विधायक चंद्रकांत देर रात ठेके पर पहुंची, शराब की बोतल खरीदी और आबकारी अधिकारी को दी...पढि़ए क्या है माजरा

विधायक चंद्रकांत देर रात ठेके पर पहुंची, शराब की बोतल खरीदी और आबकारी अधिकारी को दी...पढि़ए क्या है माजरा

Zuber Khan | Updated: 27 May 2019, 08:30:00 AM (IST) Kota, Kota, Rajasthan, India

रामगमंजमंडी वृत्त में आबकारी विभाग में कमाई का खेल लंबे समय से चल रहा है। इसका खुलासा विधायक चंद्रकांता ने स्टिंग कर किया।

रामगंजमंडी. रामगमंजमंडी वृत्त में आबकारी विभाग में कमाई का खेल लंबे समय से चल रहा है। कई बार आबकारी विभाग के अफसरों को झिंझौड कर जगाने का प्रयास किया गया, लेकिन विभाग टस से मस नहीं हुआ। जानकारों का कहना है कि सारा खेल खुले तौर पर चलता रहा। तत्कालीन विधायक ने निर्धारित समय के बाद शराब की बोतल खरीद कर अफसरों को सौंप दी, फिर भी कुछ नहीं किया गया।

Read More: एसीबी ने देर रात हाइवे पर बिछाया जाल, ठेकेदारों से मोटी रकम वसूल लौट रहा आबकारी निरीक्षक को दबौचा

खैराबाद पंचायत समिति की बैठक में स्वीकृत एक शराब की दुकान पर अलग अलग गांवों में पांच ब्रांच चलाने, रात्रि में शराब की दुकानों पर खुलेआम शराब मिलने की कई शिकायतों के बाद भी निरीक्षक ने कोई कार्यवाही नहीं की। विधायक चन्द्रकांता मेघवाल ने तो खैराबाद में रात्रि के समय में एक शराब की दुकान पर पहुंचकर शराब की बोतल खरीदकर भी आबकारी विभाग के निरीक्षक व आला अधिकारियों को बताई। बावजूद इसके आबकारी विभाग ने रात्रि में शराब बेचने वालों के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की। विदित रहे, चंद्रकांता रामगंजमंडी विधानसभा क्षेत्र से दो बार विधायक रह चुकी हैं। वर्तमान में बूंदी जिले के केशवरायपाटन से विधायक हैं। उन्होंने अपने विधायक काल में रामगंजमंडी में स्टिंग ऑपरेशन कर आबकारी अधिकारियों के दावों की पोल खोली थी।

Read More: दो पक्षों के खूनी संघर्ष में जुबान से तेज चली तलवारें-कुल्हाड़ी, 16 लोग लहुलूहान, 12 की हालत नाजुक

आबकारी विभाग के सूत्रों ने बतााया कि रामगमंजमंडी तहसील में शराब की 35 दुकानें है। लाटरी से दुकान खुलने के बाद उसकी लोकेशन को पास कराने की एवज में जमकर वसूली की जाती रही है। विवादित लोकेशन की स्थिति में रकम बढ़ जाती थी। राज्य सरकार ने शराब की दुकानों के खुलने व बंद होने का समय निर्धारित किया हुआ है।

Read More: कोटा में मनचलों को लड़की छेडऩे से रोका तो बिजली ने मार दिए चाकू, युवक को लहुलूहान कर घर में फेंके पत्थर

इस नियम की पालना नहीं करने पर आबकारी विभाग संबंधित ठेकेदार के खिलाफ तीन बार कार्यवाही कर देता है तो उस ठेकेदार का लाइसेंस निरस्त होने का खतरा बन जाता हैं। रामगंजमंडी तहसील क्षेत्र में रात के समय में कई दुकानों पर सुलभता से शराब बेची जा रही है, लेकिन किसी ठेकेदार के खिलाफ आबकारी विभाग ने आज तक तीन केस नहीं बनाए।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned