किसानों को मिल सकती है आर्थिक पैकेज की अगली किस्त, शाम 4 बजे वित्त मंत्री करेंगी प्रेस कांफ्रेंस

  • आज फिर प्रेस कांफ्रेंस करेंगी वित्त मंत्री
  • किसानों के लिए हो सकती है बड़ी घोषणाएं
  • ऑटोमोबाइल सेक्टर को भी है उम्मीद

By: Pragati Bajpai

Updated: 14 May 2020, 04:16 PM IST

नई दिल्ली: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ( FINANCE MINISTER NIRMALA SITHARAMAN) आज एक बार फिर से प्रेस कांफ्रेस करेंगी । सूत्रों की मानें तो शाम 4 बजे होने वाली इस प्रेस कांफ्रेंस ( PRESS CONFRENCE ) में वित्त मंत्री साहिबा आर्थिक राहत पैकेज की अगली किस्त के बारे में जानकारी देंगी । कहा तो ये भी जा रहा है कि आज की प्रेस कांफ्रेंस ( FINANCE MINISTER PRESS CONFRENCE ) में होने वाली घोषणाओं के जरिए मुख्य रुप से किसानों को राहत दी जाएगी। इसके अलावा श्रम सुधार, ऑटोमोबाइल सेक्टर के लिए भी बड़े ऐलान किए जा सकते हैं। साथ ही साथ सप्लाई चेन को दुरुस्त करने के लिए मोदी सरकार ( MODI GOVT ) की तरफ से बड़ी राहत दिए जाने की उम्मीद है।

आपको बता दें कि हमने आपको कल ही बताया था कि 20 लाख के आर्थिक पैकेज में कल बुधवार को सरकार की तरफ से लगभग 6 लाख रुपए की घोषणाएं की गयीं थी और वित्त मंत्री ने खुद कहा था कि वो अगले कुछ दिनों तक अपनी टीम के साथ जनता के समक्ष आकर राहत से संबंधित कामों और योजनाओं के बारे में लगातार अपडेट देती रहेंगी ।

जल्द होगा एक और पैकेज का ऐलान, मोदी सरकार ने आज बांटे लगभग 6 लाख करोड़

20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज की हुई है घोषणा- मंगलवार रात में राष्ट्र को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ( PM MODI ) ने 20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज ( ECONOMMIC RELIEF PACKAGE ) की घोषणा की है। इस अब तक का सबसे बड़ा पैकेज बताया जा रहा है और कहा जा रहा है कि जर्मनी ने भी अपने देश के लिए इतने ही पैकेज की घोषणा की है।

Taxpayers को बड़ी राहत, 30 नवंबर तक भर सकेंगे Income Tax, TDS में 25 फीसदी कटौती

बुधवार को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इसी आर्थिक पैकेज ( FINANCIAL STIMULOUS PACKAGE ) के बारे में कुछ घोषणाएं की थी । मुख्य रुप से बुधवार को msmes को राहत देने की घोषणाएं की गई थी । न सिर्फ इस सेक्टर को 3 लाख के बिना गारंटी लोन की सौगात दी गई थी बल्कि सरकार ने इस क्षेत्र में प्रतिस्पर्द्धा की भावना जागरूक करने के लिए इसकी परिभाषा को बदल दिया है। अब MSMEs सेक्टर में निवेश से लेकर टर्नओवर तक का दायरा बढ़ा दिया गया है। अब एक करोड़ रुपये तक निवेश करके पांच करोड़ रुपये तक कारोबार करने वाले उद्योग सूक्ष्म में आएंगे। वहीं 10 करोड़ तक का निवेश करके 50 करोड़ रुपये तक कमाने वाली कंपनियां लघु उद्योग में आएंगी।

इसके अलावा सरकार ने टैक्स पेयर्स ( taxpayers ) के लिए ITR से लेकर टैक्स विवाद को सुलझाने जैसे कामों की आखिरी तारीख को भी आगे बढ़ा दिया है।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण Nirmala Sitharaman
Show More
Pragati Bajpai
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned