LOVE में 'विलेन' बन रहा था पति, सुपारी किलर से बोली 4 बच्चों की मां- खत्म कर दो, बाद में मैं देख लूंगी

LOVE में 'विलेन' बन रहा था पति, सुपारी किलर से बोली 4 बच्चों की मां- खत्म कर दो, बाद में मैं देख लूंगी

Muneshwar Kumar | Updated: 07 Jul 2019, 04:24:13 PM (IST) Chhatarpur, Chhatarpur, Madhya Pradesh, India

ऐश की जिंदगी के लिए चार बच्चों की मां ने प्रेमी और सुपारी किलर संग मिल की पति की हत्या, सास को बताई- करंट लगने से हुई है मौत

 

छतरपुर/बड़ामलहरा. मध्यप्रदेश के छतरपुर शहर ( chhatarpur police ) में टैक्सी चालक राजेश साहू की हत्या मामले का पुलिस ने पर्दाफाश कर दिया है। राजेश की हत्या ( murder ) में शामिल उसकी पत्नी विनीता साहू, प्रेमी ( love affair ) संदीप राय और तीन अन्य लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। महिला शादीशुदा ( four child mother ) होने के बावजूद भी संदीप राय के साथ रिश्ते में थी।

 

शहर के वार्ड क्रमांक 3 में घटित इस घटना का पुलिस ने आठ दिन बाद शनिवार को पर्दाफाश किया है। इस वारदात का खुलासा करते हुए बड़ामलहरा एसडीओपी राजाराम साहू ने सिलसिलेवार तरीके से घटना की जानकारी दी। एसडीओपी ने बताया कि विनीता साहू और उसके ठीक पड़ोस में रहने वाले संदीप राय के बीच पिछले चार वर्षों से अवैध संबंध थे। विनीता प्रेमी के समीप रहने के लिए ही अपने सास-ससुर से झगड़ा कर नए मकान में दो वर्ष पहले रहने लगी थी। यह मकान संदीप राय के ठीक बगल में था।

 

होटल में मिलते थे दोनों
एसडीओपी के अनुसार कई बार संदीप राय और विनीता साहू छतरपुर एवं जटाशंकर के होटल में एक-दूसरे से मिलते थे। विनीता के पति राजेश को इस रिश्ते पर संदेह था लेकिन वह बेहद सीधा-साधा व्यक्ति था इसलिए उसने कभी इसको लेकर विवाद नहीं किया। ऑटो चलाने वाला राजेश 26 जून की रात काम से लौटा तो उसने देखा कि मोहल्ले में एक पटेल परिवार के यहां शादी समारोह है, जहां तेज आवाज में लोक नृत्य रावला का कार्यक्रम चल रहा है। रात करीब 10 बजे तक वह इस शादी समारोह को देखता रहा और उसके बाद सो गया।

इसे भी पढ़ें: भाई बोला-दारोगा जी, मैं गर्भवती बहन को गोली मार दिया हूं, दूसरे समाज के लड़के से की थी शादी

 

रात को एक बजे करवाई हत्या
रात करीब एक बजे विनीता साहू ने अपने प्रेमी संदीप राय को फोन लगाया, संदीप अपने तीन अन्य साथियों रामकिशन सेन, भागचन्द्र अहिरवार एवं सतपाल सैनी को लेकर उसके घर में दाखिल हो गया। चारों लोगों ने जमकर शराब पी रखी थी। राजेश की हत्या की योजना पहले ही बनाई जा चुकी थी। योजना के मुताबिक राजेश के सोने पर उसकी गला दबाकर हत्या की जानी थी जैसे ही सभी लोग भीतर आए तो तीन अन्य साथियों ने देखा कि बगल में ही विनीता और राजेश की तीन बच्चियां सो रही हैं।

इसे भी पढ़ें: थानेदार के केबिन में पैंट खोल सो रहा था हेड कांस्टेबल, नजारा देख 'लाल' हो गएं SP, 5 को किया सस्पेंड

 

हत्या से कर दिया इनकार
इन बच्चों को देखकर साथियों ने हत्या करने से मना कर दिया और वे लौटने लगे लेकिन विनीता साहू ने उन्हें रोक लिया और कहा कि अब हत्या करनी जरूरी है, भले ही पकड़े जाने पर वह सारा इल्जाम अपने सिर पर ले लेगी और जेल चली जाएगी। इसके बाद संदीप ने सोते हुए राजेश के सिर पर तकिया रख दिया और विनीता ने उसका गला दबा दिया। तीनों साथियों ने राजेश के हाथ और पैर जमकर पकड़ लिया जिससे कुछ ही देर में झटपटाकर राजेश ने दम तोड़ दिया।

