scriptLucknow High Court takes suo motu cognizance of Levana Suites Hotel fire | लेवाना सुइट्स होटल अग्निकांड पर हाईकोर्ट ने लिया स्वतः संज्ञान | Patrika News

लेवाना सुइट्स होटल अग्निकांड पर हाईकोर्ट ने लिया स्वतः संज्ञान

locationलखनऊPublished: Sep 09, 2022 02:01:44 pm

राजधानी लखनऊ में होटल लेवाना सुइट्स में लगी आग में चार लोगों की मौत मामले को इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ पीठ ने स्वतः संज्ञान लिया है। हाईकोर्ट ने लखनऊ विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष और लखनऊ के मुख्य अग्निशमन अधिकारी को निर्देश दिया कि, वह अग्निशमन विभाग से एनओसी के बिना शहर में निर्मित भवनों का विवरण की रिपोर्ट पेश करें।

 

लेवाना सुइट्स होटल अग्निकांड पर हाईकोर्ट ने लिया स्वतः संज्ञान
लेवाना सुइट्स होटल अग्निकांड पर हाईकोर्ट ने लिया स्वतः संज्ञान
राजधानी लखनऊ में होटल लेवाना सुइट्स में लगी आग में चार लोगों की मौत मामले को इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ पीठ ने स्वतः संज्ञान लिया है। हाईकोर्ट ने संबंधित विभागों से एनओसी के बिना राज्य की राजधानी में हाई राइज कार्मिशियल कॉम्प्लेस और होटलों के निर्माण की जांच नहीं कर पाने पर राज्य के अधिकारियों की विफलता पर नाराजगी व्यक्त की। हाईकोर्ट ने लखनऊ विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष और लखनऊ के मुख्य अग्निशमन अधिकारी को निर्देश दिया कि, वह अग्निशमन विभाग से एनओसी के बिना शहर में निर्मित भवनों का विवरण की रिपोर्ट पेश करें। जस्टिस राकेश श्रीवास्तव और जस्टिस बी आर सिंह ने घटना का स्वत संज्ञान लेते हुए आदेश पारित किया। ऐसी संभावना बताई जा रही है कि, रिपोर्ट मिलने के बाद हाईकोर्ट इस पर बड़ा एक्शन भी ले सकती है।
कई समाचार रिपोर्ट को रिकॉर्ड में लिया

इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ पीठ ने इस अग्निकांड घटना से संबंधित कई समाचार रिपोर्ट को रिकॉर्ड में लिया। हाईकोर्ट ने संभागीय आयुक्त रोशन जैकब के मीडिया में दिए गए उस बयान पर भी गौर किया, जिसमें कहा गया कि, होटल को अग्निशमन विभाग से एनओसी मिली थी, जबकि इमारत में उचित अग्नि प्रबंधन प्रणाली नहीं थी।
यह भी पढ़ें - इत्र कारोबारी पीयूष जैन जेल से रिहा, जानें कितने दिन जेल में थे बंद

22 सितंबर को एलडीए वीसी तलब

हाईकोर्ट ने अपने आदेश में एलडीए के वीसी से यह स्पष्ट करने को कहा कि, शहर में कितनी इमारतें हैं। जिन्हें फायर एनओसी नहीं दी जानी चाहिए थी, वे इसे हासिल करने में सफल रहीं। हाई कोर्ट ने एलडीए वीसी को 22 सितंबर को जरूरी ब्योरे के साथ तलब किया है।
यह भी पढ़ें - आखिर बार-बार डीएम आवास में क्यों घुस रहा तेंदुआ, दहशत में कर्मचारी

मुख्य अग्निशमन अधिकारी से मांगा ब्यौरा

अदालत ने मुख्य अग्निशमन अधिकारी से उन इमारतों का ब्योरा भी मांगा है, जिनमें आग लगने की स्थिति से निपटने के लिए उचित निकास और आवश्यक उपकरण नहीं हैं।

सम्बधित खबरे

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

महाराष्ट्र: बल्लारशाह रेलवे स्टेशन पर फुटओवर ब्रिज का हिस्सा गिरा, 20 यात्री घायल, 8 की हालत गंभीरGujarat Elections 2022: PM मोदी का कांग्रेस पर निशाना, कहा- देश में चरम पर था आतंकवादश्रद्धा मर्डर केस: सोमवार को आफताब के नार्को टेस्ट के लिए FSL में तैयारी, जानिए तिहाड़ में कैसे गुजरी पहली रातराजस्थान में बैकफुट पर कांग्रेस, पार्टी में फूट का डर, गहलोत खेमा शांत, पायलट समर्थक मुखरकेजरीवाल का बड़ा दावा! बोले- लिख कर देता हूं गुजरात में बन रही AAP की सरकारBJP का केजरीवाल पर हमला, संबित पात्रा बोले, सत्येंद्र जैन के लिए जेल में रखे गए हैं 10 लोगपूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सहारनपुर दो दिवसीय दौरे पर, कई कार्यक्रमों में करेंगे शिरकतमन की बात में पीएम मोदी ने कहा, जी-20 की अध्यक्षता मिलना गौरव की बात
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.