सरकार का बड़ा फैसला, अंधेरे में शिक्षा हासिल करने वाले 93 हजार स्कूलों में पहुंचाई जाएगी बिजली

अब छात्रों को अंधेरे और गर्मी में नहीं हासिल करनी पड़ेगी शिक्षा। सरकार प्रदेश के 93 हजार स्कूलों में पहुंचाने वाली है बिजली

By: Faiz

Published: 18 Nov 2019, 07:59 PM IST

भोपाल/ मध्य प्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री कमलनाथ के जन्मदिवस के अवसर पर प्रदेश के सराकारी स्कूलों में बिना बिजली के पढ़ने को मजबूर छात्रों को बड़ी सौगात दी है। बतां दें कि, आजादी के बाद से अब तक प्रदेश के 93 हजार 231 प्राथमिक और माध्यमिक स्कूलों में बिजली उपलब्ध नहीं थी। अब सरकार इन सभी स्कूलों में बिजली व्यवस्था करने की तैयारी कर रही है। सरकार ने इन स्कूलों को रोशन करने के लिए 4 करोड़ 22 लाख 83 हजार 680 रुपये आवंटित भी कर दिये हैं।

 

पढ़ें ये खास खबर- CBSE बोर्ड में बड़ा बदलाव, अब 10वीं और 12वीं के छात्रों को पास होने के लिए लाना होंगे इतने अंक


यहां नौनिहाल थे तेज गर्मी में बिना व्यवस्थाओं के पढ़ने को मजबूर

प्राथमिक और माध्यमिक शाला अधोसंरचना संरक्षण और विकास योजना में सरकार के पास 4 करोड़ 23 लाख 25 हजार 310 रुपये पहले से जमा थे। इसमें से सरकार ने प्राथमिक और माध्यमिक स्कूलों में नौनिहाल अभी भी तेज गर्मी में बैठकर पढ़ने को मजबूर हैं। क्योंकि, इन शिक्षालयों में अब तक हवा के लिए पंखे नहीं हैं। इसका कारण ये है कि, यहां अब तक बिजली व्यवस्था ही नहीं है।

 

पढ़ें ये खास खबर- 22 नवम्बर से शुरु हो रहा है आलमी तब्लीगी इज्तिमा, जानिए इसका उद्देश्य


मिलेंगी ये सुविधाएं

इसके साथ ही इन स्कूलों में छात्रों को कंप्यूटर का ज्ञान देने और शहरों जैसी स्मार्ट क्लास भी संचालित करना संभव नहीं है। क्योंकि, इन सब चीजों को सुचारू करने में इस्तेमाल होने वाली बिजली ही इन स्कूलों में अब तक नहीं है। सरकार के इस फैसले के बाद अब सुदूर ग्रामीण अंचलों के स्कूल भी रोशन हो सकेंगे। साथ ही, गर्मियों के दिनों में यहां पढ़ने वाले बच्चे कूलर, पंखे की शीतल हवा का आंनंद ले सकेंगे।

 

पढ़ें ये खास खबर- 22 नवम्बर से शुरु हो रहा है आलमी तब्लीगी इज्तिमा, जानिए इसका उद्देश्य


रोशनी के लिए मंजूर हुए 26 करोड़

अब तक प्रदेश के जिन स्कूलों में बिजली नहीं थी, उनके लिए सरकार ने 26 करोड़ 84 लाख 65 हजार रुपये की स्वीकृति दे दी है। इसमें से पहले चरण में 4 करोड़ 22 लाख रुपये आवंटित भी किये जा चुके हैं।

 

पढ़ें ये खास खबर- Facebook में सामने आया Bug, अपने आप खुल रहा है फोन कैमरा, कहीं लीक तो नहीं हो रहे आपके Secrets


शिक्षा केन्द्रों तक सरकार ने पहुंचाई राशि

प्रदेश के सभी 52 जिलों के सभी बिजली विहीन स्कूलों में बिजली पहुंचाई जाने की कवायद शुरु हो जाएगी। सरकार ने सभी स्कूलों में सभी जिला शिक्षा केन्द्रों को तय राशि पहुंचा दी है। सरकारी सूत्रों के मुताबिक, अब जल्द ही प्रदेश के सभी स्कूलों में बिजली को लेकर एक जैसी व्यवसथाएं होंगी।

 

पढ़ें ये खास खबर- 97 सालों से इस गांव में नहीं बढ़ी जनसंख्या, पूरे विश्व के लिए बना मिसाल


वो जिले जिनमें सबसे ज्यादा हैं बिजली विहीन स्कूल

1- रीवा- 3747
2- धार- 3558
3- खरगौन- 2918
4- सतना- 2779
5- बड़वानी- 2751
6- शिवपुरी- 2760
7- बैतूल- 2651
8- छिंदवाड़ा- 2620
9- विदिशा- 2473
10-राजगढ़- 2388

Show More

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned