scriptUnemployment rises at double in a week amid Covid 19 2nd wave | कोविड 19 की दूसरी लहर के बीच एक हफ्ते में दोगुनी रफ्तार से बढ़ी बेरोजगारी | Patrika News

कोविड 19 की दूसरी लहर के बीच एक हफ्ते में दोगुनी रफ्तार से बढ़ी बेरोजगारी

सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी (सीएमआईई) के आंकड़ों से पता चलता है कि 16 मई को समाप्त सप्ताह में ग्रामीण बेरोजगारी बढ़कर 14.34 फीसदी हो गई, जो 9 मई को समाप्त सप्ताह में 7.29 फीसदी थी। जिसकी वजह से ग्रामीण बेरोजगारी 50-सप्ताह के उच्चतम स्तर पर है।

नई दिल्ली

Updated: May 19, 2021 02:11:32 pm

नई दिल्ली। कोविड 19 की दूसरी लहर के प्रकोप के कारण एक सप्ताह में ग्रामीण बेरोजगारी लगभग दोगुनी हो गई है क्योंकि गांवों में तालाबंदी और बढ़ते कोविड संक्रमण ने आर्थिक गतिविधियों को रोक दिया है। खेती में सुस्ती बेरोजगारी को बढ़ा रही है। सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी (सीएमआईई) के आंकड़ों से पता चलता है कि 16 मई को समाप्त सप्ताह में ग्रामीण बेरोजगारी बढ़कर 14.34 फीसदी हो गई, जो 9 मई को समाप्त सप्ताह में 7.29 फीसदी थी। जिसकी वजह से ग्रामीण बेरोजगारी 50-सप्ताह के उच्चतम स्तर पर है।

Unemployment rises at double in a week amid Covid 19 2nd wave
Unemployment rises at double in a week amid Covid 19 2nd wave

यह भी पढ़ेंः- महात्मा गांधी मर्डर केस में नाथूराम गोडसे का वो अंतिम बयान, जिसे सुनकर आंखें हो गई थी नम

शहरी बेरोजगारी में भी इजाफा
अगर बात शहरी बेरोजगारी की करें तो एक सप्ताह पहले की तुलना में तीन फीसदी अधिक बढ़कर 14.71 फीसदी हो गई है। वहीं राष्ट्रीय बेरोजगारी दर 8.67 फीसदी से बढ़कर 14.45 फीसदी हो गई, जो दूसरी कोविड लहर के बीच नौकरियों के संकट को उजागर करती है। जानकारों की मानें तो आने वाले सप्ताहों में राष्ट्रीय बेरोजगारी की दर में और ज्यादा इजाफा देखने को मिल सकता है। जनवरी से लेकर अप्रैल के बीच में 1 करोड़ लोग बेरोजगार हो चुके हैं।

यह भी पढ़ेंः- 18 राज्यों के चीफ मिनिस्टर्स से कम है केरल के मुख्यमंत्री की सैलरी, पी. विजयन को हर महीने मिलेंगे इतने रुपए

यह आंकड़े भी सामने आए
सीएमआईई के अनुसार, रोजगार दर और श्रम बल भागीदारी दर में काफी कमी आई है। अखिल भारतीय स्तर पर रोजगार की दर 16 मई को समाप्त सप्ताह में गिरकर 34.67 प्रतिशत हो गई, जो एक सप्ताह पहले 37.72 प्रतिशत थी। इस दौरान ग्रामीण रोजगार दर 39.84 फीसदी से घटकर 36.26 फीसदी रह गई है। जानकारों की मानें तो फसल के मौसम और मानसून तक बुवाई के बीच का अंतर, कृषि क्षेत्र में अवशोषण कम होगा।

यह भी पढ़ेंः- चीन के बयान के बाद Bitcoin Price Crash, 1 हफ्ते में 16 हजार डॉलर हुआ सस्ता

आखिर क्यों बढ़ी गांवों में बेरोजगारी
अर्थशास्त्रियों ने कहा कि उच्च संक्रमण दर और शहरी समूहों में तालाबंदी के कारण रोजगार के अवसरों की कमी ने लोगों को अपने गांवों के लिए छोडऩे के लिए मजबूर किया। लेकिन ग्रामीण इलाकों में आय के पर्याप्त अवसर नहीं हैं। इसके अलावा, ग्रामीण तालाबंदी और कफ्र्यू ने औपचारिक और अनौपचारिक दोनों क्षेत्रों में लोगों को बेरोजगार कर दिया है, और मई में कृषि गतिविधि में कमी बेरोजगारी को बढ़ा रही है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Maharashtra: गृहमंत्री शाह ने महाराष्ट्र के उमेश कोल्हे हत्याकांड की जांच NIA को सौंपी, नुपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट करने के बाद हुआ था मर्डरMaharashtra Politics: बीएमसी चुनाव में होगी शिंदे की असली परीक्षा, क्या उद्धव ठाकरे को दे पाएंगे शिकस्त?PM Modi In Telangana: 6 महीने में तीसरी बार तेलंगाना के CM केसीआर ने एयरपोर्ट पर PM मोदी को नहीं किया रिसीवSingle Use Plastic: तिरुपति मंदिर में भुट्टे से बनी थैली में बंट रहा प्रसाद, बाजार में मिलेंगे प्लास्टिक के विकल्पकेरल में दिल दहलाने वाली घटना, दो बच्चों समेत परिवार के पांच लोग फंदे पर लटके मिलेक्या कैप्टन अमरिंदर सिंह बीजेपी में होने वाले हैं शामिल?कानपुर में भी उदयपुर घटना जैसी धमकी, केंद्रीय मंत्री और साक्षी महाराज समेत इन साध्वी नेताओं पर निशाना500 रुपए के नोट पर RBI ने बैंकों को दिए ये अहम निर्देश, जानिए क्या होता है फिट और अनफिट नोट
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.