केंद्रीय मंत्री के बेटेे की गाड़ी चेक नहीं करने पर दो पुलिसवाले सस्पेंड, सांसद के बेटे का चालान

केंद्रीय मंत्री के बेटेे की गाड़ी चेक नहीं करने पर दो पुलिसवाले सस्पेंड, सांसद के बेटे का चालान
अश्विनी चौबे (फाइल फोटो)

Amit Kumar Bajpai | Updated: 08 Sep 2019, 05:02:35 PM (IST) क्राइम

  • शहर में चलाया जा रहा है वाहन चेकिंग अभियान
  • गाड़ी में सांसद लिखा देख किसी ने नहीं की चेकिंग
  • एक अन्य सांसद के बेटे का 1000 रुपये का चालान

पटना। बिहार में केंद्रीय मंत्री के बेटे की गाड़ी को बिना रोके जाने देना दो पुलिसवालों को महंगा पड़ा। पटना में हुए इस वाक्ये की जानकारी मिलते ही कमिश्नर ने तुरंत दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई का आदेश दिया। इसके बाद दोनों पुलिसकर्मी संस्पेंड कर दिए गए। मामला केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री अश्विनी चौबे के बेेटे की गाड़ी से जुड़ा था। वहीं, एक सांसद के बेटे का पटना में चालान कर दिया गया।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक रविवार को पटना में वाहन चेकिंग अभियान चल रहा था। इसका नेतृत्व कमिश्नर आनंद किशोर कर रहे थे। जानकारी के मुताबिक चेकिंग अभियान के दौरान केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे की गाड़ी को जांच के लिए रोका गया।

देश के हालात का हवाला देकर एक और आईएएस का इस्तीफा

मंत्री के परिवार वाले स्कॉर्पियो में बैठे हुए थे। बताया जा रहा है कि इस गाड़ी में केंद्रीय मंत्री के बेटे अर्जित चौबे के साथ बहू और पत्नी सवार थीं।

पाटलिपुत्र से सांसद रामकृपाल यादव के बेटे ने रविवार को यातायात नियमों का उल्लंघन किया

चेकिंग में वाहन रोकने के बावजूद इसपर सांसद लिखा देख वहां मौजूद किसी पुलिस अधिकारी या कर्मी ने आगे बढ़कर इसे जांचने की कोशिश नहीं की। जबकि वाहन में सवार लोग यह सब होता देख इंतजार करते रहे।

INX मीडिया केसः तिहाड़ जेल जाने से पहले पी चिदंबरम ने बताई अपनी बड़ी चिंता

इसके बाद गाड़ी को जाने दिया गया। किसी ने यह जानकारी कमिश्नर आनंद किशोर को दी, तो उन्होंने तुरंत आदेश दिया कि दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। इसके बाद आननफानन में वहां तैनात दारोगा देवपाल पासवान और कॉन्सटेबल दिलीप चंद को तुरंत सस्पेंड कर दिया गया।

वहीं, पटना में एक अगल घटना देखने को मिली। यहां पर पाटलिपुत्र से सांसद रामकृपाल यादव के बेटे ने रविवार को यातायात नियमों का उल्लंघन किया। इसके बाद उनके ऊपर 1,000 रुपये का जुर्माना लगाया गया।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned