scriptGlobal Aviation sector is worsen, 4 lakh jobs lost, lakh more will go! | दुनियाभर में Aviation Sector का बुरा हाल, 4 लाख नौकरियां गई, एक लाख और जाएंगी! | Patrika News

दुनियाभर में Aviation Sector का बुरा हाल, 4 लाख नौकरियां गई, एक लाख और जाएंगी!

  • Coronavirus की वजह से दुनियाभर में Aviation Sector से 4 लोगों की नौकरी जा चुकी है
  • साल के अंत America में एक लाख लोगों की नौकरी जाने की संभावना, सितंबर तक है प्रतिबंध

नई दिल्ली

Updated: July 24, 2020 04:05:41 pm

नई दिल्ली। हाल के दिनों में एअर इंडिया ( Air India ) के कर्मचारियों की सैलरी कटौती का मामला काफी गर्म रहा। काफी विरोध होने के बाद कटौती हुई उसके बाद और भी ज्यादा विरोध हुआ। उसके बाद एआई ( AI ) ने खुद कहा कि संकट की इस घड़ी में उन्होंने सिर्फ सैलरी में कटौती की है। बाकी कंपनियों की तरह नौकरियों से नहीं निकाला है। जी हां, दुनियाभर में कोरोना वायरस की वजह से दुनियाभर में एविएशन सेक्टर ( Aviation Sector ) से चार लोगों की नौकरी जा चुकी है। वहीं और भी जाने की संभावना है। कोरोना वायरस की वजह से कई देशों की ओर से इंटरनेशनल फ्लाइट्स ( International Flights ) बंद हैं। जो उड़ भी रही हैं उनमें लोगों की संख्या ना के बराबर है।

Aviation Sector
Global Aviation sector is worsen, 4 lakh jobs lost, lakh more will go!

यह भी पढ़ेंः- कर्मचारियों की छंटनी पर Ratan Tata ने उठाए कंपनियों पर सवाल, जानिए दिग्गज ने क्या कहा...

इन कंपनियों ने किया ऐलान
दुनिया की तमाम कंपनियों जिसमें ब्रिटिश एयरवेज, डायजे लुफ्तहांसा एजी, एमिरेट्स एयरलाइन और क्वांटास एयरवेज लिमिटेड शामिल हैं ने हजारों कर्मचारियों को निकालने और बिना सैलरी के छुट्टी पर भेजने का ऐलान कर दिया है। वहीं दूसरी ओर अमरीकी एयरलाइन कंपनियों की ओर से भी हजारों लोगों की नौकरियां जा सकती है। अभी वहां पर सितंबर तक नौकरी से निकालने पर प्रतिबंध लगा हुआ है। अमरीका में सरकार के 50 अरब डॉलर के राहत पैकेज में कर्मचारियों को ना निकालने की शर्त रखी है।

यह भी पढ़ेंः- चार दिन के बाद Silver Price में गिरावट, जानिए कितना महंगा हुआ Gold

अमरीकी एयरलाइंस करेंगी एक लाख लेऑफ
जानकारी के अनुसार अमरीकी एयरलाइंस डेल्टा एयरलाइंस इंक, यूनाइट़ेड एयरलाइंस होल्डिंग्स इंक और अमरीकन एयरलाइंस ग्रुप इंक करीब 35 हजार कर्मचारियों को निकालने के संकेत दिए हैं। यह आंकड़ा साल के अंत में एक लाख लाख तक पहुंच सकता है। पायलट्स और कैबिन क्रू को भी वेतन में कटौती का सामना करना पड़ रहा है। दुनियाभर में विमानन क्षेत्र में जिन 4 लाख कर्मचारियों की नौकरी गई है, उनमें पायलट और केबिन क्रू भी शामिल हैं जो कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में फ्रंट लाइन पर थे।

यह भी पढ़ेंः- सालभर में SBI, UBI, PNB जैसे 18 PSU Banks 1,48,428 करोड़ रुपए का Fraud

इन लोगों की भी जा सकती है नौकरी
इंटरनेशनल एयर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन की मानें तो एविएशन सेक्टर से जुड़ी इंडस्ट्री में नौकरी जाने वालों की संख्या 2.5 करोड़ तक पहुंच सकती है। जिसमें प्लेन इंफ्रास्ट्रक्चर, इंजन निर्माण करने वाले वाली कंपनीज, एयरपोर्ट और ट्रेवल एजेंसियां भी शामिल हैं। अमरीकन एविएशन सेक्टर में गई एक नौकरी पर होटल और लॉजिंग सेक्टर में 7.5 लोगों की जॉब गई है। एयरबस और बोइंग 30 हजार से अधिक लोगों की छंटनी करने जा रही है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

राजस्थान में इंटरनेट कर्फ्यू खत्म, 12 जिलों में नेट चालू, पांच जिलों में सुबह खत्म होगी नेटबंदीनूपुर शर्मा पर डबल बेंच की टिप्पणियों को वापस लिया जाए, सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस के समक्ष दाखिल की गई Letter PettitionENG vs IND Edgbaston Test Day 1 Live: ऋषभ पंत के शतक की बदौलत भारतीय टीम मजबूत स्थिति मेंMaharashtra Politics: महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने देवेंद्र फडणवीस के डिप्टी सीएम बनने की बताई असली वजह, कही यह बातजंगल में सर्चिंग कर रहे जवानों पर नक्सलियों ने की फायरिंगपंचायत चुनाव: दो पुलिस थानों ने की कार्रवाई, प्रत्याशी का चुनाव चिन्ह छाता तो उसने ट्राली भर छाता बंटवाने भेजे, पुलिस ने किए जब्तMonsoon/ शहर में साढ़े आठ इंच बारिश से सडक़ों पर सैलाब जैसा नजारा, जन जीवन प्रभावित2 जुलाई को छ.ग. बंद: उदयपुर की घटना का असर छत्तीसगढ़ में, कई दलों ने खोला मोर्चा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.