मध्यप्रदेश बदलने के लिए आम आदमी पार्टी ने बनाई खास रणनीति, भाजपा की बढ़ी मुश्किलें

मध्यप्रदेश में 13 वर्षों से जमी भाजपा सरकार को बदलने के लिए विपक्षी पार्टियों ने भी अपनी कोशिशें तेज कर दी है। हाल ही में गुजरात के पाटीदार नेता हार्द

By: Manish Gite

Published: 02 Jan 2018, 01:02 PM IST

 

भोपाल। मध्यप्रदेश में 13 वर्षों से जमी भाजपा सरकार को बदलने के लिए विपक्षी पार्टियों ने भी अपनी कोशिशें तेज कर दी है। हाल ही में गुजरात के पाटीदार नेता हार्दिक पटेल और महाराष्ट्र की शिवसेना ने भी मध्यप्रदेश में भाजपा के खिलाफ चुनाव लड़ने का ऐलान किया है। इससे भाजपा की मुश्किलें बढ़ सकती है।

 

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी (आप) मंगलवार से पूरे प्रदेश में बदलेंगे मध्यप्रदेश संकल्प यात्रा शुरू कर रही है। यह चार चरणों में पूरी की जाएगी और सभी विधानसभा क्षेत्रों में निकाली जाएगी। इसके बाद 2018 में होने वाली मध्यप्रदेश के चुनाव में पार्टी 230 सीटों पर चुनाव लड़ेगी।

MUST READ

LIVE: केंद्र सरकार पर बोले केजरीवाल, बोले 67 प्रतिशत बढ़ा मोदी सरकार में भ्रष्टाचार
MP में भाजपा की मुश्किल बढ़ाने आ रही है शिवसेना, बनाया सीक्रेट प्लान

पार्टी के प्रदेश संयोजक आलोक अग्रवाल के मुताबिक मध्यप्रदेश में मंगलवार से शुरू की जा रही बदलेंगे 'मध्यप्रदेश संकल्प यात्रा' में भारतीय जनता पार्टी की सरकार के भ्रष्टाचार, जनता विरोधी नीतियों को विधानसभा वार मतदाताओं के घरों तक पहुंचाया जाएगा।

 

अग्रवाल के मुताबिक इस दौरान लोगों को बताया जाएगा कि आम आदमी पार्टी मध्यप्रदेश को भ्रष्टाचार मुक्त बना देगी, जिसका संकल्प पार्टी ने लिया है।

 

केजरीवाल पहले ही कर चुके हैं शंखनाद
आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल नवंबर माह में हुई रैली में चुनाव का बिगुल फूंक चुके हैं। उन्होंने इस सभा में दिल्ली की उपलब्धियां गिनाई थी और मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार पर जमकर आरोप लगाए थे।

 

सभी दल हुए सक्रिय

मध्यप्रदेश में 2018 में होने वाले विधानसभा चुनाव को देखते हुए सभी दलों में सुगबुगाहट शुरू हो गई है। मध्यप्रदेश कांग्रेस, गुजरात के पाटीदार नेता हार्दिक पटेल, शिवसेना के युवा प्रमुख आदित्य ठाकरे, बहुजन समाज पार्टी समेत आम आदमी पार्टी भी अब जी-तोड़ कोशिश में लग गई है। सभी दल इस बार कोई कसर नहीं छोड़ना चाहते हैं।

 

ऐसा है आप का कार्यक्रम
-पहला चरण दो से 18 जनवरी तक चलेगा।
-दूसरा 22 से 4 फरवरी तक चलाया जाएगा।
-तीसरा 11 फरवरी से 24 फरवरी तक चलेगा।
-चौथा चरण जोनस्तर पर 4 मार्च से 18 मार्च तक चलेगा।
-यात्रा में दिल्ली और मप्र सरकार के कामों की तुलना की जाएगी।
-आप के 14 आश्वासनों को भी लोगों को बताया जाएगा।

Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned