बिजली कटौती से हो रहा फसलों को नुकसान, ग्रामीणों ने घेरा विद्युत कंपनी का दफ्तर

सैकड़ों की संख्या में गांव के लोग वितरण केन्द्र पहुंचे। गुस्साए लोगों ने बिजली कंपनी के अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

By: Faiz

Updated: 26 Nov 2020, 03:56 PM IST

छिंदवाड़ा/ मध्य प्रदेश के बैतूल-छिंदवाड़ा नेशनल हाईवे पर स्थित सांवरी के विद्युत वितरण केन्द्र का गुरुवार को गुबरेल गांव के निवासियों ने घेराव कर दिया। सैकड़ों की संख्या में गांव के लोग वितरण केन्द्र पहुंचे। गुस्साए लोगों ने बिजली कंपनी के अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। तमाम कोशिशों के बाद भी लोग शांत नहीं हुए। आखिर उन्हें अधिकारियों ने सुचारू बिजली सप्लाई का आश्वासन, दिया जिसके बाद मामला शांत किया जा सका।

 

पढ़ें ये खास खबर- अब मध्य प्रदेश में पराली जलाने पर लगेगी रोक, बायोगैस बनाने के लिए लगाए जाएंगे प्लांट


देखें खबर से संबंधित वीडियो...

विद्युत कंपनी से शिकायत

सांवरी चौकी क्षेत्र के ग्राम गुबरेल के सैकड़ों ग्रामीणों ने सांवरी बाजार विद्युत वितरण केंद्र का घेराव किया। गांव के लोगों का आरोप हैं कि,कंपनी द्वारा समय से बिजली की सप्लाई नहीं की जा रही, जिसके चलते खेतों में लगी फसल को नुकसान हो रहा है। बिजली की आंख मिचौली के कारण किसानों के विद्युत पंप खराब हो रहे हैं। बिजली कंपनी के अधिकारियों और कर्मचारियों से सुधार के लिए कई बार चर्चा की जा चुकी है, लेकिन कोई सुधार ही नहीं किया जा रहा, जिसके चलते किसानों और ग्रामीणों में आक्रोश है।

 

पढ़ें ये खास खबर- करियर को लेकर हैं परेशान, तो CCM संस्था कर रही है समाधान, अब तक सैकड़ों लोगों को फायदा


सरपंच के नेतृत्व में किया ग्रामीणों ने घेराव

किसानों ने एकजुट होकर ग्राम सरपंच के नेतृत्व में विद्युत वितरण केन्द्र का घेराव किया। विवाद की स्थिति न बने इसके लिए मौके पर सांवरी चौकी से पुलिस बल भी तैनात किया गया है। किसानों का आरोप हैं कि, सिंचाई के लिए दस घंटे बिजली सप्लाई देना निर्धारित किया गया हैं, लेकिन आठ घंटे भी पूरी तरह बिजली नहीं मिल रही, जिसके कारण पर्याप्त सिंचाई न हो पाने से खड़ी फसलें सूखने लगी हैं।

 

पढ़ें ये खास खबर- 'जनजातीय गौरव सम्मान समारोह' में पहुंचे शिवराज, दी करोड़ों की सौगात


बार-बार खराब हो रहा ट्रांसफार्मर

विद्युत वितरण कंपनी के अधिकारी से चर्चा में गुबरेल गांव के निवासियों ने कहा कि, उनके यहां लगा ट्रांसफार्मर बार-बार खराब हो रहा है, जिसके चलते बिजली की सप्लाई प्रभावित हो रही है। ट्रांसफार्मर पर लोड बढ़ने से ये स्थिति बन रही है। अधिकारियों से कई बार ट्रांसफार्मर बदलने की अर्जी लगाई जा चुकी है, लेकिन किसी को इस समस्या का निदान करने का ध्यान ही नहीं आ रहा।

 

पढ़ें ये खास खबर- बंगाल की खाड़ी से उठा चक्रवाती तूफान 'निवार', पूर्वी इलाकों में बारिश के आसार, फिर पड़ेगी कड़ाके की ठंड


किसानों ने कंपनी को दी चेतावनी

कंपनी में उपस्थित अधिकारी ने गांव के लोगों को आश्वासन दिया कि, उनकी समस्या का जल्द से जल्द निराकरण किया जाएगा। निराकरण का आश्वासन मिलने के बाद आंदोलन कर रहे ग्रामीण शांत हुए हैं। हालांकि, किसानों ने जाते-जाते चेतावनी दी है कि, अगर समस्या का समाधान तय समय पर नहीं हुआ, तो आने वाले दिनों में उग्र आंदोलन किया जाएगा, जिसके जिम्मेदार सांवरी विद्युत वितरण केन्द्र में पदस्थ अधिकारी ही होंगे।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned