बड़ी कार्रवाई: अब ग्रेटर नोएडा में 13 मंजिला इमारत ढहने का खतरा, बिल्डर समेत दो गिरफ्तार

ग्रेटर नोएडा के बीटा-2 में खुदाई के दौरान बेसमेंट में भरे पानी से मिट्टी ढही 13 मंजिल इमारत के गिरने का खतरा

By: lokesh verma

Published: 23 Jul 2018, 10:41 AM IST

ग्रेटर नोएडा. बिल्डरों की मनमानी अब आम लोगों के जीवन पर भारी पड़ने लगी है। कासना थाना क्षेत्र में एक बिल्डर ने बिना किसी सावधानी के बेसमेंट की खुदाई करा दी और बरसात का पानी पास की 13 मंजिला इमारत तक पहुंच गया। इससे बिल्डिंग को नुकसान पहुंचने का खतरा बना तो फ्लैट निवासियों ने हंगामा कर दिया। इसके बाद प्राधिकरण ने बिल्डर के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

गाजियाबाद: पांच मंजिला इमारत के मलबे से एक मासूम समेत दो के शव निकाले, 9 लोग घायल, रेस्क्यू आॅपरेशन जारी

शाहबेरी और गाजियाबाद के बाद अब ग्रेटर नोएडा के बीटा-2 में स्थित स्पार्क डिवाइन सोसाइटी की बहुमंजिला इमारत गिरने का खतरा मंडराने लगा है। दरअसल, इस सोसाइटी के बगल में एक नई इमारत बनाने के लिए बेसमेंट की खुदाई की जा रही थी। इसके चलते बारिश और पाइप लाइन लीक होने से भारी मात्रा में पानी जमा हो गया और उसके किनारे की मिट्टी ढहने लगी, जिससे इस इलाके में दहशत फैल गई। मौके पर पहुंची पुलिस रेत के बोरे लगाकर जैसे-तैसे मिट्टी ढहने को रोक दिया। पुलिस अधिकारियों ने जांच के दौरान पाया गया कि मेसर्स हाई-कस्टले रियल ट्रैक लिमिटेड के मालिक अंकित शर्मा ने बारिश के मौसम में बेसमेंट की खुदाई करा दी। खुदाई के दौरान मिट्टी के कटान और उसे धंसने से रोकने के लिए बैरिकेडिंग नहीं की गई। इतना ही नहीं, बेसमेंट की खुदाई से मेन सीवर लाइन, जलापूर्ति और दूसरी सेवाएं भी क्षतिग्रस्त हो गईं। इससे बीटा-2 में 13 मंजिला इमारत को खतरा पैदा हो गया है। प्राधिकरण की तरफ से बेसमेंट खोदने वालों पर 5 लाख की पेनल्टी लगाई गई है। इसके अलावा प्राधिकरण के प्रबंधक ब्रह्म सिंह की शिकायत पर कासना थाने में मुकदमा भी दर्ज कराया गया है।

गाजियाबाद में निर्माणाधीन 5 मंजिला इमारत गिरने का जिम्मेदार कौन?

इस मामले में एसपी देहात ग्रेटर नोएडा आशीष श्रीवास्तव ने बताया कि कासना थाने में दर्ज एफआईआर पर कार्रवाई करते हुए सार्वजनिक सम्पत्ति को नुकसान निवारण अधिनियम के अंतर्गत आरोपी अंकित शर्मा पुत्र विनित शर्मा, निवासी विवेक विहार दिल्ली और सुपरवाइजर संजय तोमर पुत्र सुरेन्द्र सिह निवासी रजनी बिहार पिलखुवा हापुड़ को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

गाजियाबाद में 5 मंजिला इमारत गिरने के दौरान मलबे में दबे लोगों को NDRF की टीम ने दिया जीवनदान, देखें वीडियो-

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned