Holi 2021: ब्रज में होली महोत्सव शुरू, पढ़ें लट्ठमार होली से लेकर मथुरा-वृंदावन की होली का पूरा शेड्यूल

Highlights

- दुनियाभर में प्रसिद्ध ब्रज की होली के कार्यक्रमों की पूरी सूची जारी

- मथुरा में श्री कृष्ण जन्‍मभूमि पर होली कार्यक्रम 25 मार्च को होगा

- बरसाना की प्रसिद्ध लट्ठमार होली 23 मार्च को खेली जाएगी

By: lokesh verma

Published: 01 Mar 2021, 02:52 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
मथुरा. दुनियाभर में प्रसिद्ध ब्रज की होली (Holi 2021) के कार्यक्रमों की पूरी सूची जारी कर दी गई है। इसके तहत बरसाना, वृंदावन, नंदगांव, गोकुल और मथुरा (Mathura) समेत ब्रज के सभी मंदिरों में धूमधाम से अलग-अलग तरीके से होली की धूम मचेगी। वैसे तो बसंत पंचमी से ही ब्रज में अबीर गुलाल उड़ना शुरू हो गया है, लेकिन अलग-अलग दिन अलग-अलग जगह होने कार्यक्रम सभी के आर्कषण का केंद्र होंगे। ढोलक की थाप पर फाग के गीत यहां आने वाले श्रद्धालुओं में उत्साह भरेंगे। महीनेभर चलने वाले होली के पर्व को लेकर ब्रज (Brij Ki Holi) में खास तैयारियां की जा रही हैं।

यह भी पढ़ें- अयोध्या में सबसे ऊंची श्रीराम प्रतिमा परियोजना की तैयारियां तेज

यूं तो देशभर में होली का पर्व बड़ी ही धूमधाम से मनाया जाता है, लेकिन श्रीकृष्ण की जन्मभूमि मथुरा से लेकर नंदगांव में खेली जानी वाली होली की दुनियाभर में प्रसिद्ध है। होली का त्योहार मनाने के लिए यहां देशभर के विभिन्न राज्यों से हर साल लाखों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचते हैं और अबीर गुलाल उड़ाकर भगवान श्रीकृष्ण के रंग में रंग जाते हैं। इस बार के होली के शेड्यूल की बात करें तो मथुरा में श्री कृष्ण जन्‍मभूमि पर होली (Mathura Holi) कार्यक्रम 25 मार्च को होगा। जबकि बरसाना की प्रसिद्ध लट्ठमार होली (Barsana Lathmar Holi) 23 मार्च को खेली जाएगी। वहीं 1 अप्रैल को गिडोह में हुरंगा के साथ होली के पर्व का समापन होगा।

होली के ये आयोजन होंगे आर्कषण का केंद्र

बता दें कि वैसे तो ब्रज में जगह-जगह खेली जाने वाली होली के सभी कार्यक्रम खास होते हैं, लेकिन इनमें कुछ ऐसे कार्यक्रम हैं, जो बेहद लोकप्रिय हैं। इन कार्यक्रमों में शामिल होने के लिए देश-विदेश से श्रद्धालु यहां पहुंचते हैं। इनमें बरसाना और नंदगांव की लट्ठमार होली, श्रीकृष्‍ण जन्मभूमि की होली, गोकुल की छड़ीमार होली, वृंदावन में रंगभरी शोभायात्रा और द्वारकाधीश मंदिर मथुरा की होली लोगों के विशेष आर्कषण का केंद्र होती हैं।

देखते ही बनता है मंदिरों का नजारा

ब्रजभाषी समाज के राष्ट्रीय अध्‍यक्ष हरीश कटारा ने बताया कि ब्रज में आयोजित होने वाला रंग महोत्‍सव सबके आकर्षण का केंद्र रहता है। उन्होंने बताया कि ब्रज में होली के कार्यक्रम बसंत पंचमी से यानी करीब डेढ़ माह पहले ही शुरू हो जाते हैं। इस दौरान ब्रज के सभी मंदिरों का नजारा देखते ही बनता है। सभी के मंदिरों में श्रद्धालुओं के लिए प्राकृतिक फूलों से रंग गुलाल तैयार कर बरसाया जाता है।

होली के कार्यक्रमों की सूची

- 11 मार्च को महाशिवरात्रि पर सभी मंदिरों में होली

- 16 मार्च को रमणरेती में होली कार्यक्रम

- 22 मार्च को फाग आमंत्रण उत्‍सव, नंदगांव में

- 22 मार्च को लड्डू होली, बरसाना

- 23 मार्च को लट्ठमार होली, बरसाना

- 24 मार्च को लट्ठमार होली, नंदगांव

- 25 मार्च को रंगभरनी एकादशी, वृंदावन में रंगभरी शोभायात्रा

- 25 मार्च को श्री कृष्ण जन्‍मभूमि मथुरा में होली कार्यक्रम

- 25 मार्च को द्वारकाधीश मंदिर मथुरा में होली

- 27 मार्च को छड़ीमार होली, गोकुल

- 29 मार्च को होलिका दहन, सभी जगहों पर

- 29 मार्च को दहकती होलिका से पंडा का निकलना, फालैन

- 29 मार्चकोचतुर्वेदी समाज का डोला, मथुरा

- 30 मार्चकोधुलेंडी

- 31 मार्चकोदाऊजी का हुरंगा, बल्‍देव जी

- 31 मार्चकोहुरंगा, जाव

- 31 मार्चकोहुरंगा, नंदगांव

- 31 मार्च कोचरकुला नृत्‍य, मुखराई

- 1 अप्रैलको हुरंगा, बठैन

- 1 अप्रैल कोहुरंगा, गिडोह

यह भी पढ़ें- वाराणसी में गौतम अदाणी ने सपरिवार देखी गंगा आरती, विजिटर बुक में लिखा- काशी में जय मां गंगे

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned