लॉकडाउन: DND पर लगा नया बोर्ड- इधर से सिर्फ डॉक्टर-मीडिया-एम्बुलेंस को जाने की इजाजत है

  • डीएनडी पर आम लोगों की आवाजाही दो दिन से बंद है
  • आपात सेवा सूची में शामिल हैं तीनों पेशे से जुड़े लोग
  • अब शासन—प्रशासन ने डीएनडी पर लगाया नया बोड

नई दिल्ली। देशभर में कोरोना वायरस ( coronavirus ) का कहर जारी है। कोरोना के मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए एक से बढ़कर एक कदम केंद्र और राज्य स्तर पर उठाए जा रहे हैं। राहत कार्यों को प्रभावी बनाने के लिए एक और कदम उठाया गया है। लॉकडाउन ( Lockdown ) के बाद जिस डीएनडी ( DND ) को आम लोगों की आवाजाही की लिए बंद कर दिया गया था उससे होकर गुजरने की इजाजत केवल मीडिया, एम्बुलेंस और डॉक्टरों को है।

इस बाबत डीएनडी पर एक बोर्ड भी लगाया गया है। बोर्ड पर साफ शब्दों में लिखा है। इस रोड से केवल मीडिया, डॉक्टर्स और एम्बुलेंस ( Media-Doctor-Ambulance ) को एंट्री की इजाजत है। शासन और प्रशासन के इस रुख से साफ है कि कोरोना को महामारी बनने से रोकने के लिए सरकार कोई भी कदम उठाने में नहीं हिचकेगी।

लॉकडाउन: एम्स के पूर्व डॉक्टर नरिंदर मेहरा का दावा, कोरोना से भारत में इसलिए नहीं बढ़ेगा डेथ

दरअसल, तीनों पेशे से जुड़े लोग जरूरी मुद्दों की सूची में आते हैं। कोरोना वायरस को लेकर देशभर में डॉक्टर अपनी जान लगाकर काम कर रहे हैं और मरीजों को ठीक करने में लगे हैं। वहीं मीडियाकर्मी भी 24 घंटे देश के लोगों तक सही जानकारी पहुंचाने में जुटे हैं।

कोरोना के खिलाफ अलर्ट मोड में केजरीवाल सरकार, थर्ड स्टेज के लिए बनाई 5 डॉक्टरों की टीम

आपको बता दें कि कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के लिए पीएम मोदी ( PM Modi ) ने 21 दिनों के लॉकडाउन का ऐलान मंगलवार को किया था। लॉकडाउन के नियमों से उन क्षेत्रों के लोगों को छूट दी जाएगी, जो कि जरूरत के चीज़ों से जुड़े हैं। हालांकि, वह भी सिर्फ काम के मसले से ही आ-जा सकते हैंं।

आवाजाही में इन लोगों को कोई दिक्कत न हो इस बात को सुनिश्चित करने के लिए दिल्ली सरकार ने ई-पास जारी करने की व्यवस्था शुरू की है। इसका इस्तेमाल सड़क पर सफर करते हुए किया जा सकता है। ये पास दिखाने पर पुलिस आपको नहीं रोकेगी ।

coronavirus Coronavirus Outbreak
Show More
Dhirendra Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned