खतरे में भोपाल: लॉकडाउन खुलते ही उमड़ी भीड़, सड़कों पर लग गया जाम

violation of Containment Zone- राजधानी के कोलार और शाहपुरा क्षेत्र को 19 अप्रैल तक बनाया है कंटेनमें जोन। बेपरवाह लोग सड़कों पर निकले...।

 

भोपाल। राजधानी भोपाल में सोमवार सुबह लॉकडाउन (lockdown) खुलते ही सड़कों पर भीड़ उमड़ पड़ी। खासकर कोलार क्षेत्र में यह नजारा डराने वाला था, क्योंकि यह क्षेत्र 19 अप्रैल तक कंटेनमेंट जोन (Containment Zone) घोषित कर रखा है। लोग अब भी खतरे से बेपरवाह है, यहां-वहां आने जाने के लिए सड़कों पर निकलने से सुबह से ही जाम की स्थिति है। लोगों को काफी देर तक भीड़ में गुजारना पड़ रहा है, जो बेहद ही खतरनाक है।

 

पिछले दिनों राजधानी भोपाल के उपनगर कोलार क्षेत्र को 19 अप्रैल तक कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया था। लेकिन, सोमवार सुबह यहां का नजारा डराने वाला था। लोग कंटेनमेंट क्षेत्र से बाहर निकलने की होड़ में सड़कों पर आ गए और सुबह से दोपहर तक जाम की स्थिति बन गई।

 

यह भी पढ़ेंः कोरोना से निपटने के लिए मंत्रियों को दी गई बड़ी जिम्मेदारी, देखें लिस्ट

 

07_lockdown.png

भोपाल में तेजी से बढ़ रहे संक्रमण को देखते हुए यह तस्वीर डराने वाली है। भोपाल में जितने भी संक्रमित निकल रहे हैं, उसमें से आधे के करीब कोलार और शाहपुरा क्षेत्र में संक्रमित मिल रहे हैं। कोलार और शाहपुरा के अलावा राजधानी के अन्य इलाकों में भी सुबह से लोगों का हुजूम देखा गया। न्यू मार्केट, पुराने भोपाल में भी बड़ी संख्या में लोग सड़कों पर निकल पड़े। पुलिस प्रशासन सभी को बेवजह घर से बाहर नहीं निकलने को कह रहा है, लेकिन लोग नहीं मान रहे हैं।

 

यह भी पढ़ेंः अगले आदेश तक सरकारी कर्मचारी-अधिकारी नहीं ले पाएंगे छुट्टी

 

05_lockdown.png

राजधानी भोपाल में शुक्रवार रात से सोमवार सुबह 6 बजे तक लॉकडाउन है, लेकिन कोलार-शाहपुरा क्षेत्र 19 अप्रैल तक कंटेनमेंट जोन बनाया गया है। सोमवार सुबह कोलार के सर्वधर्म पुल के पास दोनों तरफ वाहनों का जमावड़ा हो गया। दोनों तरफ से लोग एक दूसरे से आगे निकलने की होड़ करने लगे। अफरा-तफरी के बीच दोनों तरफ से जाम लग गया। प्रशासन भी इस दौरान बेबस हो गया। वो जाम भी नहीं खुलवा पाया। कोलार पुलिस शहर के दूसरे इलाके में जाने वाले लोगों के आइकार्ड और मेडिकल इमरजेंसी में आने-जाने वालों के तस्तावेजों की जांच और पूछताछकर जाने दे रही थी। भीड़ बढ़ने के बाद कोलार आने-जाने वालों को पुलिस लौटाने लगी। सर्वधर्म पुल के दोनों तरफ सैकड़ों वाहन जमा हो गए।

 

यह भी पढ़ेंः टोटल लॉकडाउन: इन नंबरों पर कॉल करके मंगा सकेंगे किराना, दूध और सब्जी

 

04_lockdown.png

कोलार सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में रोजाना 300 से अधिक लोगों की जांच हो रही है। इसे में आधे मरीज पाजिटिव निकल रहे हैं। जो क्षेत्र के लिए सबसे चिंता की बात है। कोलार के बाद गोविंदपुरा क्षेत्र में भी संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ रही है। सूत्रों के मुताबिक ऐसे ही गोविंदपुरा में भी संक्रमित मिलते रहे तो इस क्षेत्र को भी कंटेनमेंट जोन घोषित किया जा सकता है।

 

यह भी पढ़ें- LOCKDOWN: सुबह 7 से 10 बजे तक 3 घंटे मिलेगा दूध, जानिए क्या रहेंगी पाबंदियां

 

02_lockdown.png

भोपाल में फिर बढ़े संक्रमित

भोपाल में संक्रमितों का आंकड़ा धीरे-धीरे बढ़ रहा है, जो बड़े गंभीर संकट की ओर ले जा रहा है। कई लोग अब भी बेवजह सड़कों पर निकल रहे हैं, और तो ओर कई लोग मास्क भी नहीं पहन रहे हैं। इसके अलावा जो मास्क पहन रहे हैं वो गले पर लगा होता है। ऐसे में संक्रमण फैल रहा है। रविवार को संत्रमितों की संख्या 823 के पार हो गई। जबकि सरकारी आंकड़ों में तीन की मौत बताई गई है।

 

यह भी पढ़ें- चुनाव वाले क्षेत्र में नहीं लगाया लॉकडाउन, कांग्रेस बोली- भाजपा का नौकर है क्या कोरोना?

Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned