Beauty Tips: ऑयली स्किन से छुटकारा दिलाता है राइस स्क्रब, ऐसे करें तैयार

Beauty Tips: मानसून में स्किन केयर सबसे इम्पोर्टेट फैक्टर होता है। हमारे देश में मानसून सीजन भी हॉट ही होता है, क्योंकि जब बरसात होती है तब ठंडक और जब नहीं होती तो उमस के साथ गर्मी।

By: Deovrat Singh

Published: 14 Jul 2021, 11:16 PM IST

Beauty Tips: आज के समय में हर कोई सुन्दर दिखने की चाह रखता है। ऐसे में बाजारों से कीमती ब्यूटी प्रोडक्ट भी खरीद लिए जाते हैं। मानसून में स्किन केयर बेहद जरुरी है। हमारे देश में मानसून सीजन भी ग्रीष्मकालीन ही होता है, क्योंकि जब बरसात होती है तब ठंडक और जब नहीं होती तो उमस के साथ गर्मी। उमस के कारण पसीना सूख नहीं पाता और शरीर पर चिपचिपापन बना रहता है। ऐसे मौसम में स्किन की बहुत सी प्रॉब्लम्स सामने आती हैं। स्किन भी ऑइली हो जाती है। पसीने के चिपचिपेपन से राहत पाने के लिए इस सीजन में कुछ खास तरह के स्पा कारगर होते हैं। आइए जानते हैं इनके बारे में...

Read More: स्वीमिंग करने के हैं बेहद फायदे, बहुत सी बीमारियों को दूर करने के साथ ही शरीर को भी रखती है फिट

वोडा स्पा से मिलेगी राहत
स्पा ट्रीट की निक्की बावा ने बताया रैनी सीजन में वोडा स्पा बेहतर होता है। वोडा स्पा रेड वाइन से किया जाता है। रेड वाइन न केवल एक्स्ट्रा ऑइल को कंट्रोल करती है, बल्कि कॉम्प्लेक्शन भी फेयर करती है। वोडा स्पा से वेंस में से फैट रिडयूस होता है और ब्लड सरक्यूलेशन भी तेज होता है। इसके जरिये मानसून सीजन में पसीने और चिपचिपाहट से मैक्सिमम रिलैक्सेशन मिलेगा।

Read More: चेहरे की चमक बरकरार रखता है गुलाब जल, जानिए इसके फायदे

राइस एंड कोकोनट स्क्रब
इस सीजन में चेहरे पर पिम्पल्स या बारीक फुंसियों की प्रॉब्लम आम होती है। इससे बचने के लिए चेहरे की प्रॉपर सफाई जरूरी है। इसके लिए राइस स्क्रब फायदेमंद होता है। राइस स्क्रब चावल को दरदरा पीस कर बनाया जाता है। कोकोनट स्क्रब नारियल को कद्दूकस कर उसमें मिल्क पाउडर मिलाकर बनाया जाता है। ये दोनों स्क्रब सीजन की परेशानियों से राहत दिलाएंगे। कोकोनट स्किन को एक्स्ट्रा नरिशमेंट के साथ ही ग्लो भी देगा।

Read More: गंगा कोविड-फ्री घोषित, रिसर्च में नहीं दिखी कोरोना वायरस की मौजूदगी

हर्बल थेरेपी भी कारगर
लवाना स्पा के जय तिवारी ने बताया मॉनसून सीजन में हर्बल थेरेपी भी कारगर होती है। इसमें चंदन स्पर्श थेरेपी पसीने की समस्या से निजात दिलाएगी। चंदन पूरी बॉडी पर कूल इफेक्ट देगा और पसीने की स्मैल से मुक्ति भी मिलेगी। इसके साथ ही नीम, हल्दी और तुलसी का लेप भी बेहतर है। नीम, हल्दी और तुलसी के एंटीबैक्टीरियल गुण बारिश के सीजन में होने वाली स्किन प्रॉब्ल्म्स में फायदा देंगे। इन तीनों के लेप के बाद एक शॅावर लेना होगा और इसके बाद ऑइल थेरेपी का यूज किया जाएगा, जिसमें ऑलिव और जैस्मिन ऑइल का इस्तेमाल किया जाता है।

Read More: कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज अलग-अलग कंपनियों की लगवाना बेहद खतरनाक, जानिए कैसे

Deovrat Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned