Weather Update : इतने दिन और रहेगी कड़ाके की ठंड, राजधानी में 10 साल बाद गुजरी इतनी सर्द रात

-भोपाल में टूटा 7 साल का रिकॉर्ड
-इस सीजन की सबसे सर्द रही रात
-भोपाल का पारा पहुंचा 10.5 डिग्री पर
-13 जिलों का तापमान रहा 7 से 10 डिग्री के बीच

By: Faiz

Published: 22 Nov 2020, 03:06 PM IST

भोपाल/ मध्‍य प्रदेश में हवा का रुख उत्तरी होने के चलते राजधानी भोपाल समेत कई जिलों में ठिठुरन बढ़ गई है। मौसम विभाग के मुताबिक, आगामी दो दिनों तक ठंड अपने तीखे तेवर दिखा सकती है। इसी के चलते शनिवार-रविवार की दरमियानी रात सीजन की सबसे सर्द रातों में से एक रही। प्रदेश में रात का सबसे कम तापमान नौगांव में 7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। प्रदेश के 13 जिलों में न्यूनतम तापमान 7 से 10 डिग्री के बीच रहा। उधर राजधानी में शनिवार रात का तापमान दस साल में सबसे ठंडा रहा। भोपाल में शनिवार को अधिकतम तापमान 25.0 डिग्री रिकॉर्ड किया गया, जो सामान्य से चार डिग्री कम था, वहीं न्यूनतम तापमान की बात करें तो, 10.5 डिग्री दर्ज किया गया।

 

पढ़ें ये खास खबर- विधायक के रुख पर युवा नेताओं में बवाल, सोशल मीडिया पर भार्गव हटाओ कांग्रेस बचाओ का नारा वायरल


इसलिए बढ़ी ठंड

Weather Update

मौसम विज्ञानी जेपी विश्वकर्मा के मुताबिक, शुक्रवार को उत्तरी महाराष्ट्र पर एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ था। दक्षिण-पूर्वी मध्य प्रदेश से बिहार तक एक द्रोणिका लाइन बनी हुई थी। इस वजह से वातावरण में नमी आने के कारण प्रदेश में बादल बने हुए थे। इस दौरान कई क्षेत्रों में बारिश भी हुई। फिलहाल, प्रदेशभर में ये दोनों ही सिस्टम समाप्त हो चुके हैं। इसके अतिरिक्त जम्मू-कश्मीर पर बना पश्चिमी विक्षोभ भी आगे बढ़ गया है। इससे हवा का रुख उत्तरी और उत्तर-पूर्वी हो गया है। पश्चिमी विक्षोभ के असर से उत्तर भारत के पहाड़ों में हाल ही में जबरदस्त बर्फबारी हुई है। इस वजह से वहां से आने वाली सर्द हवाओं ने पूरे प्रदेश में सिहरन बढ़ा दी है।

 

पढ़ें ये खास खबर- घर से परीक्षा पेपर बेच रहा था स्कूल शिक्षक, छात्र से डीलिंग करते हुए ऑडियो वायरल


फिर बदलेगा मौसम

विश्वकर्मा के मुताबिक, अभी दो दिन तक हवा का रुख उत्तरी और उत्तर-पूर्वी बना रहने की उम्मीद है। इससे ठंड के तेवर दो दिन में और तीखे हो सकते हैं। वर्तमान में एक पश्चिमी विक्षोभ अफगानिस्तान के पास बना हुआ है। इस सिस्टम के दो दिन बाद उत्तर भारत पहुंचने के आसार हैं। इसके बाद हवा का रुख बदलने से एक बार फिर बादल छा सकते हैं। इससे रात का तापमान बढेगा।

 

पढ़ें ये खास खबर- रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ सोनांचल महोत्सव का शुभारंभ, शहर से निकली लोककला यात्रा


भोपाल में पिछले दस सालों में दर्ज हुआ तापमान

वर्ष-तारीख-तापमान

-2010-22-25.5

-2011-19-27.4

-2012-20-27.2

-2013-11-26.2

-2014-16-26.3

-2015-28-25.7

-2016-17-28.0

-2017-21-25.3

-2018-30-26.3

-2019-20-27.2

नोट:- तापमान डिग्री सेल्सियस में।

latest weather update weather update
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned