आगरा में एक मैकेनिक अचानक बन गया करोड़पति, बैंक खाते में आए करोड़ों रुपए

- जानकारी के बाद बैंक स्‍टाफ जांच में जुटा
- यूपीआइ के जरिए इस खाते में आती थी धनराशि

By: Sanjay Kumar Srivastava

Published: 23 Sep 2021, 11:12 AM IST

आगरा. अभी कुछ दिन पहले बिहार में दो बच्चे अचानक बन गए 960 करोड़ रुपए के मालिक हो गए। अनके बैंक खाते में 960 करोड़ रुपए आ गए। अब आगरा का एक मोटरसाइकिल रिपेयरिंग करने वाला मिस्त्री करोड़पति बन गया है। जिसके खाते में गिने चुने पैसे रहते थे, उसके खाते में बीस दिन में एक करोड़ बीस लाख रुपए का लेनदेन हो गया। मिस्त्री को जब इस की जानकारी हुई तो उसकी नींद गायब हो गई। जानकारी के बाद बैंक स्‍टाफ ने जांच की। पता चला कि यूपीआइ के जरिए इस खाते में धनराशि आती थी। जब खाते को ब्‍लॉक किया गया तब तक रकम खाते से उड़न छू हो गई।

महंत नरेंद्र गिरि की ‘धूल रोट’ के बाद बाघंबरी गद्दी के नए महंत का पंच परमेश्वर करेंगे ऐलान

खाता ब्लॉक :- मामला थाना बरहन क्षेत्र के गांव गढ़ी राम बक्श का है। गढ़ी राम बक्श निवासी कपिल (20 वर्ष) का भारतीय स्टेट बैंक खांडा शाखा में बचत खाता है। कपिल बुधवार को अपने खाते से 5000 पांच हजार रुपए निकालने के लिए बैंक गया था। बैंककर्मियों ने देखा कि, कपिल के खाते में पिछले 20 दिनों में 1.20 करोड़ रुपए का लेनदेन हुआ है। जब बैंक मैनेजर ने कपिल से पूछा तो उसने अनभिज्ञता जताई। शाखा प्रबंधक ने कपिल की पासबुक, आधार कार्ड और पैन कार्ड लेकर खाते को ब्लॉक कर दिया है।

जांच में जुटा बैंक स्टाफ :- कपिल ने बताया कि, बैंककर्मियों कहते हैं कि 16 सितंबर को उसके खाते से 60 लाख रुपए निकाले गए हैं। अभी खाते में 60 लाख रुपए और जमा हैं। कपिल इस वक्त हैरान परेशान है। उधर चूंकि ग्रामीण क्षेत्र की बैंक शाखा है, इसलिए उसमें भी करोड़ों का लेनदेन नहीं होता। बैंक स्‍टाफ पूरे मामले की पड़ताल करने में जुटा है।

साइबर शातिरोंं का नया खेल :- शाखा प्रबंधक राजीव कुमार वर्मा बताते हैं कि, कपिल के खाते में यूपीआइ के जरिए एक साथ बड़ी रकम आती थी पर निकासी कम की होती थी। पर जब खाते को ब्‍लॉक करना चाहा, उससे पहले ही शेष 60 लाख रुपए भी निकाले जा चुके थे। अब खाते में मात्र 500 रुपए शेष रह गए हैं। हो सकता है कि ये साइबर शातिरोंं की साजिश हो।

Sanjay Kumar Srivastava
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned