पुलिस निरीक्षक व सेना के बीच विवाद नौ माह बाद फिर उपजा !

-निर्माण कार्य शुरू करने पर सेना ने जताई आपत्ति

By: Deepak Vyas

Updated: 19 Jan 2019, 06:17 PM IST

जैसलमेर/पोकरण. कस्बे के सैन्य छावनी के पास पुलिस निरीक्षक व सेना के बीच चल रहा भूखण्ड विवाद नौ माह बाद पुन: उपज गया है। हालांकि फिलहाल मौके पर शांति है। गौरतलब है कि पुलिस निरीक्षक माणकराम विश्रोई की पत्नी पप्पु के नाम से पोकरण में सैन्य छावनी के पास शक्तिस्थल के सामने एक भूखण्ड स्थित है। गत 22 अप्रेल 2018 को यहां मकान निर्माण का कार्य चल रहा था। जिसे सेना के अधिकारियों व जवानों की ओर से रुकवा दिया गया था। जिसकेे बाद मामला शांत पड़ा था। नौ माह बाद यहां भूखण्ड मालिक की ओर से शुक्रवार को सुबह पुन: मकान निर्माण कार्य शुरू करने पर सेना ने आपत्ति जताते हुए कार्य बंद करवा दिया है। सेना की ओर से बताया जा रहा है कि छावनी के 100 मीटर की परिधि में कोई निर्माण कार्य नहीं हो सकता है। इसी कारण पूर्व में निर्माण कार्य रुकवाने गए सेना के जवानों तथा पुलिस व मजदूरों के बीच झड़प व तकरार हुई थी। इसके बाद आपसी समझाइश से मामला शांत हो गया था। इसके बाद भूखण्ड मालिक की ओर से न्यायालय की शरण ले ली गई थी।
यूं बढ़ा फिर से तनाव
न्यायालय के आदेश के बाद शुक्रवार को यहां पुन: निर्माण कार्य शुरू किया गया, जिस पर सेना के अधिकारी मौके पर पहुंचे। उन्होंने कार्य रुकवाने को कहा, तो भूखण्ड मालिक के प्रतिनिधियों ने न्यायालय का आदेश बताकर निर्माण कार्य जारी रखने की बात कही। माहौल पुन: गर्म होता देख पुलिस मुख्य आरक्षक सुरेश विश्रोई मय जाब्ता मौके पर पहुंचे। उन्होंने सेना के अधिकारियों से बातचीत की। अधिकारियों ने कहा कि न्यायालय के आदेश में निर्माण कार्य शुरू करने की बात नहीं कही गई है तथा वे इस मामले पर अपर न्यायालय में अपील करेंगे। ऐसे में मामला बढ़ता देख, पुलिस ने फिलहाल कार्य रोकने तथा भूखण्ड मालिक के पोकरण आने के बाद सेना के अधिकारियों से बातचीत करने और आपसी समझाइश के बाद ही निर्माण कार्य शुरू करने की बात कही। जिस पर फिलहाल कार्य रुकवा दिया है।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned