पर्यटकों को रिझाने के लिए जैसलमेर से सम तक हो रही यह तैयारियां

पर्यटकों को रिझाने के लिए जैसलमेर से सम तक हो रही यह तैयारियां

Deepak Vyas | Publish: Sep, 03 2018 05:26:40 PM (IST) Jaisalmer, Rajasthan, India

- बेहतर सीजन की आस लिए पर्यटन व्यवसायी
- जन्माष्टमी के मौके पर नजर आएगी सीजन की पहली भीड़

जैसलमेर. ऐतिहासिक दुर्ग और गड़ीसर सरोवर तथा कलात्मक हवेलियों के लिए मशहूर जैसलमेर शहर के साथ लहरदार धोरों वाले सम क्षेत्र में इन दिनों पर्यटन व्यवसायी आगामी सीजन की तैयारियों में खुद को पूरी तरह से झोंक चुके हैं। अधिकांश ने तैयारियां पूरी कर ली हैं और अब उन्हें इंतजार है, देशी-विदेशी सैलानियों का। आगामी दिनों में जन्माष्टमी पर्व के मौके पर गुजराती सैलानी विशेषकर सौराष्ट्र क्षेत्र के बाशिंदों का आगमन जैसलमेर में होने वाला है। इसके मद्देनजर होटलें, रेस्टोरेंट्स व रिसोट्र्स सजाए-संवारे जा रहे हैं। पर्यटन व्यवसायियों को उम्मीद है कि इस बार का सीजन उनके लिए पिछली बार से ज्यादा बेहतर साबित होगा।

यह चल रही तैयारियां
जैसलमेर शहर में इन दिनों सितारा होटलों से लेकर अन्य सभी श्रेणियों की होटलें तथा रहने के ठिकानों को रंग-रोगन व आवश्यक मरम्मत कार्य आदि से संवारा जा रहा है। ज्यादा लोगों को ठहराने के लिए ज्यादा कमरों की व्यवस्था भी की जा रही है। इसके अलावा ट्रेवल एजेंसियों के संचालक व हैंडीक्राफ्ट व्यवसायी भी स्टाफ की पूर्ति से लेकर नया सामान जुटाने में ध्यान लगाए हुए हैं। ऐसे ही यहां के रेस्टोरेंट संचालक भी बैठक व्यवस्था को बढ़ाने, इंटीरियर को और आकर्षक बनाने से लेकर अलग-अलग देशों व प्रांतों के पर्यटकों की पसंद की भोजन व्यवस्था को अंजाम दे चुके हैं।

सम में रिसोट्र्स की बहार
सोनार दुर्ग के बाद जैसलमेर घूमने आने वाले सैलानियों के आकर्षण का दूसरा बड़ा केंद्र सम सेंड ड्यून्स होता है। वहां पिछले डेढ़ दशक के दौरान रिसोट्र्स और कैम्प्स का व्यवसाय निरंतर विकसित हो चुका है। वैसे तो प्रत्येक नए सीजन में सम के धोरों के आसपास 4-6 रिसोट्र्स स्थापित होते हैं लेकिन इस बार इनकी संख्या में 20-25 का इजाफा होने वाला है। जैसलमेर के स्थानीय पर्यटन व्यवसायियों के अलावा बाहरी शहरों व प्रांतों से भी कई जने यहां रिसोट्र्स व्यवसाय में निवेश कर रहे हैं। जानकारी के अनुसार इस बार सम के समीपवर्ती कनोई गांव में अनेक नए रिसोट्र्स शुरू होने जा रहे हैं। मौजूदा समय में सेंड ड्यून्स के आसपास करीब 30 रिसोट्र्स में सैलानियों के आगमन व ठहराव की सुविधा शुरू हो गई है। शेष रिसोट्र्स में टेंट्स की सिलाई व उनकी स्थापना, साज-सज्जा और जरूरी कार्य करवाए जा रहे हैं।

बेहतर सेवाएं देने को कटिबद्ध
सम सेंड ड्यून्स तथा आसपास रिसोट्र्स व कैम्प्स चलाने वाले आगंतुकों को अच्छी से अच्छी सेवाएं देने का पूर्ण प्रयास करते हैं। आगामी सीजन में हमारी कोशिश और भी बेहतर करने की रहेगी। इन दिनों रिसोट्र्स की शुरुआत की तैयारियां तेजी से चल रही हैं।
- कैलाश व्यास, अध्यक्ष सम रिसोट्र्स एंड कैम्प वेलफेयर सोसायटी

निगरानी रखे प्रशासन
सम में सैलानियों की प्रतिवर्ष बढ़ रही आवक के कारण यहां हर साल कई नए लोग रिसोट्र्स का संचालन करने आते हैं। जिला प्रशासन को उनके बारे में सामान्य जानकारियां अवश्य रखनी चाहिए। रिसोर्ट व्यवसाय को ज्यादा विश्वसनीय बनाने के लिए कुछ जरूरी औपचारिकताएं भी निर्धारित की जा सकती हैं।
- मयंक भाटिया, होटल एवं रिसोर्ट संचालक

सैलानियों को देंगे स्तरीय सेवाएं
जैसलमेर भ्रमण पर आने वाले देशी-विदेशी सैलानियों को स्तरीय सेवाएं देने के लिए हम तत्पर हैं। एक संतुष्ट सैलानी दस नए लोगों को घूमने के लिए भेजता है। इसी के मद्देनजर हम उनकी सेवा में कोई कमी नहीं रखते।
- मेघराज परिहार, होटल व्यवसायी

कर रहे नवाचार
पर्यटन सीजन को ध्यान में रखकर हम नवाचारों पर जोर दे रहे हैं, जो सैलानियों को अवश्य पसंद आएंगे। इसके अलावा बैठक व्यवस्था और स्टाफ में बढ़ोतरी तथा नई डिशेज उपलब्ध करवाने पर भी हमारा ध्यान है।
- जसवंतसिंह राजपुरोहित, रेस्टोरेंट संचालक

फैक्ट फाइल -
- 06 महीने पुरजोर रहता है पर्यटन सीजन
- 08 लाख सैलानी जैसलमेर आए थे गत वर्ष
- 250 से ज्यादा होटलें जैसलमेर में
- 80 से अधिक रिसोट्र्स हो जाएंगे सम में

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned