scriptUP Election 2022 Amazing district till today only one woman became MLA | UP Election 2022 कमाल का है ये जिला, आज तक सिर्फ एक महिला बनी विधायक | Patrika News

UP Election 2022 कमाल का है ये जिला, आज तक सिर्फ एक महिला बनी विधायक

Uttar Pradesh Assembly Election 2022 चुनाव 2022 के तीसरे चरण की वोटिंग होने जा रही है। एक रोचक जानकारी हैरान कर देगी। यूपी में एक ऐसा जिला है जिसमें आजादी के बाद से आज तक सिर्फ एक महिला ही विधायक बनी है। कमाल का जिला है भाई

एटा

Published: February 18, 2022 01:18:42 pm

यूपी विधानसभा चुनाव 2022 के दो दौर की वोटिंग खत्म हो चुकी है। तीसरे चरण के लिए 20 फरवरी को वोटिंग होने वाली है। बाकी के चरणों के लिए चुनाव प्रचार चल रहे हैं। इस बीच कई चुनाव सम्बंधित रोचक जानकारी मिल रहीं हैं। जिन्हें जानकर आप हैरान हो जाएंगे। तीसरे चरण में एटा जिले के लिए भी मतदान होगा। यह जानकर ताज्जुब होगा कि, एटा में आजादी के बाद से अब तक एक ही महिला उम्मीदवार ने चुनाव जीता है। जिनका नाम है मिथिलेश कुमारी। मिथिलेश कुमारी ने 1996 में जलेसर सीट से विधानसभा चुनाव जीता था। आजादी के बाद एटा जिले में विधायक बनने वाली मिथिलेश कुमारी अकेली और पहली महिला हैं। चुनाव 2022 में एटा का चुनावी इतिहास बदलने की संभावना प्रबल है। क्योंकि इस बार विधानसभा चुनाव 2022 के लिए जिले की सभी चार सीटों एटा सदर, अलीगंज, मरहरा और जलेसर में रिकॉर्ड आठ महिला उम्मीदवार मैदान में हैं।
UP assembly election 2022
UP assembly election 2022
भाजपा, बसपा और सपा ने महिलाओं को नहीं दिया टिकट

एक बड़े न्यूज पेपर की खबर के अनुसार, यूपी विधानसभा चुनाव में एटा जिले में कांग्रेस ने तीन महिला उम्मीदवारों को टिकट दिया है, जबकि आम आदमी पार्टी ने एक को मैदान में उतारा है। क्षेत्रीय दलों ने तीन महिला उम्मीदवारों पर अपना विश्वास जताया हैं। इसके साथ ही एक निर्दलीय उम्मीदवार है। भाजपा, बसपा और सपा ने एटा जिले की किसी भी विधानसभा सीट से एक भी महिला को टिकट नहीं दिया है। अलीगंज सीट से एक भी महिला उम्मीदवार नहीं है, जबकि एटा सदर सीट से सिर्फ एक महिला उम्मीदवार गुंजन मिश्रा हैं, जिन्हें कांग्रेस ने टिकट दिया है।
यह भी पढ़ें

बुंदेलखंड के युवा अब नहीं रहेंगे कुंवारे आखिर सीएम योगी ने ऐसा क्यों कहा, जानें क्या है राज

चुनाव 2022 में है महिला उम्मीदवारों की धमक

जलेसर सीट से इस बार तीन महिला उम्मीदवार चुनाव लड़ रही हैं। कांग्रेस पार्टी की नीलम राज, आम आदमी पार्टी की प्रेम और वोटर्स पार्टी इंटरनेशनल की इंद्रेश कुमारी चुनावी मैदान में हैं। मरहरा विधानसभा सीट से चार महिलाएं चुनाव लड़ रही हैं। इनमें कांग्रेस से तारा राजपूत, राष्ट्रीय पिछड़ा पार्टी से ममता सिंह, जन अधिकार पार्टी से सुनीता शाक्य और निर्दलीय उम्मीदवार विद्या वर्मा शामिल हैं।
यह भी पढ़ें

गोरखपुर में जब सपा प्रत्याशी ने दो दिग्गज भाजपा नेताओं से मांगा आशीर्वाद, चौंक गए नेता और वोटर

अब तक कुल 26 महिला प्रत्याशियों ने लड़ा चुनाव

एटा जिले में आजादी के बाद करीब 17 विधानसभा चुनाव हुए हैं। और जिले की चारों विधानसभा सीट से अब तक कुल 26 महिला प्रत्याशियों ने चुनाव लड़ा है। पर सिर्फ एक ही मलिा विधायक बन सकी है। पिछले तीन चुनावों में राजनीतिक दलों ने केवल तीन महिला उम्मीदवारों को मैदान में उतारा था। 2002 में कांग्रेस ने अलीगंज सीट के लिए चंदा बेगम, 2007 में सुधा कुमारी जलेसर सीट से टिकट हदया था। 2012 में भाजपा ने जलेसर सीट से पूर्व विधायक मिथिलेश कुमारी को मैदान में उतारा था। पर कमाल की बात है कि इनमें से कोई भी उम्मीदवार दूसरा स्थान हासिल नहीं कर पाया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.