BIG News: गुवाहटी में सेना के जवान की संदिग्ध मौत, शोक में डूबा कोटा का लाखसनीजा

कोटा जिले में बूढ़ादीत के लाखसनीजा गांव निवासी सेना के जवान हनुमान प्रसाद मीणा की गुवाहटी में रविवार देर रात संदिग्ध हालत में मौत हो गई।

By: ​Zuber Khan

Published: 29 May 2019, 08:00 AM IST

सुल्तानपुर. कोटा जि‍ले में बूड़ादीत थाना क्षेत्र के लाखसनीजा गांव निवासी एक सेना के जवान ( soldier ) की गुवाहटी में रविवार देर रात संदिग्ध ( Suspected death ) हालात में मौत हो गई। भारतीय सेना ( Indian army ) से जानकारी मिलने के बाद जवान का बड़ा भाई सत्यनारायण मीणा गुहाहटी के लिए रवाना हो गया। फिलहाल जवान की मृत्यु के कारण स्पष्ट नहीं हुए हैं। वहीं गांव में शोक की लहर छा गई। कई घरों के चूल्हे तक नहीं जले।

Special Story: सांप का जहर 'मौत' नहीं 'जिंदगी' भी देगा, कैसे पढि़ए खास खबर...

जानकारी अनुसार लाखसनीजा गांव निवासी हनुमान प्रसाद मीणा (25) 2013 में सेना में भर्ती हुए थे। गुवाहटी के लखावली में क्षेत्र तैनात थे, जहां रविवार देर रात उनकी संदिग्ध हालात में मौत हो गई। प्राप्त सूत्रों के अनुसार आपसी झगड़े में मौत होने की बात सामने आ रही है। हालांकि मौत के कारणों की कोई अधिकारिक पुष्टि नही हो पाई है। वहीं मृतक के माता-पिता को भी फिलहाल इस घटना के बारे में नहीं बताया गया है। जवान का पार्थिव शव बुधवार शाम तक गांव पहुंचने की उम्मीद है।

BIG News: कोटा में भारत के लाखों स्टूडेंट्स की जान खतरे में, पैसा बनाने के लिए जिंदगी तबाह करने पर तुले अफसर

मुक्तिधाम पर तैयारियां

जवान की मृत्यु की सूचना के साथ ही पूरे क्षेत्र में मंगलवार को दिनभर चर्चाएं रही। गांव में लोग शोक की लहर में डूब गए। कई घरों के चूल्हे नहीं जले। जवान की मौत की खबर के बाद बूढ़ादीत थाना एसएचओ अमरनाथ जोगी लाखसनजा गांव पहुंचे और वहां दाह संस्कार के लिए मुक्तिधाम का जायजा लिया। जिसके बाद एसडीएम व विकास अधिकारी को मौका स्थिती से अवगत करवाया। यहां मुक्तिधाम में स्थिति सहीं नहीं मिलने पर विकास अधिकारी जगदीश मीणा के निर्देशानुसार ग्राम पंचायत प्रशासन द्वारा सफाई कार्य शुरू कर दिया गया।

Read More: एरोड्राम सर्किल पर बनेगा एलिवेटेड रोड और अंडर पास, धारीवाल के 28 प्रोजेक्ट से कोटा बनेगा इंदौर-मुंबई, जानिए कहां क्या बदलने वाला है...

कारणों की नहीं स्पष्ट जानकारी
हमारे पास सेना के जवान की मृत्यु सूचना आई थी। लेकिन जवान के मृत्यु के कारणों की स्पष्ट जानकारी नहीं मिली है। गांव में मुक्तिधाम की स्थिती ठीक नही हैं। जिसे दुरूस्त किया जा रहा है। बुधवार शाम तक जवान का पार्थिव शव पैतृक गांव में पहुंचने की उम्मीद है।
अमरनाथ जोगी, एसएचओ बूढ़ादीत

Show More
​Zuber Khan
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned