scriptrss muslim wing prevented entering in krishna janmabhoomi idgah | कृष्ण जन्मभूमि-ईदगाह परिसर में आरएसएस की मुस्लिम विंग को प्रवेश करने से रोका | Patrika News

कृष्ण जन्मभूमि-ईदगाह परिसर में आरएसएस की मुस्लिम विंग को प्रवेश करने से रोका

आरएसएस की मुस्लिम विंग मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के दस सदस्यीय दल को मथुरा में कृष्ण जन्मभूमि-ईदगाह परिसर में प्रवेश करने से रोक दिया गया। टीम के सदस्यों ने बताया कि वह साइट के ऐतिहासिक महत्व का विश्लेषण करने पहुंचे थे, लेकिन सुरक्षाकर्मियों ने प्रवेश नहीं करने दिया।

मथुरा

Published: May 12, 2022 01:32:58 pm

आरएसएस की मुस्लिम विंग मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के कार्यकर्ताओं को कृष्ण जन्मभूमि-ईदगाह परिसर में प्रवेश करने से रोकने का मामला प्रकाश में आया है। बताया जा रहा है कि बुधवार को मुस्लिम राष्ट्रीय विंग का दस सदस्यीय दल ने मथुरा स्थित कृष्ण जन्मभूमि-ईदगाह पहुंचा था। लेकिन, वहां मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने मुस्लिम विंंग की टीम को परिसर में प्रवेश करने नहीं दिया। टीम ने बताया कि वह साइट के ऐतिहासिक महत्व का विश्लेषण करने पहुंचे थे।
rss-muslim-wing-prevented-entering-in-krishna-janmabhoomi-idgah.jpg
मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के नेता तुषार कांत का कहना है कि उनकी टीम ने कृष्ण जन्मभूमि को दूर से देखा और ईदगाह के इतिहास के बारे में जानने की इच्छा व्यक्त की, लेकिन सुरक्षाकर्मियों ने प्रवेश करनेे से रोक दिया। उन्होंने कहा कि मुस्लिम राष्ट्रीय मंच प्रमुख इंद्रेश कुमार के निर्देश पर टीम मथुरा पहुंची थी। मुस्लिम राष्ट्रीय मंच की सदस्य रेहाना खातून का कहना कि मंच सभी मुसलमानों से ये अपील करता है कि वे पहले भारतीय हैं। देश में शांति कायम रखने की जिम्मेदारी मुस्लिम समुदाय की है।
यह भी पढ़ें- सरकारी कर्मचारियों और पेंशनर्स को योगी सरकार का बड़ा तोहफा

जाफरी बोले- मुसलमानों को वहां नहीं पढ़नी चाहिए नमाज

जबकि टीम सदस्य आसिफ जाफरी का कहना है कि ऐसे स्थान पर नमाज पढ़ना गलत है, जो मुसलमानों की नहीं है। आसिफ ने बताया कि साइट पर हर कलाकृति को देखने से यह पता चलता है कि यह अतीत में एक मंदिर ही था। वहीं एक अन्य सदस्य मरियम खान ने कहा कि इस्लाम आपस में लड़ना नहीं सिखाता है। भविष्य की पीढ़ियां इन विवादों को आपसी सूझबूझ से सुलझाएं।
यह भी पढ़ें- जेल में बंद आजम खान के लिए मायावती का छलका दर्द, बोलीं- "ये अन्याय नहीं तो क्या है"

भारतीय मुस्लिम विकास परिषद के अध्यक्ष ने उठाए सवाल

कृष्ण जन्मभूमि-ईदगाह परिसर में मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के प्रवेश पर भारतीय मुस्लिम विकास परिषद के अध्यक्ष सामी अघई का कहना है कि ये मामला कोर्ट में विचाराधीन है। इसलिए आरएसएस की मुस्लिम विंग को विवादित स्थल पर अशांति फैलाने के लिए नहीं जाना चाहिए था, बल्कि कोर्ट के फैसले का इंतजार करना चाहिए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीचंडीमंदिर वेस्टर्न कमांड लाए गए श्योक नदी हादसे में बचे 19 सैनिकआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितराहुल गांधी ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा - 'नेहरू ने लोकतंत्र की जड़ों को किया मजबूत, 8 वर्षों में भाजपा ने किया कमजोर'Renault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चIPL 2022, RR vs RCB Qualifier 2: राजस्थान ने बैंगलोर को 7 विकेट से हराया, दूसरी बार IPL फाइनल में बनाई जगहपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.