scriptजब महेश भट्ट के घर में घुस गए अनुपम खेर- झूठे, फरेबी, धोखेबाज कहकर चीखने लगे थे, आगे हुआ था कुछ ऐसा | When Anupam Kher entered Mahesh Bhatt's house and started shouting | Patrika News

जब महेश भट्ट के घर में घुस गए अनुपम खेर- झूठे, फरेबी, धोखेबाज कहकर चीखने लगे थे, आगे हुआ था कुछ ऐसा

locationनई दिल्लीPublished: Nov 07, 2021 11:35:19 am

Submitted by:

Archana Pandey

‘मैं जब महेश भट्ट से मिला तो उनसे काम मांगा। इस पर उन्होंने मुझसे कहा था कि हां… मैंने सुना है कि तुम स्टेज पर बहुत अच्छा काम करते हो।

When Anupam Kher entered Mahesh Bhatt's house and started shouting

Anupam Kher and Mahesh Bhatt’

नई दिल्ली: महेश भट्ट (Mahesh Bhatt) ने जहां बॉलीवुड को एक से बढ़कर एक फिल्में दी हैं। वहीं, कभी अपनी फिल्म को लेकर तो कभी निजी जिंदगी को लेकर विवादों में भी रहे हैं। साल 1984 में आई उनकी फिल्म “सारांश” (Saransh) को खूब पसंद किया गया था। इस फिल्म में अनुपम खेर (Anupam Kher) ने अपनी जबरदस्त एक्टिंग से सबका ध्यान अपनी ओर खींच लिया था। लेकिन क्या आप जानते हैं महेश भट्ट ने अनुपम खेर को इस फिल्म से रिप्लेस कर दिया था। जिसके बाद गुस्से में अनुपम महेश भट्ट के घर पहुंच गए थे।
मुंबई छोड़ने का मन बना लिया था
दरअसल अनुपम खेर ने एक इंटरव्यू में इस बारे में बातचीत की थी। इस दौरान उन्होंने बताया था कि महेश भट्ट ने उनका दिल तोड़ दिया था, इसलिए उन्होंने मुंबई छोड़ने का मन बना लिया था। दरअसल ‘मैं जब महेश भट्ट से मिला तो उनसे काम मांगा। इस पर उन्होंने मुझसे कहा था कि हां… मैंने सुना है कि तुम स्टेज पर बहुत अच्छा काम करते हो। इस पर मैंने जवाब दिया था- नहीं, आपने गलत सुना है। मैं स्टेज पर ब्रिलियंट काम करता हूं। इसके बाद मेरे तेवर देख कर उन्होंने मुझे अपनी फिल्म में काम दिया।
उन्होंने आगे बताया था कि- ‘कुछ दिनों बाद फिल्म की शूटिंग शुरू होने वाली थी। ऐसे में मुझे खबर मिली की फिल्म में मुझे रिप्लेस कर दिया गया है। मेरा रोल संजीव कुमार को दे दिया गया है। ये सुनकर मैं हैरान रह गया था। मैं बेहद गुस्से में आ गया और बोला कि ये शहर मेरे लिए नहीं है। मैने वापस जाने का फैसला किया, अपना सामान पैक किया और वापस चल दिया था।
महेश भट्ट को जवाब देते जाएंगे

लेकिन उन्होंने सोचा कि वो जाते-जाते महेश भट्ट को तगड़ा जवाब देकर जाएंगे। अनुपम ने बताया था- ‘मैं जाने से पहले सीधे उनके घर गया। मैं उन्हें जाने से पहले बताना चाहता था कि अब मैं उनके बारे में क्या सोचता हूं। उनके घर का एलिवेटर काम नहीं कर रहा था, ऐसे में मैं सीढ़ियां चढ़ कर ऊपर गया। वो कहते हैं ना कि जब आप गुस्से में होते हो तो बहुत सारी एनर्जी आपके शरीर में आ जाती है।
यह भी पढ़ें

जब अमिताभ की इंसल्ट सहन नहीं कर पाईं जया बच्चन, गुस्से में राजेश खन्ना को दिया था ये जबाव

मैंने दरवाजा खटखटाया, महेश ने दरवाजा खुला और बोले, ‘ओह अच्छा हुआ तुम आ गए। मैं अब इस खबर को कन्फर्म करने जा रहा हूं कि संजीव कुमार फिल्म में होंगे और तुम दूसरा पार्ट करोगे। देखो तुमको प्रोड्यूसर की इस बात को समझना होगा। वैसे भी वो वाला रोल इतना बड़ा नहीं है, तुम नोटिस होगे।
इस धरती के एक बहुत बड़े झूठे हैं

अनुपम ने बताया- ‘मैं गुस्से में आ गया और बोला, रुकिए जरा। खिड़की के पास चलकर देखिए, नीचे मेरी कैब खड़ी है। अंदर मेरा सारा सामान पड़ा है। मैं ये शहर छोड़ कर जा रहा हूं। लेकिन जाने से पहले मैं आपसे कहने आया हूं कि आप इस धरती के एक बहुत बड़े झूठे हैं, फरेबी हैं। आप धोखेबाज हैं। आप ‘सच’ फिल्म बना रहे हैं और आपके अंदर ‘सच्चाई’ ही नहीं है। ये कहते ही मैं रोने लगा। मैं बहुत बुरी स्थिति में था और मैं उनके सामने ही टूट गया।
अनुपम ने कंवेंस कर लिया है
जैसे ही अनुपम गाड़ी की तरफ जाने लगे महेश भट्ट ने उन्हें वापस बुला लिया। अनुपम जब वापस आए तो महेश भट्ट ने सीधा प्रोड्यूसर को फोन लगाया और कहा कि ‘ये रोल संजीव नहीं अनुपम करेगा, अनुपम ने मुझे कंवेंस कर लिया है कि उससे बेहतर इस किरदार को और कोई नहीं निभा सकता है। इस तरह अनुपम खेर ने रोल प्ले किया था।
loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो