विधायक के रुख पर युवा नेताओं में बवाल, सोशल मीडिया पर भार्गव हटाओ कांग्रेस बचाओ का नारा वायरल

युवक कांग्रेस में नियुक्ति पर मचा बवाल।

By: Faiz

Published: 22 Nov 2020, 01:11 AM IST

भोपाल/ जिले में कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं के बीच इन दिनों सबकुछ अच्छा नहीं चल रहा है। अब विधायक शशांक भार्गव और युवक कांग्रेस के कुछ नेताओं के बीच सोशल मीडिया पर बहस छिड़ी है। युवक कांग्रेस के प्रदेश सचिव पद पर शैलेंद्र पटेल की नियुक्ति से खफा विधायक के रूख पर युवक कांग्रेस से जुड़े चंद कार्यकर्ताओं ने उन्हें आड़े हाथों लेते हुए विधायक के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। विधायक ने भी सोशल मीडिया के माध्यम से कुणाल चौधरी को खुला खत भेजकर अपनी बात रखी। उधर, युवक कांग्रेस नेताओं ने सोशल मीडिया पर भार्गव हटाओ, कांग्रेस बचाओ का हल्ला मचा दिया।

 

पढ़ें ये खास खबर- घर से परीक्षा पेपर बेच रहा था स्कूल शिक्षक, छात्र से डीलिंग करते हुए ऑडियो वायरल


विधायक के खिलाफ सोशल मीडिया पर मोर्चा खोला

दरअसल, नगर के शैलेंद्र पटेल को हाल ही में मप्र युवक कांग्रेस में पदाधिकारी बनाया गया है। लेकिन उसकी नियुक्ति की जानकारी विधायक भार्गव को बाद में लगी। इसपर आपत्ति जताते हुए विधायक ने मध्य प्रदेश युवक कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष कुणाल चौधरी और प्रदेश प्रभारी शेषनारायण ओझा से अपनी बात कही। ये बात शैलेंद्र पटेल और उनके समर्थकों को पता चली तो वो दुखी हुए और विधायक के खिलाफ सोशल मीडिया पर मोर्चा खोल दिया।

 

पढ़ें ये खास खबर- रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ सोनांचल महोत्सव का शुभारंभ, शहर से निकली लोककला यात्रा

चमचों के चक्कर में कांग्रेस को मत निपटाओ...

सोशल मीडिया पर हिमांशु साहू ने 12 लोगों को टैग कर अपनी पोस्ट डाली, इसी तरह अभिषेक अग्रवाल ने करतार सिंह समेत 7 लोगों को टैग कर पोस्ट डाली। कपिल शर्मा ने भी सोशल मीडिया पर पोस्ट डाली। सभी पोस्ट एक सी थीं, जिसमें विधायक शशांक भार्गव से कहा गया था कि, विदिशा वासियों ने आपको विधायक बनाया है, आप चमचों के चक्कर में कांग्रेस को मत निपटाओ। पोस्ट में भार्गव को चेतावनी भी दी गई है कि, युवाओं का विरोध आपको बहुत मंहगा पड़ेगा। अंत में कांग्रेस बचाओ, शशांक भार्गव को हटाओ नारा भी दिया गया है। एक ही बात को तीन अलग-अलग जगह पोस्ट किया गया है।

 

पढ़ें ये खास खबर- हिस्ट्रीशीटर मुख्तियार पर शिकंजा : जानिए कैसे रेप का आरोपी अवैध कब्जे कर 16 साल की उम्र में बन गया था भू-माफिया

 

कुणाल के नाम विधायक की सोशल मीडिया पर पोस्ट

जब युवाओं ने विधायक के खिलाफ सोशल मीडिया पर मोर्चा खोला तो विधायक शशांक भार्गव ने कुणाल चौधरी के नाम खुला पत्र सोशल मीडिया पर पोस्ट कर अपनी बात रखी। भार्गव ने कुणाल चौधरी से लिखा कि, शैलेंद्र पटेल अच्छा साथी है, लेकिन मेरा यही कहना है कि, अगर आपने विदिशा में कोई नियुक्ति की है, तो मुझे भी जानकारी दे दिया करें। लेकिन आपने कहा- मैंने ये नियुक्ति नहीं की, ओझा जी ने की है। मैने फिर ओझा जी (शेष नारायण ओझा, युवा कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी) भी यही बात कही। लेकिन बड़े दुख से लिखना पड़ रहा है कि, आपने किस तरह की बात मेरे छोटे भाइयों को मेरे बारे में इस तरह की पोस्ट लिखना पड़ रही है। विदिशा भाजपा का गढ़ रहा है और मैं इन्हीं सब छोटे भाइयों की मेहनत से विधायक बना हूं। मैं नहीं जानता कि, आपने उनसे क्या चर्चा की, लेकिन उन्हें जो भी गलतफहमी हुई है उसको दूर कर हमारे बीच विवाद की स्थिति पैदा होने से रोकें। विधायक ने ये भी लिखा कि, 'मैं उम्मीद करता हूं कि, आपसे मेरी जो चर्चा हुई है, उसे मेरे छोटे भाइयों तक पहुंचाने की कृपा करेंगे।'

 

पढ़ें ये खास खबर- कोरोना के खिलाफ एक्शन में प्रशासन, मास्क न पहनने वालों से इस तरह वसूला जा रहा जुर्माना, देखें वीडियो


विधायक शशांक भार्गव ने दी सफाई

सोशल मीडिया पर मचे बवाल के बाद विदिशा कांग्रेस विधायक शशांक भार्गव का भी बयान सामने आया। उन्होंंने कहा कि, 'कुछ गलतफहमियां हो गईं थीं, उन्हें दूर करने के लिए मैंने पोस्ट डाली थी। अब सब ठीक हो गया है।' फिलहाल, अब देखना ये होगा कि, कांग्रेस के बीच सोशल मीडिया पर मचा घमासान आगे क्या रंग लाता है।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned