अब गर्भवती महिलाओं को भी लग सकेंगे एंटीकोरोना टीके

स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने जारी किए आदेश

By: Suresh Jain

Published: 03 Jul 2021, 08:37 AM IST

भीलवाड़ा।
अब गर्भवती महिलाओं को भी एंटीकोरोना वैक्सीन टीके लग सकेंगे। अब तक ये टीके गर्भवती महिलाओं को नहीं लगाए जा रहे थे। लेकिन नेशनल टेक्नीकल एडवाइजरी ग्रुप ऑन इम्यूनाइजेशन (एनटीएजीआई) ने गत दिनों एडवाजरी जारी करने के बाद शुक्रवार को स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने इसके आदेश जारी कर दिए है। इसमें ये स्पष्ट किया गया है कि ये टीके लगाने से कोई परेशानी नहीं होगी। खास बात ये है कि इसके लिए सभी गर्भवती महिलाएं जो एंटीनेटल केयर के लिए आती है, उन्हें कोरोना के खतरों के बारे में समझाकर एंटीकोरोना वैक्सीन कोविशील्ड व कोवैक्सीन की जानकारी देनी होगी।
केन्द्र सरकार की ओर से जारी गाईड लाइन के अनुसार गर्भवती महिला किसी भी समय यानी गर्भधारण के बाद नौ माह तक कभी भी टीका लगवा सकती है। लेकिन गर्भवती महिलाओं को ये समझाया जा सकता है कि वह अपने समीपस्थ किसी भी टीकाकरण केन्द्र पर जाकर टीके लगवा सकेंगी। शिशु को दुग्धपान करवाने वाली महिला भी प्रसव के बाद कभी भी टीकाकरण करवा सकती है। आदेश में उल्लेख किया है कि टीकों से महिलाओं की सुरक्षा को लेकर स्टडी होनी चाहिए। इस बात पर प्रकाश डाला गया कि ब्राजील में टीकों के साथ एक गर्भवती महिला की मौत की हालिया रिपोर्ट आई है।
दिल्ली में हुई बैठक में स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण, बायोटेक्नोलॉजी विभाग सचिव डॉ रेणु स्वरूप सहित कई अन्य अधिकारी भी शामिल हुए थे।
आदेश मिले है
गर्भवती महिलाओं को कभी भी टीके लगाए जा सकते हैं, टीके पूरी तरह से सुरक्षित हैं, इसमें कोई परेशानी नहीं है। इसे लेकर हम तैयारी कर रहे हैं। लेकिन पहले महिला को बताना होगा की उसे टीका रियक्शन कर सकता है।
डॉ. संजीव शर्मा, आरसीएचओ भीलवाड़ा

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned