scriptDussehri not Gavarjit Mango crazy Purvanchal People | दशहरी नहीं, गवरजीत आम के दीवाने हैं पूर्वांचल के लोग | Patrika News

दशहरी नहीं, गवरजीत आम के दीवाने हैं पूर्वांचल के लोग

Gavarjit Mango crazy पूर्वांचल में अगर पूछेंगे कि, आमों का राजा कौन है? तो कोई भी दशहरी का नाम नहीं लेगा सिर्फ एक ही नाम जुबां पर आएगा, वो है गवरजीत आम। पूर्वांचल के गोरखपुर, कुशीनगर, देवरिया, महराजगंज, सिद्धार्थनगर, बस्ती और संतकबीरनगर लोग गवरजीत आम के दीवाने हैं।

लखनऊ

Published: June 12, 2022 12:11:36 pm

पूर्वांचल में अगर पूछेंगे कि, आमों का राजा कौन है? तो कोई भी दशहरी का नाम नहीं लेगा सिर्फ एक ही नाम जुबां पर आएगा, वो है गवरजीत आम। पूर्वांचल के गोरखपुर, कुशीनगर, देवरिया, महराजगंज, सिद्धार्थनगर, बस्ती और संतकबीरनगर लोग गवरजीत आम के दीवाने हैं। खुशबू और स्वाद में गवरजीत का कोई जवाब नहीं है। चूस कर खाने वाली यह सबसे अच्छी प्रजाति है। गवरजीत आम की अर्ली प्रजाति है। इसकी आवक दशहरी के पहले शुरू होती है। और जब तक डाल की दशहरी आती है तब तक यह खत्म हो जाता है। डाल के गवरजीत की आवक जून के दूसरे हफ्ते में शुरू हो जाती है।
दशहरी नहीं, गवरजीत आम के दीवाने हैं पूर्वांचल के लोग
दशहरी नहीं, गवरजीत आम के दीवाने हैं पूर्वांचल के लोग
गवरजीत आम का इंतजार

यूपी में तो मलिहाबाद की दशहरी, पश्चिम उत्तर प्रदेश के चौसा, वाराणसी के लंगड़ा और मुंबई के अलफांसो का तो जवाब नहीं है। पर पूर्वांचल में आम प्रेमियों को गवरजीत आम का इंतजार रहता है। अमूमन यह आम डाल पर पकता है और पत्तियों के साथ बिकता है। मांग इतनी कि इसका सौदा पेड़ में बौर आने के साथ ही हो जाता है। फुटकर खरीददार बाग से ही इसे खरीद लेते हैं। मंडी में यह कम ही आता है। फुटकर दुकानों से ही ग्राहक इसे हाथों-हाथ ले लेते हैं।
यह भी पढ़ें

ट्रेन में तुरंत कन्‍फर्म होगा तत्काल टिकट, बस यह फीचर अपनाएं

गवरजीत का रेट 200 रुपए किग्रा

सीजन में सबसे अच्छे भाव गवरजीत के मिलते हैं। इस समय फुटकर में गवरजीत के भाव 200 रुपए प्रति किग्रा तक हैं। आम महोत्सव 2016 में गवरजीत को प्रथम पुरस्कार मिला था। गोरखपुर बस्ती मंडल के करीब 6000 हेक्टेयर में गवरजीत के बागान है। बिहार में भी गवरजीत आम का जलवा है। वहां पर इसे जर्दालु और मिठुआ नाम से पुकारा जाता है। दशहरी की तरह से भी लोग बतौर गिफ्ट देते हैं। गवरजीत तेजी से पकता है। इसे बहुत दिन तक रखा नहीं जा सकता।
यह भी पढ़ें — Mango -Tomato Price Hike : इस साल मनभर कर खा नहीं सकेंगे आम मिठास होगी महंगी, बाजार में 80 रुपए किलो बिक रहा टमाटर

पूर्वांचल में 90 फीसद खपत

निदेशक हॉर्टिकल्चर आरके तोमर का कहना है कि, खुशबू और स्वाद में गवरजीत का कोई जवाब नहीं है। चूस कर खाने वाली यह सबसे अच्छी प्रजाति है। मई के लास्ट या जून के पहले हफ्ते में यह बाजार में आ जाती है। 90 फीसद खपत पूर्वांचल में ही हो जाती है।
गवरजीत आम को लोकप्रिय बनाने का प्रयास

ज्वाइंट डायरेक्टर हॉर्टिकल्चर (बस्ती) अतुल सिंह ने बताया कि, दसहरी, लगड़ा और चौसा के मुकाबले गवरजीत कम लोकप्रिय है। पर विभाग इसे लोकप्रिय बनाने का प्रयास कर रही है। अगर कोई आम के 500 पौध खरीदता है तो उसमें 50 गवरजीत के होते हैं। गवरजीत पौध के अधिकतर खरीदार लखनऊ और अंबेडकरनगर आदि जिलों के हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

शिमला में सेवाओं की पहली 'गारंटी' देने पहुंचेगी AAP, भगवंत मान और मनीष सिसोदिया कल हिमाचल प्रदेश के दौरे परममता बनर्जी के ट्विटर प्रोफाइल में गायब जवाहर लाल नेहरू की तस्वीर, बरसी कांग्रेसमुंबई पुलिस की बड़ी कार्रवाई, गुजरात के भरूच में पकड़ी ‘नशे’ की फैक्ट्री, 1026 करोड़ के ड्रग्स के साथ 7 गिरफ्तारभूस्खलन से हिमाचल में 100 से अधिक सड़कें ठप, चार दिन भारी बारिश का अलर्टबिहारः मंत्रियों में विभागों का बंटवारा, गृह मंत्रालय नीतीश के पास, तेजस्वी के पास 4 विभाग, तेज प्रताप का घटा कद, देखें ListVideo मध्यप्रदेश में बाढ़ के हालात, सात जिलों में राहत-बचाव का काम शुरू, लोगों को घरों से निकालाMaharashtra: खाने को लेकर कैटरिंग मैनेजर पर भड़के शिवसेना MLA संतोष बांगर, कर्मचारी को जड़ दिए थप्पड़कश्मीरी पंडित की हत्या मामले में सामने आई मनोज सिन्हा, महबूबा मुफ्ती व उमर अब्दुल्ला की प्रतिक्रिया, जानिए क्या कहा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.