कोरोना का कहर, पहली बार कटी TATA Group के CEOs और MDs की सैलेरी

  • टाटा ग्रुप में भी सैलेरी का संकट
  • टॉप अधिकारियों को नहीं मिलेगा बोनस
  • 20 फीसदी तक कटेगी सैलेरी

By: Pragati Bajpai

Published: 25 May 2020, 05:26 PM IST

नई दिल्ली: कोरोना की वजह से बड़ी हो या छोटी लगभग सभी कंपनियों की हालत खराब है और इसकी वजह से कंपनियां अपने कर्मचारियों की सैलेरी काट रही है। और अब इसकी चपेट में टाटा ग्रुप भी आ चुका है। जी हां इतिहास में पहली बार टाटा संस के चेयरमैन और ग्रुप की दूसरी सभी कंपनियों के CEOs की सैलरी 20 फीसदी तक कटने वाली है। ग्रुप कॉस्ट कटिंग के लिए अपने बड़े अधिकारियों की सैलरी काट रहा है। बड़े अधिकारियों की सैलरी काटने ( Salary Cut ) का मकसद संस्थान और कर्मचारियों को प्रोत्साहित करना और कारोबार को मजबूत रखना है।

ईद के मौके पर सलमान ने लॉन्च किया पर्सनल केयर ब्रांड FRSH, जाने क्या होगा खास

टाटा स्टील, टाटा मोटर्स ( Tata Motors ), टाटा पावर ( tata power ) , ट्रेंट, टाटा इंटरनेशनल, टाटा कैपिटल और वोल्टास सहित दूसरी सभी कंपनियों के CEOs और MDs भी अपनी सैलरी में कट लेंगे। TCS अपने CEO राजेश गोपीनाथन की सैलेरी के बारे में पहले ही ऐलान कर चुका है और इंडियन होटेल्स भी अपने सीनियर अधिकारियों से सैलेरी काटने की बात कह चुका है।

एक अधिकारी का कहना है कि ये ग्रुप हमेशा अपने कर्मचारियों को सुरक्षा देने के लिए जाना जाता है । "ग्रुप के इतिहास में कभी भी इतने सख्त कदम नहीं उठाए गए थे। कारोबार को बचाने के लिए ये कदम उठाए जा रहे हैं।

Work from home वाली नौकरियों की बढ़ी डिमांड, फरवरी मार्च में 377 फीसदी का इजाफा

टाटा ग्रुप ( Tata Group ) की टॉप 15 कंपनियों के CEO का पैकेज 2019 में 11 फीसदी बढ़ा था। अभी फिलहाल TCS को छोड़कर किसी भी कंपनी ने फिस्कल ईयर 2020 के नतीजे जारी नहीं किए हैं। लेकिन कंपनी ने फिलहाल अपने सीनियर अधिकारियों से इस तिमाही में सैलेरी कट की गुजारिश की है। यहां ध्यान देने वाली बात ये है कि मौनेजमेंट ये कटौती अधिकारियों के मौजूदा साल के बोनस में कर रहा है।

Tata Motors
Show More
Pragati Bajpai
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned