Droom का OBV बना देश का तीसरा बड़ा सर्च इंजन

Droom का OBV बना देश का तीसरा बड़ा सर्च इंजन

Manoj Kumar | Publish: Sep, 06 2018 05:06:45 PM (IST) इंडस्‍ट्री

कंपनी ने एक बयान जारी कर यह जानकारी दी है।

नई दिल्ली। ऑनलाइन ऑटोमोबाइल खरीद बेच मार्केटप्लेस ड्रूम के प्राइसिंग इंजन ऑरेंज बुक वैल्यू (ओबीवी) के यूजरों की संख्या 20 करोड़ के पार पहुंच गई है और हर महीने करीब 1.5 करोड़ लोगों के इसका उपयोग करने से यह देश का तीसरा सबसे बड़ा सर्च इंजन भी बन गया है। कंपनी की ओर से गुरुवार को जारी बयान में यह जानकारी दी गई है। कंपनी की ओर से जारी किए गए बयान में कहा गया है कि बेंचमार्क प्राइसिंग इंजन किसी भी पुराने वाहन के उचित बाजार मूल्य का आंकलन करता है।

2016 में शुरू हुआ था ओबीवी

कंपनी ने वर्ष 2016 में इसे शुरू किया था और 28 महीने के भीतर इसका यूजर बेस 20 करोड़ के आंकड़े को पार कर चुका है। पिछले आठ महीने में 10 करोड़ उपभोक्ताओं ने इसका उपयोग किया है। उसने कहा कि पुराने वाहनों के मूल्य को निर्धारित करने की प्रक्रिया कठिन रही है क्योंकि यह अब तक सांख्यिकीय या वैज्ञानिक परिप्रेक्ष्य के बिना पूरी तरह से व्यक्तिगत मूल्यांकन मानकों पर निर्भर था। हालांकि, इस ऑनलाइन टूल के लॉन्च के साथ वाहन खरीदने और बेचने वालों के लिए मूल्य निर्धारण पर निर्णायक सर्वसम्मति के साथ पहुंचना आसान हो गया है।

ओबीवी पर 10 सेकंड में मिल जाता है पुराने वाहन का मूल्य

ड्रूम की ओबीवी पर 10 सेकंड में किसी भी पुराने वाहन का उचित बाजार मूल्य हासिल किया जा सकता है। यही कारण है कि हर महीने 1.5 करोड़ यूजर ओबीवी से जुड़ रहे हैं। ओबीवी 100 से ज्यादा कंपनियों के 24,000 से ज्यादा उत्पादों, करीब 1,000 मॉडलों और 4,000 संस्करणों को कवर करता है, जिनका उत्पादन पिछले 15 से 16 साल में हुआ है।

ये भी पढ़ें---

एअर इंडिया को चाहिए 500 करोड़ रुपये, इन बैंकों व वित्तीय संस्थाआें से मांगी मदद

खुशखबरी: अब दो दिन में पोर्ट होगा मोबाइल नंबर, ट्राई ने उठाया यह कदम

रुपया@72: रिकाॅर्ड निचले स्तर पर फिसला, मोदी सरकार के लिए बढ़ गर्इ ये चुनौती

फेसबुक ने निकालीं 20 हजार से अधिक नौकरियां, 4 लाख रुपए तक होगी सैलरी

Ad Block is Banned