आईपीएल 2021:कभी पिता ने छिपा दिया था बैट, अब 5वीं में फेल विराट आईपीएल में उड़ाएंगे गेंदबाजों के होश

झारखंड के होनहार बल्लेबाज विराट सिंह जब पांचवीं कक्षा में फेल हो गए थे तो उनके पिता ने उनका बैट छिपा दिया था। अब सनराजइर्स हैदराबाद टीम की ओर से आईपीएल में चौके और छक्के उड़ाने को हैं बेताब ...

By: भूप सिंह

Updated: 21 Mar 2021, 06:34 PM IST

 

नई दिल्ली। आईपीएल 2021 (Indian Premier league 2021) शुरू होने में सिर्फ 18 दिन शेष बचे हैं। आईपीएल की कुछ फ्रेंचाइजीज ने अपनी टीमों के ट्रेनिंग कैंप शुरू कर दिए हैं। फटाफट क्रिकेट के इस फॉर्मेट में खिलाड़ी चौके और छक्कों की झड़ी लगाने को बिल्कुल तैयार हैं। इस बार आईपीएल में झारखंड का पांचवीं फेल बाएं हाथ का बल्लेबाज विराट सिंह (Virat Singh) भी अपना जलवा बिखरने के लिए तैयार है। विराट को आईीपीएल नीलामी में सनराइजर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) ने 1.9 करोड़ रुपए में खरीदा है।

यह खबर भी पढ़ें : VIDEO: कोहली ने SIX लगाकर रोहित को चिढ़ाया तो हिटमैन का आया ऐसा मजेदार रिएक्शन

एसआरएच ने विराट किया रिटेन
विराट सिंह (Virat Singh) को सनराइजर्स हैदाराबाद ने 2020 में 1.9 करोड़ रुपए में खरीदा और इस बार उन्हें रिटेन किया गया है। पिछले साल यूएई में आईपीएल में विराट को अपना जलवा दिखाने का मौका नहीं मिला था। उन्हें उम्मीद है कि इस बार अपने देश में उन्हें जरूर मौका मिलेगा। पंजाब ने पहले विराट सिंह को उनकी बेस प्राइस 20 लाख में खरीदा था, लेकिन घरेलू क्रिकेट में उनके शानदार प्रदर्शन को देखते हुए पिछले साल सनराइजर्स हैदाराबाद ने विराट को 1.09 करोड़ में खरीदा लिया।

यह खबर भी पढ़ें : बेशुमार टैलेंट के बाजवूद टीम इंडिया में स्थाई जगह नहीं बना पाए ये 5 क्रिकेटर, दिखाया बाहर का रास्ता

धोनी और युवराज को मानते हैं अपना आदर्श
टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेन्द्र धोनी (Mahendra Singh Dhoni) और पूर्व ऑलराउंडर खिलाड़ी युवराज सिंह (Yuvraj Singh) को विराट सिंह अपना आदर्श मानते हैं। बात करें विराट सिंह के घरेलू क्रिकेट में प्रदर्शन की तो वह 30 फर्स्ट क्लास मैचों में 1394 रन बना चुके हैं, जिसमें उन्होंने 3 शतक और 4 अर्धशतक लगाए हैं। विराट ने 13 साल की उम्र में जिला स्तर और 14 की उम्र में झारखंड के लिए अंडर-19 के लिए खेल चुके हैं। वहीं 19 साल की उम्र में झारखंड के लिए रणजी खेलने मैदान पर उतर गए थे।

यह खबर भी पढ़ें : Ind vs Eng: आज फाइनल मैच में भारत को जीत दिला सकते हैं ये 4 खिलाड़ी

5वीं क्लास में हो गए थे फेल
एक समय विराट सिंह के दिलो दिमाग में क्रिकेट खेलने का जुनून इस कदर सवार था कि वह 5वीं कक्षा में फेल तक हो गए थे। इसके बाद उनके पिता ने उनका बैट छिपा दिया था, लेकिन विराट के कोच वेंकटराम के समझाने पर पिता ने उनको फिर से खेलने दिया। इसके बाद इस खिलाड़ी ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। अब आईपीएल 2021 में विराट, डेविड वॉर्नर, केन विलियम्सन और मनीष पांडे के साथ अपना जौहर दिखाने के लिए बेताब है।

भूप सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned