scriptकिरोड़ी लाल के बाद अब राजेंद्र राठौड़ ने लिखा CM भजनलाल को पत्र, बोले- ‘… यह दुर्भाग्यपूर्ण’ | After Kirori Lal now Rajendra Rathore wrote a letter to CM Bhajan Lal indra gandhi river Water crisis churu | Patrika News
जयपुर

किरोड़ी लाल के बाद अब राजेंद्र राठौड़ ने लिखा CM भजनलाल को पत्र, बोले- ‘… यह दुर्भाग्यपूर्ण’

मंत्री किरोड़ी लाल मीना के बाद अब भाजपा नेता राजेंद्र राठौड़ ने सीएम भजनलाल शर्मा के नाम प्रदेश में जल संकट को लेकर पत्र लिखा है। जिसमें चुरू सहित प्रदेश के 13 जिलों में पानी की आपूर्ति पूरी करने वाली इंदिरा गांधी नहर की नहरबंदी से हो रही समस्याओं को लेकर अवगत करवाया है।

जयपुरMay 24, 2024 / 12:11 pm

Lokendra Sainger

राजस्थान में भीषण गर्मी के चलते भजनलाल सरकार एक्शन मोड़ में नजर आ रही है। मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने लोगों की परेशानी को देखते हुए बिजली विभाग, मेडिकल और प्रशासनिक अधिकारियों को ऑफिस नहीं छोड़ने के लिए पाबंद किया है। इसी कड़ी में भाजपा नेता राजेंद्र राठौड़ ने सीएम शर्मा के नाम प्रदेश के 16 जिलों में जल संकट को लेकर पत्र लिखा है। जिसमें चुरू सहित प्रदेश के 13 जिलों में पानी की आपूर्ति पूरी करने वाली इंदिरा गांधी नहर की नहरबंदी से हो रही समस्याओं को लेकर अवगत करवाया है। हालांकि इससे पहले मंत्री किरोड़ीलाल मीना सीएम शर्मा को कई मुद्दों पर पत्र लिख चुके है।
भाजपा नेता राजेंद्र राठौड़ ने मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा को पत्र लिखते हुए कहा कि ‘मैं इस पत्र के माध्यम से आपका ध्यान इंदिरा गांधी नहर की रावतसर वितरिका के सफाई एवं मरम्मत हेतु नहरबंदी करने से उत्पन्न भयावह जल संकट एवं जनाक्रोश की ओर आकर्षित करना चाहूंगा। इंदिरा गांधी नहर से मेरे गृह जिले चूरू सहित प्रदेश के करीब 16 जिलों में आंशिक या पूर्ण रूप से पेयजल आपूर्ति की जाती है।’

नहरबंदी करने की जो सहमति दुर्भाग्यपूर्ण- राठौड़

राठौड़ ने पत्र में लिखा कि ‘इसी नहर की सिल्ट आदि जमा होने के कारण सफाई व मरम्मत करने के लिए पेयजल से काश्तकारों व आमजन में गहरा आक्रोश व्याप्त है। अधीक्षण अभियंता, जल संसाधन विभाग, वृत हनुमानगढ़ द्वारा काश्तकारों एवं जलदाय विभाग को पर्याप्त जलापूर्ति हेतु असमर्थता व्यक्त करते हुए दिनांक 16 मई 2024 से 25 मई 2024 तक रावतसर वितरिका में नहरबंदी करने की जो सहमति दी गई है, वह दुर्भाग्यपूर्ण है।’
उन्होंने आगे कहा कि ‘मैं आपके संज्ञान में लाना उचित समझता हूं कि इंदिरा गांधी नहर की रावतसर वितरिका के गंधेली हैड से जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग की नहर कर्मसाना हैड वर्ड्स तक स्थापित है जहां विभाग का 1680 एम.एल. र० वाटर भंडारण निर्मित है। नहरबंदी के दौरान विभाग द्वारा कर्मसाना हैड वर्कस से ललानियां तक विभागीय नहर की सफाई करवाई जा चुकी है वहीं गंधेली हैड से कर्मसाना हैड वर्ड्स तक विभागीय नहर की सफाई का कार्य प्रगतिरत है।’

भीषण गर्मी में बूंद-बूंद के लिए त्राहिमाम- राठौड़

राठौड़ ने अनुरोध करते हुए कहा कि ‘मौजूदा भीषण गर्मी के प्रकोप में जहां एक ओर आमजन पानी की बूंद-बूंद के लिए त्राहिमाम कर रहा है, वहीं दूसरी ओर नहरबंदी के फैसले के बाद जलापूर्ति नहीं होने से आमजन पर पेयजल संकट की दोहरी मार पड़ रही है। नहरबंदी के कारण पर्याप्त जलापूर्ति नहीं होने से आमजन धरना-प्रदर्शन करने को मजबूर है।’
उन्होंने अनुरोध है कि ‘वर्तमान समय में भीषण गर्मी के प्रकोप एवं आमजन की पेयजल समस्या को दृष्टिगत रखते हुए इंदिरा गांधी नहर की रावतसर वितरिका से निर्बाध रूप से पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित कराये जाने के संबंध में आवश्यक निर्देश जारी करवाये जाकर, मुझे अनुग्रहित करावें।’

किरोड़ी लाल ने लिखे कई पत्र

बता दें कि इससे पहले किरोड़ीलाल मीणा ने राज्य सरकार के स्तर पर कई अनियमितताओं को उजागर करने के लिए सीएम भजनलाल शर्मा को पत्र लिखे। मीणा ने पहले सीएम भजनलाल शर्मा को पत्र लिखकर जल जीवन मिशन, ईआरसीपी और ओल्ड एमआरईसी कैम्पस व राजकीय कॉलोनी के पुनर्विकास योजना में घोटाले-धांधली की बात कही। जिसके बाद सरकार ने सभी टेंडरों को निरस्त करने की कार्रवाई की।

Hindi News/ Jaipur / किरोड़ी लाल के बाद अब राजेंद्र राठौड़ ने लिखा CM भजनलाल को पत्र, बोले- ‘… यह दुर्भाग्यपूर्ण’

ट्रेंडिंग वीडियो