साथ जीए, साथ पढ़े, साथ रहने के लिए देखा था कमरा पर पहले ही कह गए अलविदा

साथ जीए, साथ पढ़े, साथ रहने के लिए देखा था कमरा पर पहले ही कह गए अलविदा

kamlesh sharma | Updated: 29 May 2019, 08:25:02 PM (IST) Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

जीते जी एक जिस्म और दो जान कहलाने वाले आंखों में सुनहरे भविष्य के सपने लिए इस संसार से एकाएक जुदा हुए तो जिसने भी सुना वह हर कान सन्न हो गया

जोधपुर। जीते जी एक जिस्म और दो जान कहलाने वाले आंखों में सुनहरे भविष्य के सपने लिए इस संसार से एकाएक जुदा हुए तो जिसने भी सुना वह हर कान सन्न हो गया, जिसने भी देखा वो हर आंख नम हो गई। बात हो रही है सोमेसर के दो हमउम्र स्कूली दोस्तों की। दोनों की दोस्ती इतनी गहरी थी वे हमेशा साथ—साथ रहते, यहां तक की पढ़ाई भी साथ—साथ करते। इस बार के बारहवीं बोर्ड के परिणामों में दोनों ने शानदार अंक हासिल किए। अल्हड़पन से भविष्य के सपने बुनते हुए आगे की पढ़ाई कर सुनहरे भविष्य के सपने आंखों में लिए बड़े शहर यानी जोधपुर पहुंचे थे।

दोनों के प्रेम और दोस्ती को देखकर उनके परिजन भी दोनों को साथ रहने और साथ पढ़ने के लिए कहते थे और यही वजह थी उनको आगे की पढ़ाई के लिए खुशी—खुशी जोधपुर भेजा था। दोनों रविवार को जोधपुर आए और एक परीक्षा देने के बाद रुककर कमरा तलाश कर वापस घर लौट रहे थे। लेकिन नियति को कुछ और ही मंजूर था। घर पहुंची तो दोनो के इस संसार से अलविदा कह देने की खबर। घरवालों को जरा अंदेशा नहीं था कि हंसते—खेलते घर से निकले दोनों की दर्दनाक खबर आएगी। लेकिन दोनों की मृत्यु की खबर आई तो उनके परिवार पर कहर टूटा और पूरे गांव में शोक की लहर छा गई।

बीती रात हुए भीषण हादसे से पहले भी इन हादसों से सहम चुका है आगोलाई, जानिए पहले की यह केस फाइल

पढ़ाई में थे होशियार
देरावर व सन्नी दोनों ने इसी साल सोमेसर सीनियर स्कूल से बारहवीं बोर्ड की परीक्षा प्रथम श्रेणी से उर्तीण की थी। देरावरसिंह के 81 प्रतिशत और सन्नी प्रजापत के 79 प्रतिशत प्रतिशत आए थे। गत रविवार को जोधपुर में उन्होंने प्री डीएलएड की परीक्षा दी थी। देरावर व सन्नी के पढ़ाई के साथ सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते थे। दोनों अपनी दोस्ती के खास पल के वीडियो बनाकर अपलोड करते थे। देरावर और सन्नी दोनों के खुशी के पलों को वीडियो के जरिए कैद करते तो और फिर टिक टॉक पर अपने वीडियो बनाकर अपलोड किया करते थे।

दोस्ती के वीडियो वायरल
उनके साथ देरावर का चाचा नारायणसिंह व गौतम सोनी का दस वर्षीय पुत्र मनीष सोनी भी था। हादसे में देरावर व उसके चाचा नारायणसिंह, गौतम सोनी तथा शेख नफजल की मौत हो गई। वहीं देरावर के दोस्त सन्नी ने भी मंगलवार सवेरे दुनिया को अलविदा कह दिया। दोनों दोस्तों की एक साथ मौत के बाद क्षेत्र में उनकी दोस्ती के वीडियो वायरल हो रहे हैं। लोग उन्हें याद करते हुए श्रद्धांजलि अर्पित कर परमपिता परमेश्वर से उनकी आत्मा को शांति की प्रार्थना कर रहे हैं।

 

jo

हादसे में गई 12 की जानें
दरअसल, सोमवार देर रात जोधपुर से करीब 40 किलोमीटर दूर आगोलाई के पास दो एसयूवी में आमने—सामने की भिड़ंत में 12 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। हादसा इतना भयानक था कि जिसने ने भी देखा उसकी रूह कांप उठी। इसी हादसे में राजपुरोहित और सन्नी की मौत हो गई।

शोक में डूबा सोमेसर गांव
सोमवार मध्यरात्री जैसलमेर रोड बालेसर के तोलेसर फांटा के पास हुए सड़क हादसे में सोमेसर निवासी 5 लोगों की एक साथ मौत की खबर के बाद हर कोई सन्न रह गया। सोमेसर गांव में मातम छा गया। मंगलवार सवेरे ज्यों ही हादसे की खबर फैली तो हर कोई गमजदा हो गया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned