 08:59 PM IST

आगर मालवा. नलखेड़ा विकासखंड के ग्राम दमदम में स्थित सहकारी सोसायटी के प्रभारी प्रबंधक के रूप में पदस्थ रमेशचंद्र जायसवाल के विरूद्ध आय से अधिक सम्पत्ति अर्जित किए जाने के मामले में शिकायत मिलने पर लोकायुक्त पुलिस उज्जैन ने शुक्रवार अल सुबह छापामार कार्रवाई की गई जिसमें आय से अधिक करोड़ो की संपत्ति निकली। वर्ष 1999 में महज 360 रूपए प्रतिमाह वेतन पर सहकारी सोसायटी में सेल्समैन के रूप में पदस्थ हुए जायसवाल को वर्तमान में करीब 20 हजार रूपए प्रतिमाह वेतन मिलता है। 22 वर्षो में जायसवाल ने वेतन से 100 गुना अधिक सम्पत्ति अर्जित कर ली। इस बात का खुलासा लोकायुक्त की कार्रवाई में हुआ है।

 

पहले नींद से उठाया, फिर नींद उड़ाई
शुकवार सुबह 5 बजे भारी पुलिस बल के साथ नलखेड़ा पहुंची लोकायुक्त टीम ने नींद से जगाते हुए जायसवाल के घर पर कार्रवाई को अंजाम दिया। कार्रवाई में डीएसपी वैदांत शर्मा, निरीक्षक बसंत श्रीवास्तव सहित बड़ी संख्या में अधिकारी मौजूद थे। लोकायुक्त की टीम ने ग्राम दमदम के प्राथमिक कृषि साख सहकारी संस्था के प्रबंधक के तीन ठिकानों पर एक साथ छापेमार कार्रवाई की। जिसमें करोड़ों रुपए की बेनामी संपत्ति मिली है। लोकायुक्त टीम उज्जैन के निरीक्षक राजेंद्र वर्मा ने बताया कि 2 माह पूर्व ग्राम दमदम के प्राथमिक कृषि साख सहकारी संस्था के प्रबंधक रमेशचंद जायसवाल के पास आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने की शिकायत प्राप्त हुई थी, जिसका सत्यापन कराया गया। सत्यापन में शिकायत सत्य पाई गई। जिस पर सुबह 6 बजे के करीब एक साथ जायसवाल के तीन ठिकानों नलखेड़ा स्थित घर तथा दुकान व ग्राम दमदम में स्थित घर पर दबिश देकर कार्रवाई की गई।


देखें वीडियो-

आय से 100 गुना अधिक संपत्ति का खुलासा
निरीक्षक वर्मा ने बताया कि रमेशचंद जायसवाल ने सन 1999 में 360 रुपए के मासिक मामूली वेतन से सेल्समैन की नौकरी से शुरुआत की थी जिसका वर्तमान में वेतन 20 हजार रुपए प्रतिमाह के करीब है इसने इतने कम समय में आय से 100 प्रतिशत अधिक संपत्ति अर्जित की है। कार्रवाई में निरीक्षक वर्मा के साथ निरीक्षक बसंत श्रीवास्तव, डीएसपी वेदांत शर्मा एवं टीम के अन्य सदस्यों के साथ भारी पुलिस बल तैनात था।

 

लोकायुक्त कार्रवाई में यह मिला...
- 30 बीघा जमीन जिसमें से लगभग 20 बीघा जमीन 2004 के बाद 45 लाख रुपए में खरीदी गई।
- नलखेड़ा में स्थित जायसवाल कॉलोनी में दो मंजिला मकान, 900 वर्ग फीट जिसकी कीमत 25 लाख रुपए।
- ग्राम दमदम में दो मंजिला मकान 800 वर्ग फीट जिसकी कीमत 15 लाख रुपए।
- ग्राम दमदम में ही निर्माणाधीन फार्म हाउस 4000 वर्ग फीट जिसकी कीमत 10 लाख रुपए।
- वाहनों में एक चार पहिया वाहन जिसकी कीमत 9 लाख रुपए, एक ट्रैक्टर 5 लाख रुपए, तीन दोपहिया वाहन कीमत 2 लाख रुपए।
- घर से डेढ़ लाख रुपए नगद व जिला सहकारी बैंक शाखा नलखेड़ा के बैंक लॉकर से 305 ग्राम सोने व 1 किलो 600 ग्राम चांदी के आभूषण।

देखें वीडियो-

Show More
Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned