Coronavirus : भारत ने बनाई स्वदेशी Antibody Test Kit, स्वास्थ्य मंत्री ने की घोषणा

  • भारत में पहली स्वदेशी एंटीबॉडी टेस्ट किट विकसित होने की जानकारी सामने आई
  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी ने IGG एलिसा टेस्ट किट को विकसित किया

नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस ( coronavirus in India ) के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। कोरोना संक्रमण ( Coronavirus ) का यह आलम तो तब है, जब देश में 17 मई तक लागू लॉकडाउन ( Lockdown ) का सख्ती के साथ पालन कराया जा रहा है।

वहीं, इस बीच भारत में पहली स्वदेशी एंटीबॉडी टेस्ट किट ( antibody test kit ) विकसित होने की जानकारी सामने आई है।

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी ( National Institute of Virology ) ने स्वदेशी तकनीक पर आईजीजी एलिसा टेस्ट किट को विकसित किया है।

भारत में यह कोरोना वायरस को रोकने में काफी सहायक सिद्ध हो सकती है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ( Union Health Minister Dr. Harsh Vardhan) ने खुद इसकी घोषणा की।

क्या 17 मई के बाद फिर बढ़ाया जाएगा लॉकडाउन? पीएम कल मुख्यमंत्रियों से करेंगे चर्चा

 

p.png

डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि यह किट कोरोना संक्रमण के संपर्क में आने वाली आबादी के अनुपात की निगरानी करने में अति महत्वपूर्ण साबित होगा।

गौरतलब है कि देश में कोरोना वायरस की चेकिंग के लिए चीन से मंगाई रेपिड टेस्ट किट के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। इसके पीछे वजह टेस्टिंग के दौरान इन किटों को ठीक नहीं पाया गया था।

पाकिस्तान के लिए भीख मांगते दिखे पूर्व क्रिकेटर जावेद मियांदाद, एटम बम बचाने की लगाई गुहार

 

हंदवाड़ा पर भारतीय 'जवाब' के डर से सहमा पाकिस्तान! सीमा पर बढ़ाई हवाई पैट्रोलिंग

आपको बता दें कि दो दिन पहले ही हैदराबाद बेस्ड एक कंपनी जेनोमिक्स बायोटेक ने सबसे सस्ता कोरोना टेस्ट किट विकसित करने का दावा किया था।

बताया जा रहा है कि इस किट के माध्यम से व्यक्ति घर पर ही अपना कोरोना टेस्ट कर सकता है। कंपनी इस किट की कीमत 50 से 100 रुपये बीच बताई थी।

इसके विपरीत चीन से आयात की गई रैपिड टेस्ट किट के दाम 400-600 रुपये थे।

 

Coronavirus in China What is Coronavirus? coronavirus
Show More
Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned