100 से ज्यादा पतंगों की दुकानों पर ग्राहक बन घंटों घूमते रहे अधिकारी, लेकिन खरीदा कुछ भी नहीं

दो दर्जन अधिकारियों ने शनिवार को जयपुर शहर के विभिन्न इलाकों में चाइनीज मांझे ( Chinese Manja ) एवं खतरनाक धातु, लोहा चूर्ण आदि से बने मांझे ( bain chinese manja ) की जब्ती एवं रोकथाम के लिए सघन अभियान चलाकर शहर के 100 से भी अधिक पतंग विक्रेताओं की दुकानों और स्टॉक की जांच की। यह कार्रवाई जिला कलक्टर डॉ.जोगाराम ( Jaipur Collector ) के निर्देश पर की गई।

abdul bari

January, 1110:17 PM

जयपुर
जिला प्रशासन के करीब दो दर्जन अधिकारियों ने शनिवार को जयपुर शहर के विभिन्न इलाकों में चाइनीज मांझे ( Chinese Manja ) एवं खतरनाक धातु, लोहा चूर्ण आदि से बने मांझे ( bain chinese manja ) की जब्ती एवं रोकथाम के लिए सघन अभियान चलाकर शहर के 100 से भी अधिक पतंग विक्रेताओं की दुकानों और स्टॉक की जांच की। यह कार्रवाई जिला कलक्टर डॉ.जोगाराम ( Jaipur Collector ) के निर्देश पर की गई।

चाइनीज मांझे के व्यापार पर प्रतिबन्ध ( jaipur News )

जिला कलक्टर ने बताया कि शनिवार को दोपहर 3 बजे से 6 बजे तक की गई सघन जांच के परिणाम अच्छे रहे और शहर में किसी दुकान पर चाइनीज मांझे की बिक्री एवं स्टॉक नहीं पाया गया। उन्होंने बताया कि यह परिणाम शहर में पिछले एक महीने से चायनीज मांझे की रोकथाम के लिए किए जा रहे जिला प्रशासन की प्रयासों के अनुरूप ही था। जयपुर पतंग विक्रेता संघ ने भी चाइनीज मांझे के व्यापार पर प्रतिबन्ध लगाया है एवं विद्यालयों में शिक्षा विभाग द्वारा विद्यार्थियों की समझाइश एवं पुलिस-प्रशासन द्वारा जांच की कार्यवाही की जा रही है।

22 दलों का गठन किया गया

डॉ.जोगाराम ने बताया कि मकर संक्रान्ति के अवसर को देखते हुए चाइनीज एवं खतरनाक मांझे की पूर्ण रोकथाम के लिए शनिवार को चलाए गए सघन अभियान में अतिरिक्त जिला कलक्टर तृतीय राजेन्द्र सिंह कविया, चतुर्थ अशोक कुमार, पूर्व राजीव पाण्डे, उत्तर बीरबल सिंह, दक्षिण शंकरलाल सैनी समेत सभी उपखण्ड अधिकारी, सहायक कलक्टर, डीआईजी स्टाम्प्स, सभी तहसीदारों को शामिल करते हुए 22 दलों का गठन किया गया। इन्हें दोपहर 3 बजे से सायं 6 बजे तक चाईनीज मांझे के सम्भावित बिक्री स्थलों, दुुकानों का आवंटित क्षेत्रवार औचक निरीक्षण करने के निर्देश दिए गए थे।

बोगस ग्राहक बनकर कार्यवाही की...

इसके बाद अधिकारियों ने अपने आवंटित क्षेत्र में चाइनीज मांझे की दुकानों, स्थलाें पर अपनी पहचान को गुप्त बनाये रखते हुए, बोगस ग्राहक बनकर कार्यवाही की। सभी अधिकारियों को न्यूनतम पांच बिक्री स्थलों का औचक निरीक्षण करने को कहा गया था। कई अधिकारियों ने निर्धारित से दोगुने स्थलों, दुकानों का निरीक्षण किया।

औचक निरीक्षण कर रिपोर्ट देने के निर्देश

जिला कलक्टर ने बताया कि जिले के अन्य उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार, नायब तहसीलदार को भी उनके अपने-अपने क्षेत्र में चाईनीज मांझे के सम्बन्ध में औचक निरीक्षण कर रिपोर्ट देने के निर्देश दिए गए हैं।

यह खबरें भी पढ़ें...


दहला देने वाला बस हादसा: फंसे यात्रियों को निकलने का मौका तक नहीं मिला, 20 के जिंदा जलकर मरने की आशंका


सरकार ने किया आदेश जारी, 'छपाक' फिल्म राजस्थान में भी हुई टैक्स फ्री


बदमाशों ने युवक को लाठी-डंडों से पीटकर किया घायल, पीड़ित की बाइक में भी लगा दी आग

Show More
abdul bari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned