कोरोना मरीजों के इलाज के अभाव का मुद्दा : गांधी प्रतिमा के सामने अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे कांग्रेस विधायक

गांधी प्रतिमा के सामने कांग्रेस का अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन, कोरोना मरीजों का समुचित इलाज किए जाने की मांग को लेकर विधायकों ने धरना प्रदर्शन रविवार से शुरु किया।

By: Faiz

Updated: 18 Apr 2021, 12:34 PM IST

छिंदवाड़ा/ मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा जिले में कोरोना के इलाज और शासकीय-निजी अस्पतालों में अव्यवस्थाओं के विरोध में कांग्रेस ने फव्वारा चौक स्थित गांधी प्रतिमा के सामने हाथ पर कालीपट्टी बांधकर धरना प्रदर्शन शुरु किया। पिछले दिनों जिले के दौरे पर आए प्रभारी मंत्री से कांग्रेस के विधायकों ने जिले में कोरोना इलाज के लिए व्यापक इंतजाम की मांग रखी थी। कांग्रेसियों का आरोप है कि, इसके बाद भी जिले की स्वास्थ व्यवस्था में कोई सुधार नहीं किया गया।

 

पढ़ें ये खास खबर- Breaking News : मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन खत्म, देर रात 10 से ज्यादा मरीजों की मौत, शनिवार को भी यही थे हालात

 

देखें खबर से संबंधित वीडियो...

जिला कांग्रेस अध्यक्ष विश्वनाथ ओक्टे और विधायक सोहन बाल्मिक, कमलेश शाह, सुनील उइके, सुजीत चौधरी, नीलेश उइके एवं विजय चौरे ने प्रभारीमंत्री अरविंद सिंह भदौरिया को 14 अप्रैल को ज्ञापन सौंपकर सुझाव एवं छिंदवाड़ा वासियों के इलाज के लिए मांग की थी। प्रभारी मंत्री भदौरिया ने छिंदवाड़ा आगमन के बाद यहां लोगों को बहुत सी उम्मीदें दीं थीं


प्रभारी मंत्री ने दी थीं ये उम्मीदें

प्रभारी मंत्री ने लोगों को कई उम्मीदें देते हुए वादा किया था कि, आम नागरिकों के लिए इस कोरोना काल में स्वास्थ्य सम्बंधित व्यवस्थाएं सुधरेंगी। व्यवस्था सुधरना तो दूर वर्तमान में जो स्थितियां बनी हुई हैं, उन्हें संभाल पाने में भी सरकार विफल नजर आ रही है। इसके अलावा कांग्रेस विधायक का आरोप है किस हमारी ओर से जो सुझाव एवं मांगें दी गईं थीं उनपर आज तक कोई सार्थक पहल नहीं की गई।

 

पढ़ें ये खास खबर- CM शिवराज ने महाराष्ट्र सरकार पर लगाया गंभीर आरोप, शिवसेना सांसद बोले- 'हम नहीं करते ऐसे पाप'


उपचार में अव्यवस्थाओं का आरोप


कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक में भी कलेक्टर द्वारा आश्वासन दिया गया था कि अभी किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं है तथा शासन प्रशासन द्वारा स्वास्थ्य सम्बंधित समुचित व्यवस्था उपलब्ध की गई है, लेकिन आज दिनांक तक शाासन-प्रशासन की ओर से इसके लिये कोई व्यवस्था नहीं की गई है। कांग्रेस का आरोप है कि, मौजूदा समय में न तो जिले में रेमडेसिविर इंजेक्शन तथा फेबीफ्लू टेबलेट बाजार में उपलब्ध है और न ही जिला अस्पताल में है, यही वजह है कि, यहां भी इन दिनों मरीजों का इलाज नहीं हो पा रहा है तथा मरीजों के परिजन इंजेक्शन एवं दवाई के लिए भटकते फिर रहे हैं।


कांग्रेसियों के आरोप

शासन प्रशासन छिंदवाड़ा की जनता का किसी भी तरह का कोई सहयोग नहीं कर रहा। जिला अस्पताल में व्याप्त ऑक्सीजन की कमी को तत्काल दूर करते हुए पर्याप्त मात्रा में व्यवस्था की जाए। जिला चिकित्सालय के हर वार्ड में सम्पर्क अधिकारी नियुक्त किया जाए तथा उनका मोबाइल नम्बर मरीज एवं मरीजों के परिजन के लिए बोर्ड पर लिखे जाएं जिससे मरीज अपनी परेशानियों तथा मरीजों के परिजन अपने मरीज के स्वास्थ्य सम्बंधित जानकारी ले सके। इसके अलावा अन्य मांगें प्रशासन के समक्ष रखी।

 

पढ़ें ये खास खबर- जामनगर से आई ऑक्सीजन की पहली खैप, स्वागत करने पहुंचे भाजपा अध्यक्ष और नेता


प्रभारी मंत्री के समक्ष रख चुके हैं मांंग

आरटीपीसीआर की जांच बढ़ाने एवं रिपोर्ट 24 घंटे में प्राप्त होने की व्यवस्था बनाने। जिला अस्पताल में वेंटीलेटर की संख्या बढ़ाई जाने के साथ ही आई.सी.यू वार्ड भी बढ़ाए जाएं। रेमडेसिविर इंजेक्शन पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हों। रोजाना सैकड़ों की संख्या में मरीजों के परिजन इंजेक्शन के लिए भटक रहे हैं, उनका आर्थिक शोषण हो रहा है। पर्याप्त मात्रा में इंजेक्शन उपलब्ध कराने। जिला चिकित्सालय में ऑक्सीजन की कमी को तत्काल दूर करने, मरीजों की संख्या प्रतिदिन बढ़ रही है तथा जिला चिकित्सालय में पर्याप्त व्यवस्था नहीं बन पा रही है। प्रत्येक विधानसभा में 50 बेड का सर्वसुविधायुक्त कोविड सेंटर तत्काल प्रारंभ करने। सहित 19 मांगें प्रभारी मंत्रियों के समक्ष रखी थीं। किसी भी मांग को पूरा करने में शासन और प्रशासन समक्ष नहीं रहा है।


कोरोना की बिगड़ती स्थिति और बेहतर इलाज की मांग

अमानवीय कृत्य के विरोध में शनिवार को पूर्वमंत्री दीपक सक्सेना एवं विधायक सोहन बाल्मिक, कमलेश शाह, सुनील उइके, नीलेश उइके एवं विजय चौरे ने फव्वारा चौक पर स्थित महात्मा गांधी की प्रतिमा के समीप अनिश्चितकालीन विरोध प्रदर्शन कर मप्र शासन एवं जिला प्रशासन का ध्यान आकृष्ट करते हुए छिंदवाड़ा जिले में कोरोना से बिगड़ती स्थिति पर नियंत्रण तथा कोरोना मरीजों को समुचित इलाज की व्यवस्था की मांग की।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned