आत्मा से जुड़ी इन 10 बातों से अंजान होंगे आप, शरीर छोड़ते ही होते हैं ये बदलाव

आत्मा से जुड़ी इन 10 बातों से अंजान होंगे आप, शरीर छोड़ते ही होते हैं ये बदलाव

Soma Roy | Updated: 26 Jul 2019, 02:12:37 PM (IST) दस का दम

  • Facts about spirit : अमरीका के डॉर्चेस्टर में आत्मा के वजूद पर की गई रिसर्च
  • शरीर में आत्मा का वजन 21 ग्राम बताया गया है

नई दिल्ली। आत्मा को नश्वर माना जाता है। आध्यात्मिक दृष्टि से इसका न कोई आकारा होता है और न ही स्वरूप। मगर विज्ञान के एक तथ्य के अनुसार आत्मा को शरीर के दूसरे अंगों के समान माना गया है। तभी इसका वजन भी होता है और शरीर को छोड़ने पर कई बदलाव भी नजर आते हैं। तो क्या है आत्मा से जुड़े रहस्य आइए जानते हैं।

1.आध्यात्मिक दृष्टिकोण से आत्मा शरीर में वास करती हैं। मगर मृत्यु के बाद ये शरीर को त्याग देती है और दूसरे शरीर को धारण कर लेती है। आत्मा ईश्वर का ही एक स्वरूप है। मगर इसे कोई देख नहीं सकता है।

रास्ते में दिखे शव यात्रा तो करें ये 10 काम, यज्ञ के बराबर मिलेगा पुण्य

2.वैज्ञानिकों ने आध्यात्मिक विचारधारा से परे एक रिसर्च की है। जिसमें आत्मा के वजूद को लेकर प्रमाण दिए गए है। डॉ.डंकन मैक डॉगल की ओर से किए गए शोध में बताया कि आत्मा का भी वजन होता है, जो कि शरीर के दूसरे अंगों के समान होता है।

3.डंकन ने अपनी रिसर्च को पुख्ता करने के लिए अपने चार अन्य सहयोगियों को इस शोध में शामिल किया। उन्होंने आत्मा के वजन को नापने के लिए मरने वाले व्यक्ति को फेयरबैंक्स वेट स्केल पर रखा।

4.डंकन ने इस स्केल को खास तकनीक से तैयार किया है। जिसमें शरीर में होने वाले छोटे से छोटे बदलाव को भी परखा जा सके। उन्होंने ये रिसर्च साल 1901 में की थी।

5.अमरीका के डॉर्चेस्टर में हुए इस परीक्षण में डॉ. डंकन ने ऐसे व्यक्तियों पर शोध किया, जिनकी जल्द ही मौत होने वाली थी। ऐसे लोग बीमारी से पीड़ित थे, तो वहीं कुछ अन्य परेशानियों से घिरे हुए थे।

soul

6.शोध में चार पुरुष और एक महिला को शामिल किया गया था। इनकी पल्स रेट लो होने से पहले इन्हें बहुत सावधानी के साथ स्केल मशीन पर रखा गया था।

7.रिसर्च में पाया गया कि आत्मा का वजन करीब 21 ग्राम होता है। ये शरीर के दूसरे अंगों की तरह ही वजन रखती है। इसलिए आत्मा के शरीर छोड़ने पर बॉडी हल्की होने लगती है।

8.जिस तरह से मृत्यु के समय एक-एक बॉडी पार्ट्स खराब होने लगते हैं। जिसके चलते शरीर काम करना बंद कर देता है। वैसे ही आत्मा विघटित हो जाती है।

9.डॉ.डंकन ने आत्मा के बारे में जानने के लिए न सिर्फ इंसानों पर बल्कि जानवारों पर भी रिसर्च की है। उन्होंने इसके लिए कुत्तों को शामिल किया था।

10.रिसर्च के मुताबिक आत्मा महज इंसानों में होती है। तभी उसका वजन भी होता है। जबकि दूसरे जीवों में इनका कोई वजूद नहीं है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned