Civil Aviation Minister Hardeep Singh Puri बोले- 13 देशों के साथ उड़ानों के संचालन पर बातचीत जारी

  • भारत सरकार ( Indian Government ) अंतरराष्ट्रीय उड़ान ( International flights ) शुरू करने पर विचार कर रही है
  • Civil Aviation Minister Hardeep Singh Puri ने बताया कि International flights के लिए बातचीत जारी हैं

नई दिल्ली। एक ओर जहां देश में कोरोना वायरस मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है, वहीं भारत सरकार ( Indian Government ) अंतरराष्ट्रीय उड़ान शुरू करने पर विचार कर रही है। हालांकि अंतरराष्ट्रीय उड़ानों की यह शुरुआत अभी केवल 13 देशों के साथ ही शुरू हो पाएगी। नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ( Civil Aviation Minister Hardeep Singh Puri ) ने मंगलवार को जानकारी देते हुए बताया कि भारत अंतरराष्ट्रीय उड़ानों ( International flights ) के लिए द्विपक्षीय अस्थायी व्यवस्था ( Air bubble ) स्थापित करने के लिए बातचीत कर रहा है। जिन देशों से बात की जा रही है, उनमें जापान, ऑस्ट्रेलिया और सिंगापुर सहित 13 देश शामिल हैं। पुरी ने बताया कि इन देशों के साथ अगर एयर बबल जैसी कोई व्यवस्था शुरू होती है तो विमान कंपनियां कुछ प्रतिबंधों के साथ अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का संचालन कर सकती हैं। आपको बता दें कि भारत ने पिछले महीने से USA, UK, France, Germany, UAE, Qatar और Maldives के साथ कुछ समझौते किए हैं।

Former cricketer Chetan Chauhan के निधन से दुखी PM Modi, ट्विटर पर लिखा भावुक मैसेज

हरदीप सिंह पुरी ने ट्विटर के माध्यम से बताया कि अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के लिए द्विपक्षीय अस्थायी व्यवस्था (एयर बबल) जैसी व्यवस्था कायम करने के लिए हम अपने प्रयासों में आगे बढ़ रहे हैं। इसके तह 13 और देशों के साथ बातचीत की प्रक्रिया जारी है। नागरिक उड्डयन मंत्री ने कहा कि जिन देशों साथ बातचीत चल रही है, उनमें Australia, Italy, Japan, New Zealand, Nigeria, Bahrain, Israel, Kenya, Philippine, Russia, Singapore, South Korea और Thailand शामिल हैं। हरदीप पुरी ने कहा कि अपने सीमावर्ती देशों जैसे Sri Lanka, Bangladesh, Afghanistan, Nepal और Bhutan आदि के साथ इस संबंध में बातचीत का सिलसिला जारी है।

Shiv Sena के निशाने पर Modi government- आत्मनिर्भरता की दौड़ में रूस निकला आगे, हम प्रवचन देते रहे

BJP के निशाने पर 'दीदी'- Wesh Bengal में President Rule बिना Fair election संभव नहीं

नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ( Civil Aviation Minister Hardeep Singh Puri ) ने इससे पहले 16 अगस्त को कहा था कि भारत पूर्व शर्तो के तहत उड़ान सेवा की अनुमति देने की 'एयर बबल' व्यवस्था स्थापित करने के लिए कुछ देशों से बात कर रहा है। फिलहाल इनमें तीन देश शामिल हैं। आपको बता दें कि उड्डयन की भाषा में 'एयर बबल' यात्रा व्यवस्था दो देशों के बीच एक खास सुरक्षा और यात्रियों की यात्रा शर्तो के समुच्चय के तहत स्थापित की जाती है, जैसे हाई डिमांड, लीगल एंट्री और एक्जिट नियम और इन सेक्टरों पर संचालन की एयरलाइन की इच्छा।

Show More
Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned