मालेगांव ब्लास्ट केस: प्रज्ञा ठाकुर के रवैये से NIA कोर्ट नाराज, आज पेश होने का सख्‍त आदेश

मालेगांव ब्लास्ट केस: प्रज्ञा ठाकुर के रवैये से NIA कोर्ट नाराज, आज पेश होने का सख्‍त आदेश

Dhirendra Kumar Mishra | Publish: Jun, 07 2019 09:19:41 AM (IST) | Updated: Jun, 07 2019 11:31:13 AM (IST) इंडिया की अन्‍य खबरें

  • साध्‍वी प्रज्ञा ठाकुर पेट की बीमारी से पीड़ित हैं
  • प्रज्ञा ठाकुर सात दिन में दूसरी बार एनआईए कोर्ट में नहीं हुईं पेश
  • एनआईए ने शुक्रवार को कोर्ट में पेश होने का जारी किया सख्‍त आदेश

नई दिल्ली। चर्चित मालेगांव बम धमाके की मुख्‍य आरोपी और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर शुक्रवार को राष्‍ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) कोर्ट में सुबह 11 बजे पेश होंगी। उन्हें गुरुवार को पेश होना था लेकिन वह कोर्ट पहुंच नहीं सकीं। एक सप्‍ताह के अंदर यह दूसरा मौका है जब वह कोर्ट में पेश नहीं हुईं। अदालत में पेश नहीं होने की वजह तबीयत खराब होना बताया गया है। बता दें कि तबीयत खराब होने का बहाना बनाकर भले ही प्रज्ञा ठाकुर अदालत में पेश नहीं हुईं, लेकिन गुरुवार को एक सार्वजनिक कार्यक्रम में उन्‍हें देखा गया था।

आज राहुल गांधी जनता का आभार जताने वायनाड पहुंचेंगे, सभी विधानसभा क्षेत्रों का करेंगे

अदालत से मिली एक दिन की मोहलत

प्रज्ञा ठाकुर के वकील प्रशांत मागू ने एनआईए कोर्ट से कहा वह हाई ब्लड प्रेशर (एचबीपी) से परेशान हैं। इसलिए वह कहीं जाने-आने में असमर्थ हैं। हालांकि अदालत ने उन्हें एक दिन की मोहलत देते हुए शुक्रवार को पेश होने का निर्देश दिया था। ऐसा न करने पर अदालत ने सख्‍त रवैया अख्तियार करने के संकेत दिए हैं।

TDP नेता रामकृष्‍ण बाबू को आंध्र पुलिस बिना वारंट कर सकती है गिरफ्तार

पेट की बीमारी से पीड़ित हैं प्रज्ञा

प्रज्ञा ठाकुर की सहयोगी उपमा ने बताया था कि एक कार्यक्रम में शामिल होने के बाद वह उपचार के लिए अस्पताल लौट आएंगी। उपमा ने कहा था कि वह ठीक नहीं है। उन्हें उपचार के लिए गुरुवार की रात अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वह पेट की बीमारी से पीड़ित हैं। उन्हें इंजेक्शन से दवाइयां दी गईं। कार्यकर्ताओं के जोर के कारण उन्हें एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए सुबह अस्पताल से जाने दिया गया लेकिन इसके बाद वह उपचार के लिए अस्पताल वापस आ जाएंगी। फिलहाल उनकी तबीयत ठीक नहीं है।

पीएम मोदी के शपथ ग्रहण में शामिल न होना शरद पवार की बड़़ी भूल

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned