script अब तक 63 मिलर्स ने जमा नहीं कराया चावल, इधर धान उठाव के लिए पंजीयन शुरू | 63 millers did not deposit rice Durg News | Patrika News

अब तक 63 मिलर्स ने जमा नहीं कराया चावल, इधर धान उठाव के लिए पंजीयन शुरू

locationदुर्गPublished: Dec 01, 2023 11:10:09 am

Submitted by:

Khyati Parihar

Durg News: कस्टम मिलिंग का चावल जमा कराने के मामले में जिले के मिलर्स ने कलेक्टर के आदेश पर ध्यान नहीं दिया।

63 millers did not deposit rice Durg News
63 मिलर्स ने जमा नहीं कराया चावल, इधर धान उठाव के लिए पंजीयन शुरू
दुर्ग। Chhattisgarh News: कस्टम मिलिंग का चावल जमा कराने के मामले में जिले के मिलर्स ने कलेक्टर के आदेश पर ध्यान नहीं दिया। लिहाजा मियाद खत्म होने के बाद भी जिले के 63 मिलर्स ने कस्टम मिलिंग का पूरा चावल जमा नहीं कराया। कलेक्टर ने सप्ताहभर पहले मिलर्स की बैठक लेकर तय मियाद में शत-प्रतिशत चावल जमा कराने कहा था। तब 64 मिलर्स ने चावल जमा नहीं कराया था। कलेक्टर के निर्देश के बाद केवल एक मिलर ने पूरा चावल जमा कराया है।
कस्टम मिलिंग का चावल जमा कराने की मियाद तीन बार बढ़ाई जा चुकी है। आखिरी बार राज्य शासन की ओर से 30 नवंबर तक की तिथि मिलर्स को चावल जमा कराने के निर्देश दिए गए थे। तब कलेक्टर ने मिलर्स को तलब कर हर हाल में 30 नवंबर तक चावल जमा कराने कहा था। गुरुवार को शासन द्वारा तय मियाद खत्म हो गई, लेकिन 63 मिलर्स ने अपना पूरा चावल जमा नहीं कराया। चावल जमा नहीं कराने वालों में 9 राइस मिलर्स ऐसे है जिन्होंने उठाव किए गए धान के कुल जमा योग्य अनुपातिक चावल का अब तक मात्र 30 प्रतिशत या इससे ज्यादा चावल जमा नहीं किया है।
यह भी पढ़ें

Bhilai News: गाली-गलौज कर रहे युवकों को रोकना पड़ा भारी, मोहल्लेवालों से ही जमकर की मारपीट

धान के उठाव के लिए पंजीयन शुरू

इधर जिन मिलर्स ने कुल जमा योग्य चावल का 70 प्रतिशत जमा कर लिया उनका भी जारी वर्ष के उपार्जित धान के कस्टम मिलिंग के लिए पंजीयन शुरू कर दिया गया है। इस तरह संपूर्ण चावल जमा नहीं कर पाने वाले 54 राइस मिलर्स भी अब अपना पंजीयन करा सकेंगे और धान का उठाव कर सकेंगे।
इस तरह समझें स्थिति को

खाद्य विभाग से मिली जानकारी मुताबिक कस्टम मिलिंग का सबसे कम चावल जमा करने वालों में सम्यक एग्रो इंडस्ट्रीज शामिल है। सम्यक एग्रो द्वारा उठाव किए गए धान के एवज में 899 क्विटल चावल जमा करना था, लेकिन इनके द्वारा मात्र 290 क्विटल चावल जमा किया गया। जो कुल जमा योग्य चावल का मात्र 32 प्रतिशत है। वहीं देव उद्योग यूनिट 2 से 1093, श्री राम राइस मिल अंडा 1065, एसके सारटेक्स प्राइवेट लिमि 796, श्री श्याम राइस मिल लिसी गोविन्द इंडस्ट्रीज 742, मीरा ट्रेड्रस 558, देव उद्योग जवाहर नगर 667, नर्मदा पल्सेस 220 व वेदर एग्रीटेक से 167 क्विंटल चावल जमा लेना बाकी है।

ट्रेंडिंग वीडियो