 

किसी को नहीं सुनाई दी चीख
घर के बाहर तेज आवाज में रावला का कार्यक्रम चल रहा था इसलिए राजेश की मामूली चीखें किसी को नहीं सुनाई दीं। घटना के बाद तीनों साथी मौके से फरार हो गए और संदीप व विनीता सुबह तीन बजे तक साथ में ही रहे फिर संदीप भी अपने घर चला गया।

इसे भी पढ़ें: 3 लड़की के साथ 15 दिन से शिवानी ले रही थी ड्रग्स, 2 लड़के कॉलोनी में रख गए शव तो दादी-चाची ने सुनाई कहानी

chhatarpur police

 

चाय-नाश्ता कर सास को बताई
विनीता हत्या की इस वारदात को अंजाम देेने के बाद एक प्रोफेशनल किलर की तरह पेश आयी। बगल में सो रहे बच्चों के सामने ही अपने पति को मौत के घाट उतारा और प्रेमी के साथ तीन घंटे तक उसी घर में मौजूद रही। सुबह 6 बजे उठकर चाय बनाई, बच्चों और खुद ने नाश्ता किया। इसके बाद सुबह राजेश साहू की मां को सूचना देकर बताया कि पति को रात को करंट लग गया है वह उठ नहीं रहे हैं। मां इस घर से दूर रहती थी वह दौड़कर घर पहुंची तो देखा कि राजेश के आसपास बिजली के तार भी पड़े हैं।

 

पुलिस को दी गई सूचना
मोहल्ले के लोगों की मदद से पुलिस को सूचना दी गई और जब पोस्टमार्टम के लिए लाश को अस्पताल लाया गया तो विनीता लाश देखकर रोने का नाटक भी करती रही। विनीता और राजेश के चार बच्चे हैं जिनमें तीन बेटियां हैं और एक बेटा है। वारदात की रात 6 साल का बड़ा बेटा अपनी दादी के साथ था।

इसे भी पढ़ें: पांच महीने की गर्भवती महिला सब इंस्पेक्टर ने डॉक्टर से 6 हजार रुपये में की डील, फिर हुआ उसके करतूतों का पर्दाफाश

 

पुलिस ने इस तरह जुटाए सुराग
करंट से मौत होने की बात सुनकर पुलिस ने लाश का पोस्टमार्टम कराया और जब रिपोर्ट आयी तो पुलिस को पता लगा कि राजेश की मौत गला दबने से हुई है। पुलिस को स्पष्ट हो गया है कि राजेश की हत्या की गई है। एसडीओपी राजाराम साहू ने बताया कि जब इस मामले के सुराग जुटाए गए तो पता लगा कि विनीता साहू का चाल-चलन ठीक नहीं है। उसके प्रेमी संदीप राय और उसकी कहानियां भी मोहल्ले से पता लगीं। संदीप राय भी 27 जून से ही बड़ामलहरा से गायब हो गया था। संदीप के बारे में जानकारी जुटाई गई तो पता लगा कि वह बड़ामलहरा के एक बैंक में अस्थायी रूप से सेवाएं दे रहा था।

 

लोन के नाम पर आएं सुपारी किलर
संदीप ने साढ़े चार लाख रुपए का लोन कराने के नाम पर हत्या के तीन अन्य आरोपियों रामकिशन सेन, भागचन्द्र अहिरवार एवं सतपाल सैनी को राजेश की हत्या करने के लिए सुपारी दी थी। वह विनीता को भी बैंक से 90 हजार रुपए का गोल्ड लोन दिला चुका था। इन तमाम जानकारियों के बाद विनीता साहू को हिरासत में लिया गया तो पूछताछ में उसने सारा सच उगल दिया।

इसे भी पढ़ें: दारोगा की रोमांटिक बातें सुनने लायक नहीं कि हम आपको सुनाएं, SP ने सुनते ही कर दिया सस्पेंड

 

संदीप के साथ रहना चाहती हूं मैं
विनीता ने बताया कि उसे अपना पति बिल्कुल पसंद नहीं था वह जिंदगी भर संदीप के साथ रहना चाहती थी इसीलिए उसने अपने पति को मौत के घाट उतार दिया। अब विनीता, उसका प्रेमी संदीप और तीनों साथी हत्या के जुर्म में जेल पहुंच गए हैं जबकि उसके चार बच्चे जिनकी उम्र डेढ़ साल से लेकर 6 साल है।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned