scriptNaveen tauttlani work for Thalassemic children | 25 वर्षों से थैलेसीमिक बच्चों की मुस्कान बने हुए है नवीन तोतलानी | Patrika News

25 वर्षों से थैलेसीमिक बच्चों की मुस्कान बने हुए है नवीन तोतलानी

समाजसेवी नवीन तोतलानी 25 वर्षों से थैलेसीमिक बच्चों के लिए निरन्तर रक्तदान शिविर लगवा कर थैलेसीमिक बच्चों की मुस्कान बने हुए है।

कोटा

Published: December 23, 2017 12:55:48 pm

कोटा . मन में किसी जरूरतमंद की सेवा करने का जज्बा हो तो कदम कभी रुकते नहीं। स्टेशन क्षेत्र में समाजसेवी नवीन तोतलानी 25 वर्षों से थैलेसीमिक बच्चों के लिए निरन्तर रक्तदान शिविर लगवा कर इसे चरितार्थ कर रहे हैं। जुलाई 1999 में वे एक रोगी को लेकर एमबीएस हॉस्पिटल पहुंचे। वहां ब्लड बैंक पर बोर्ड लगा था, 'यहां थैलेसीमिक बच्चों को रक्त मिलता है।' इसे पढ़कर जिज्ञासा हुई तो थैलेसीमिया सोसायटी के अध्यक्ष डॉ. पीपी गुप्ता व सचिव सुनील जैन से मिले, तब यहां 125 बच्चों को 15 दिन में रक्त की जरूरत पड़ती थी। एेसे में उन्होंने स्टेशन क्षेत्र में पहले शिविर में इन बच्चों के लिए 29 यूनिट रक्त एकत्र किया, फिर सिलसिला आगे बढ़ता गया। प्रत्येक शिविर से नेगेटिव गु्रप की सूची बनाने लगे। इससे माह में 2 बार ब्लड बैंक में ही रक्त मिलना शुरू हो गया। नवीन की लगन देखा पत्नी भी इनके साथ बच्चों के वास्ते रक्त सेवा के मिशन में 2006 से इनके साथ हो गई।
Thalassemia, thalassemic children, social work, blood donation camp, MBS hospital, Thalassemia Society, Thalesimic Day Care Ward, JK Lone Hospital, Blood Bank, City Pride, Christmas, Santa, Kota, Kota Patrika, Kota Patrika News, Rajasthan Patrika
नवीन तोतलानी
यह भी पढ़ें

इस शहर में भूल कर भी नहीं करना ऊंची आवाज, नहीं तो चल जाएंगे चाकू

डे-केयर वार्ड खुलवाया

तत्कालीन सांसद भुवनेश चतुर्वेदी से आग्रह करने पर उन्होंने सांसद कोष से 5.70 लाख की राशि देकर जेके लोन हॉस्पिटल में थैलेसीमिक डे-केयर वार्ड बनवाया। नवीन आज भी अपने घर से किसी गरीब या जरूरतमंद रोगी को पोर्टेबल बेड तथा अन्य उपकरण नि:शुल्क देते हैं। ठीक होने पर वापस किसी अन्य को दे देते हैं।
यह भी पढ़ें

देश का पहला स्टूडेंट फ्रैंडली रेलवे स्टेशन बनेगा कोटा जंक्शन, कोचिंग्स के लाखों छात्रों को मिलेंगी ये सुविधाएं



मुस्कान सबसे बड़ा सम्मान

नवीन सुकून के साथ कहते हैं कि नींव में हुई इस कार्य साधना से संतोष मिलता है। आज एमबीएस अस्पताल ब्लड बैंक से 300 से अधिक थैलेसीमिक बच्चों को माह में 2 बार रक्त मिल रहा है। इन बच्चों के चेहरे पर मुस्कान ही उनका सबसे बड़ा सम्मान है।
यह भी पढ़ें

अाने वाले समय में कोटा को पहचानना हो जाएगा मुश्किल, ऐसे बदल जाएगा शहर का रूप

फैमिली फीलिंग : सेवा से मिलती खुशी

पत्नी नीता का कहना है कि जब ये जरूरतमंदों की सेवा के लिए निकलते हैं तो मन को संतोष होता है। बेहद खुशी होती है ब्लड बैंक में उनकी नि:स्वार्थ सेवा देखकर। बेटा कृशिव भी इनका जज्बा देखकर बहुत खुश रहता है। इनके सेवा भाव से प्रभावित होकर मैं भी 2006 से इनके साथ ब्लड बैंक में सेवा में हाथ बंटाने लगी। हम नेगेटिव गु्रप के थैलेसीमिक बच्चों का रिकॉर्ड अलग रखते हैं। इस मिशन को जारी रखने को पूरा परिवार संकल्पबद्ध है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट से मंदिर-मस्जिद के सबूतों का नया अध्याय, एक्सक्लूसिव रिपोर्ट सिर्फ पत्रिका के पास, जानें क्या है इन सर्वे रिपोर्ट में...BOXER Died in Live Match: लाइव मैच में बॉक्सर ने गंवाई जान, देखें वायरल वीडियोBRICS Summit: ब्रिक्स देशों के शिखर सम्मेलन में शामिल हुए भारतीय विदेश मंत्री जयशंकर, उठाया आतंकवाद का मुद्दासीएम मान ने अमित शाह से मुलाकात के बाद कहा-पंजाब में तैनात होंगे 2,000 और सुरक्षाकर्मीIPL 2022, RCB vs GT: Virat Kohli का तूफान, RCB ने जीता मुकाबला, प्लेऑफ की उम्मीदों को लगे पंखVirat Kohli की कप्तानी पर दिग्गज भारतीय क्रिकेटर ने उठाए सवाल, कहा-खिलाड़ियों का समर्थन नहीं कियादिल्ली हाई कोर्ट से AAP सरकार को झटका, डोर स्टेप राशन डिलीवरी योजना पर लगाई रोकसुप्रीम कोर्ट का फैसला: रोड रेज केस में Navjot Singh Sidhu को एक साल जेल की सजा, जानें कांग्रेस नेता ने क्या दी प्रतिक्रिया
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.