आप पार्टी के कार्यक्रम में मिट्टी के तेल की बोतल लेकर पहुंचे कार्यकर्ता ने किया आत्मदाह का प्रयास, बताई बड़ी वजह

  • जिलाध्यक्ष अंकुश चौधरी के सामने किया आत्मदाह का प्रयास
  • जिलाध्यक्ष पर लगाया भाजपा का एजेंट होने का आरोप
  • पार्टी पदाधिकारियों ने कार्यकर्ता को बताया साजिशकर्ता

By: shivmani tyagi

Published: 06 Mar 2021, 08:53 PM IST

पत्रिक न्यूज नेटवर्क
मेरठ. आप पार्टी की बैठक में जबरदस्त हंगामा हो गया। कार्यक्रम में पहुंचे एक कार्यकर्ता ने अपने ऊपर मिटटी का तेल डालकर आग लगाने की कोशिश की जिसके बार जोरदार हंगामा शुरू हो गया। अन्य पदाधिकारियों ने कार्यकर्ता के हाथ से मिटटी के तेल की बोतल छीन ली।

यह भी पढ़ें: महाशिवरात्रि काे लेकर सड़काें पर बढ़ी कांवड़ियों की भीड़, काेविड जांच के बाद ही उठा रहे कांवड़

दरअसल आप पार्टी का नया जिलाध्यक्ष अंकुश चौधरी को बनाया गया है। अंकुश चौधरी के जिलाध्यक्ष बनने के बाद पार्टी दो फाड़ हो गई है। एक पक्ष के अनुज जाटव ने नए जिलाध्यक्ष अंकुश चौधरी पर भाजपा का एजेंट होने का आरोप लगाया। अनुज का आरोप था कि जिलाध्यक्ष अंकुश चौधरी और मुजफ्फरनगर के जिलाध्यक्ष बालियान ने उसको जान से मारने की धमकी दी है। अकरम कुरैशी वरिष्ठ महासचिव ने भी जिलाध्यक्ष पर आरोप लगाए।

यह भी पढ़ें: घरों में चाेरी करने वाला गैंग से साेने-चांदी के जेवरात बरामद, जानिए कहां-कहां की इन्हाेंने चाेरी

जिला अध्यक्ष पद को लेकर अब पार्टी कार्यकर्ताओं में दो फाड़ हो गया है। केजरीवाल की रैली के बाद जिला अध्यक्ष बदलकर अंकुश चौधरी को बनाया था। जिसका अन्य कार्यकर्ता विरोध कर रहे हैं। पार्टी कार्यकर्ताओं ने जिलाध्यक्ष बनाए जाने को लेकर पक्षपात का आरोप लगाया है। वहीं अंकुश चौधरी के जिलाध्यक्ष बनने पर सहमति नहीं होने और पार्टी में बवाल होने पर प्रदेश प्रभारी संजय सिंह के निर्देश पर कार्यकारिणी का भंग कर दिया गया।

यह भी पढ़ें: शराब फैक्ट्री में कराेड़ों की टैक्स चोरी के मामले की जांच के लिए एसआईटी गठित

वहीं इस पूरे प्रकरण पर जिला महासचिव अभिषेक द्विवेदी का कहना है कि कुछ कार्यकताओं के बीच गलत फहमी हो गई है। जिसे जल्द से जल्द दूर कर लिया जाएगा। आम आदमी पार्टी आम लोगों की पार्टी है। इसमें किसी का वर्चस्व नहीं है, जो भी पदाधिकारी चुना जाता है वह आम कार्यकर्ता की सहमति से बनता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश प्रभारी के निर्देश पर कार्यकारिणी भंग कर दी गई है।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned