कमलनाथ का हमला, कहा- कोरोना का सच जानना है तो श्मशानों में शवों की गिनती करें, सरकारी आंकड़े बनावटी

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शिवराज सरकार पर बड़ा आरोप लगाया, उन्होंने कहा कि, अगर कोरोना से मौतों का सच जानना है तो, श्मशानों में जाकर शवों की गिनती लगाकर जानें, सरकारी आंकड़े बनावटी और सच को छुपाने वाले हैं।

By: Faiz

Published: 08 Apr 2021, 06:35 PM IST

छिंदवाड़ा/ मध्य प्रदेश में तेजी से पांव पसार रहे कोरोना वायरस और उससे मौतों के मामले को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सूबे की शिवराज सरकार पर कोरोना होने वाली मौतों के गलत आंकड़े बताने का आरोप लगाया है। कमलनाथ ने कहा कि, अगर कोरोना से होने वाली मौतों का सच पता करना है तो श्मशान में जाकर शवों की गिनती कराई जाए। शिवराज सरकार पूरी तरह बनावटी आंकड़े जारी कर रही है।

 

पढ़ें ये खास खबर- प्रदेश का सबसे बड़ा कंटेनमेंट जोन बनेगा राजधानी का कोलार, 9 दिन के लिये होगा सब बंद


नौटंकी करने का शौक है तो बॉलीवुड जाएं- कमलनाथ

गुरुवार को अल्प प्रवास पर छिंदवाड़ा पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शिवराज सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि जब आग लगने वाली थी, तब तो कुआं खोदा नहीं और अब शिवरज सिंह कुआं खोदने में लगे हैं। मुख्यमंत्री के स्वास्थ्य सत्याग्रह पर कटाक्ष करते हुए उन्होंने कहा कि, अगर उन्हें नौटंकी करने का शौक ही है, तो बाॅलीवुड में चले जाना चाहिए।


प्रशासन को दोषी क्यों कहे, जब नाटक-नौटंकी ऊपर से चल रही हो- कमलनाथ

news

कमलनाथ ने मध्य प्रदेश और अपने गृह नगर छिंदवाड़ा के हालात पर चिंता जताते हुए कहा कि, अगर ऐसे हालात में भी प्रदेश में सिर्फ नाटक-नौटंकी का माहौल है, तो प्रशासन को इसमें दोष नहीं दिया जा सकता। उदाहरण तो ऊपर से बनते हैं, सत्याग्रह कर लो, महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने बैठो, कमलनाथ ने सवाल किया कि, क्या ऐसा करने से कोविड भाग जाएगा। सायरन बजा लो ताली बजा लो, मास्क पहन कर खुली जीप पर घूम लो... ये सब नाटक नौटंकी नहीं तो क्या है। कमलनाथ ने सीएम शिवराज पर तंज कसते हुए कहा कि, ये नाटक बंद करें, अगर यही सब करने का मन है तो, मुम्बई जाकर करें।

 

पढ़ें ये खास खबर- वैक्सीनेशन के बीच दो विभागों में तनातनी : CMHO के खिलाफ लामबंद, कहा- साहब महिलाओं का सम्मान करो


प्रदेश की टेस्टिंग व्यवस्था पर सवाल

कमलनाथ ने सरकार द्वारा सुनिश्चित की गई टेस्टिंग व्यवस्था पर भी सवाल उठाते हुए कहा कि, प्रदेश में कम टेस्टिंग की जा रही है, जबकि महाराष्ट्र में करीब 2 लाख टेस्टिंग हो रही है। श्मशान घाट के आंकड़े देखें, तो स्थिति कुछ और ही बयान कर रही है, जो भयावह है। सरकार बनावटी आंकड़े प्रस्तुत कर रही है। छिंदवाड़ा के सौंसर और पांढुर्णा में ही करीब 150 मौतें हुई हैं, लेकिन आज बैठक के बाद जो जानकारी प्रशासन द्वारा मुझे दी गई, उस हिसाब से तो हालात सामान्य हैं।

9 दिन तक लॉकडाउन लगाने का फैसला - video

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned