मुस्लिम धर्म गुरुओं ने Corona के खिलाफ जंग में Janta Curfew के लिए मांगा समर्थन, घर से बाहर नहीं निकलने की अपील

Highlights

  • मेरठ के शहर काजी और नायब शहर काजी ने की लोगों से अपील
  • कहा- कोरोना के खिलाफ पूरे मुल्क को एकजुट होने की जरूरत
  • 22 मार्च रविवार को जनता कर्फ्यू का समर्थन करने की बात कही

 

By: sanjay sharma

Published: 22 Mar 2020, 07:32 AM IST

मेरठ। कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए जरूरी एहतियात के तहत 22 मार्च को जनता कर्फ्यू के समर्थन में शहर के कई सामाजिक, राजनीतिक व व्यापारिक संगठनों ने सदस्यों के साथ बैठक करके घरों से बाहर न निकलने की अपील की। शहर काजी जैनुस साजिद्दीन और नायब शहर काजी जैनुर राशिद्दीन ने लोगों से 22 मार्च रविवार को घर में रहने की अपील की है। दोनों ने अपील की है वे सरकार की इस अपील पर उसका साथ दें।

यह भी पढ़ेंः Meerut: जनता कर्फ्यू से एक दिन पहले ही घरों में कैद हो गए लोग, सड़कों पर पसर गया सन्नाटा

दोनों धर्मगुरुओं ने सार्वजनिक स्थानों में अपनी आवाजाही सीमित रखने को कहा। जिससे इस महामारी से न सिर्फ उनका परिवार, बल्कि पूरा समाज व समूचा देश सुरक्षित रह सके। दोनों ने पीएम के आह्वान को दोहराते हुए उनमें सभी से सहयोग मांगा है। उन्होंने कहा कि आज मुल्क के साथ पूरा विश्व इस महामारी से त्रस्त है। इसमें सामाजिक हित में उन्होंने लोगों से योगदान देने की गुजारिश की। नायब शहर काजी ने कहा कि कोरोना से लड़ाई के लिए प्रयासरत लोगों का उत्साहवर्धन करने के लिए शाम पांच बजे घरों के दरवाजों व बालकनी में खड़े होकर तालियां व थाली बजाएं।

यह भी पढ़ेंः Coronavirus: कोरोना के कारण CCSU Meerut की परीक्षाएं अब इस तारीख से शुरू होंगी, 15 मर्इ तक चलेंगी

उन्होंने सभी समुदाय और संप्रदाय के लोगों से 22 मार्च को सुबह सात बजे से रात्रि नौ बजे तक घर से बाहर न निकलने का आह्वान किया। इस दौरान अपने अल्लाह और ईश्वर से कोरोना से देश के बचाव की कामना करें। उन्होंने परिवार सहित मानवीय गतिविधियां कम करने का आग्रह किया। लोगों को कोरोना से बचाव को लेकर जागरूक किया। आज देश और विश्व एक महामारी के दौर से गुजर रहा है। ऐसे में सभी को साथ रहकर इससे लडऩे की जरूरत है।

Show More
sanjay sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned