टोलनाके के सिक्योरिटी सुपरवाइजर का अपहरण कर मारपीट के आरोप में सात गिरफ्तार

पुर थाना पुलिस ने चार दिन पूर्व दिनदहाड़े मुजरास टोल नाके के सिक्योरिटी सुपरवाइजर का अपहरण कर बोरड़ा के निकट जंगल में ले जाकर मारपीट करने के आरोप में सात जनों को गिरफ्तार कर लिया।
थानाप्रभारी मुकेश वर्मा ने बताया कि रामपुरिया (गुरला) निवासी शंकर गुर्जर मुजरास स्थित टोलनाके पर सिक्योरिटी सुपरवाइजर है।

By: Akash Mathur

Published: 03 Jul 2021, 10:29 AM IST

भीलवाड़ा. पुर थाना पुलिस ने चार दिन पूर्व दिनदहाड़े मुजरास टोल नाके के सिक्योरिटी सुपरवाइजर का अपहरण कर बोरड़ा के निकट जंगल में ले जाकर मारपीट करने के आरोप में सात जनों को गिरफ्तार कर लिया।
थानाप्रभारी मुकेश वर्मा ने बताया कि रामपुरिया (गुरला) निवासी शंकर गुर्जर मुजरास स्थित टोलनाके पर सिक्योरिटी सुपरवाइजर है। गत २९ जून को दोपहर किसी काम से साथी के साथ बाइक पर भीलवाड़ा आया था। वह काम करके वापस गांव लौट रहा था। पुर रोड पर गुरुजी की होटल के निकट उसकी बाइक पंचर हो गई। वह दुकान पर पंचर बनवा रहा था। इस दौरान कुछ लोग वैन और बाइक लेकर आए। उन्होंने शंकर को जबरन वैन में बिठा लिया और बोरड़ा के निकट जंगल में ले गए। वहां शंकर के साथ बेहरमी से मारपीट की। उसके गले में पहनी सोने की चेन व जेब से नकदी निकाल ली। इसके बाद उसे रस्सी से पेड़ पर लटकाने लगे। तभी वहां से एक ट्रैक्टर चालक के गुजरने पर आरोपी उसे जख्मी हालत में छोड़कर भाग गए। पुलिस ने मामला दर्ज कर अनुसंधान के बाद मुजरास निवासी राधेश्याम पुत्र सोहन गुर्जर, राधेश्याम पुत्र हजारी गुर्जर, राधेश्याम पुत्र रामलाल गुर्जर, हरीश शर्मा, सुरेश गुर्जर, शांतिलाल गुर्जर तथा बाबाधाम के सामने रूपनगर निवासी नरेन्द्रसिंह राजपूत को गिरफ्तार कर लिया।

Akash Mathur
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned