भारतीय श्रद्धालुओं के लिए करतारपुर कॉरीडोर खोलेगा पाकिस्तान, सिद्धू बोले- 'नतमस्तक'

भारतीय श्रद्धालुओं के लिए करतारपुर कॉरीडोर खोलेगा पाकिस्तान, सिद्धू बोले- 'नतमस्तक'

करतापुर साहिब सिखों का प्रमुख तीर्थ स्थल है और सिख समुदाय लंबे समय से यह मांग उठाता आ रहा है।

नई दिल्ली। इमरान खान के प्रधानमंत्री बनने के बाद पाकिस्तान सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। पाक सरकार ने करतारपुर कॉरीडोर खोलने की बात कही है। इसके बाद भारतीय बिना वीजा के ही करतापुर साहिब के दर्शन कर सकेंगे। वहीं, पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू ने पाक सरकार के इस फैसले का स्वागत किया है। उन्होंने इसके लिए पाक प्रधानमंत्री को भी धन्यवाद दिया है। आपको बता दें कि करतापुर साहिब सिखों का प्रमुख तीर्थ स्थल है और सिख समुदाय लंबे समय से यह मांग उठाता आ रहा है।

पश्चिम बंगाल: होटल के कमरे में फंदे से लटका मिला एक्ट्रेस पायल चक्रवर्ती शव, पुलिस ने शुरू की जांच

 

बिहार: शेल्टर होम दुष्कर्म मामले में पप्पू यादव का नीतीश पर निशाना, आरोपियों को बचा रही सरकार

पूर्व क्रिकेटर ने कहा कि पाक सरकार के इस कदम के लिए वह इमरान खान का नतमस्तक होकर धन्यवाद करते हैं। उन्होंने कहा कि इससे करोड़ों पंजाबियों का जीवन सफल हो गया है। सिद्धू ने यह भी कहा कि पाक सरकार का यह कदम उनके पाकिस्तान दौरे के बाद आया है। उन्होंने उम्मीद जताई है कि दोनों देशों के बीच जमी बर्फ अब जल्दी पिघल सकेगी। आपको बता दें कि पाक सरकार करतापुर कॉरीडॉर को सिखों के दसवें गुरु गुरुनानक की 550वीं जयंति पर खोलेगी।

गोवा सरकार पर मंडराया खतरा! कांग्रेस का दावा भाजपा के तीन विधायक उसके साथ

आपको बता दें कि करतारपुर में गुरु नानक देव ने अपने जीवन के 18 बरस गुजारे थे। यही नहीं भारत और पाकिस्तान के बीच करतारपुर से लेकर गुरदासपुर में स्थित डेरा बाबा नानक तक एक कॉरिडोर बनाए जाने का प्रस्ताव भी है। हालांकि यह प्रस्ताव एक अरसे से लटका पड़ा है। इस प्रस्तावित कॉरीडोर की लंबाई लगभग चार किलोमीटर है और इसको सिख श्रद्धालुओं को ध्यान में रखते हुए तैयार किया गया है। सिद्धू ने उस समय भी कहा था कि पाक सेना प्रमुख ने उनसे गुरुनानक साहब के 550वें प्रकाश दिवस पर करतारपुर साहब के दर्शनों के लिए श्रद्धालुओं को बिना रोक-टोक पथ प्रदान करने की बात कही थी।

Ad Block is Banned