scriptThree arrested in Kanpur case, protest at DCP office | कानपुर पिटाई मामले में तीन गिरफ्तार, पुलिस कार्रवाई के विरोध में हिंदूवादी संगठनों का प्रदर्शन | Patrika News

कानपुर पिटाई मामले में तीन गिरफ्तार, पुलिस कार्रवाई के विरोध में हिंदूवादी संगठनों का प्रदर्शन

कानपुर पिटाई मामले में पुलिस ने तीन आराेपियों काे गिरफ्तार किया तो पुलिस कार्रवाई के विरोध में हिंदू संगठनाें ने पुलिस उपायुक्त कार्यालय पर धरना दे दिया। अगले दिन तीनों आरोपियों को जमानत पर छोड़ दिया गया।

कानपुर

Updated: August 13, 2021 11:35:35 pm

कानपुर . ई-रिक्शा चालक की पिटाई मामले के तूल पकड़ने के बाद पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने इस मामले में पीड़ित की तहरीर के आधार पर पांच लोगों को नामजद करते हुए दस अज्ञात के खिलाफ FIR दर्ज की है। गिरफ्तारी के विरोध में हिंदूवादी संगठनों ने पुलिस के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। देर रात तक महिलाओं ने डीसीपी साउथ ऑफिस का घेराव करके हनुमान चालीसा पढ़ी और पकड़े गए लोगों को छोड़े जाने की मांग पर अड़ गई। अगले दिन तीनों आरोपियों को जमानत मिल गई।
UP Police
यूपी पुलिस
यह भी पढ़ें

ऑनलाइन गेम के लिए बच्चों ने उड़ाए रुपए और गहने

दरअसल कानपुर के बर्रा थाना क्षेत्र में रामगोपाल चौराहे के पास कुछ लोगों ने एक ई-रिक्शा चालक की पिटाई कर दी थी। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर हुआ तो मामला गरमा गया। वीडियो में कुछ लोग एक ई-रिक्शा चालक को पीटते हुए दिखाई देते हैं। पास में ही रिक्शा चालक की मासूम बेटी अपने पिता को छोड़ देने की गुहार लगाती हुई दिखाई देती है। इसी दौरान पुलिस भी युवक को बचाने का प्रयास करते हुए दिखाई पड़ती है। वीडियों वायरल होने के बाद कुछ लोगों ने इस घटना को सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश की। इस तरह मामला गरमाया तो पुलिस ने FIR दर्ज कर तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।
यह भी पढ़ें

JOB: 10वीं पास हैं, तो इन संस्थानों में तुरंत करें अप्लाई, मिलेगी सरकारी नौकरी

पुलिस की ओर से की गई गिरफ्तारी की कार्रवाई के विरोध में हिंदूवादी संगठनों से जुड़ी महिलाओं ने डीसीपी कार्यालय पर प्रदर्शन कर दिया। महिलाएं कार्यालय का घेराव करके बैठ गई और हनुनान चालीसा का पाठ करने लगी। आरोप लगाया कि यह पूरा मामला धर्मांतरण से जुड़ा है। उनके संगठनों के लोगों को फंसाया जा रहा है। आरोप लगाया कि एक परिवार की बेटियों के साथ छेड़छाड़ की गई। विरोध करने पर धर्मांतरण का दबाव बनाया गया। पुलिस ने कोई सुनवाई नहीं की। बाद में 31 जुलाई को स्थानीय विधायक के कहने पर पुलिस ने पीड़ित परिवार की ओर से मामला दर्ज किया था। यानि मामला दो पक्षों के बीच का है। दोनों पक्षों के बीच मुकदमेंबाजी चल रही है और अब पुलिस ने संगठन के लोगों को साजिशन फंसाया है।
यह भी पढ़ें

प्रदर्शन कर रही महिलाओं ने रात में बताया कि उन्हे अफसरों ने आश्वासन दिया है पकड़े गए तीनों युवक राहुल, अजय और अमन को छोड़ दिया जाएगा। इसके बाद देर रात धरना प्रदर्शन समाप्त हो गया। अगले दिन तीनों को छोड़ दिया गया। पुलिस का कहना है कि तीनों को जमानत मिल गई। कानपुर पुलिस उपायुक्त असीम अरूण ने इस मामले में मीडिया को बयान दिया है कि कानपुर नगर के थाना बर्रा में असरार अहमद नाम के युवक के साथ मारपीट हुई थी। तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है अन्य की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Cash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कतहो जाइये तैयार! आ रही हैं Tata की ये 3 सस्ती इलेक्ट्रिक कारें, शानदार रेंज के साथ कीमत होगी 10 लाख से कमइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजमां लक्ष्मी का रूप मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां, चमका देती हैं ससुराल वालों की किस्मतShani: मिथुन, तुला और धनु वालों को कब मिलेगी शनि के दशा से मुक्ति, जानिए डेटइन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीराजस्थान में आज भी बरसात के आसार, शीतलहर के साथ फिर लौटेगी कड़ाके की ठंडPost Office FD Scheme: डाकघर की इस स्कीम में केवल एक साल के लिए करें निवेश, मिलेगा अच्छा रिटर्न
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.