जामा मस्जिद के पास दिल्ली पुलिस ने पकड़े दो आतंकी, IS से जुड़े होने का शक

जामा मस्जिद के पास दिल्ली पुलिस ने पकड़े दो आतंकी, IS से जुड़े होने का शक

इन आतंकियों के पास से दो पिस्तौल, 10 कारतूस और चार मोबाइल फोन भी जब्त किए गए। प्राप्त जानकारी के अनुसार ये इस्लामिक स्टेट्स इन जम्मू-कश्मीर (आईएसजेके) से जुड़े हैं।

नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को गुरुवार रात बड़ी कामयाबी मिली। स्पेशल सेल ने लाल किले के पास स्थित जामा मस्जिद बस स्टॉप से दो आतंकी गिरफ्तार किए। दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक इनके पास से दो पिस्तौल, 10 कारतूस और चार मोबाइल फोन भी जब्त किए गए। बताया जा रहा है कि गिरफ्तार किए गए दोनों आतंकी कश्मीर के रहने वाले हैं। इनकी पहचान परवेज और जमशेद के रूप में हुई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार ये इस्लामिक स्टेट्स इन जम्मू-कश्मीर (आईएसजेके) से जुड़े हैं। गौरतलब है कि आईएसआईएस इसे अपना ही संगठन बताता है।

कोर्ट ने खारिज की आईपीएस अधिकारी संजीव भट्ट की पुलिस रिमांड, सीआइडी ने की थी मांग

यूपी से खरीदे गए थे हथियार

प्राप्त जानकारी के मुताबिक इन आतंकियों के पास से जो हथियार जब्त किए गए हैं वे उत्तर प्रदेश से खरीदे गए थे और कश्मीर ले जा जा रहे थे। स्पेशल सेल के मुताबिक इनका इस्तेमाल आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए किया जाना था। पुलिस को आतंकियों ने बताया कि उनका पहला लीडर उमर नजीर है और उसके बाद आदिल थोकर है। वे दोनों ही आदिल थोकर के आदेश का पालन कर रहे थे। दोनों आतंकियों को फिलहाल पांच दिनों की पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया है।

ये हैं दोनों गिरफ्तार आतंकी

डीजीपी एस.पी.वैद्य को आधी रात में हटाए जाने पर उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट कर उठाए सवाल

आशुतोष ने भाजपा पर बोला हमला, कहा- ब्राह्मणों का मोदी से जुड़ने के बाद से बुरे दिन शुरू हो गए

मुठभेड़ में मारा जा चुका है परवेज का भाई

पुलिस ने इन दोनों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है और इंटेलिजेंस एजेंसियां दोनों से पूछताछ कर रही हैं। साथ ही पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार आतंकी परवेज के भाई की मौत जनवरी में सुरक्षाबलों के साथ हुए एनकाउंटर में हो गई थी। परवेज पहले आतंकी संगठन हिज्बुल मुजाहिद्दीन का सदस्य था और बाद में उसने आइएसजेके जॉइन कर लिया था।

इंडोनेशिया में अजब कानून, अविवाहित जोड़े के एक टेबल पर बैठने पर लगी रोक

 

 

Ad Block is Banned